Premature Ejaculation
Shutterstock/aodaodaodaod

शीघ्रपतन - कारण, प्रकार और इलाज

'मैं बहुत जल्दी स्खलित हो जाता हूं' यह बात लव मैटर्स के डिस्कशन बोर्ड (चर्चा मंच जहां हम पाठकों के सवालों का जवाब देते हैं) में पुरुषों द्वारा अक्सर कही जाती है। कुछ लोग हस्तमैथुन करते समय बहुत जल्दी स्खलित हो जाने की शिकायत करते हैं और कुछ सेक्स के दौरान। ऐसा क्यों होता है और आखिर इसका इलाज क्या है? इस आर्टिकल में आपके सभी सवालों के जवाब हैं!

अचानक स्खलन

रोहन अपनी गर्लफ्रेंड के साथ सेक्स कर रहा था कि वह अचानक स्खलित हो गया। इसके बाद सब कुछ वहीं खत्म हो गया और जैसा वो दोनों चाहते थे, उस तरह से चीजें आगे नहीं बढ़ पायी। इससे रोहन को बेहद शर्मिंदगी महसूस हुई। उसने झिझकते हुए कोई बहाना बनाया और डेट को जल्दी खत्म करके चला गया।

कुछ दिनों बाद फिर वही हुआ। वह पोर्न देख रहा था और बिना किसी उत्तेजना के ही उसे ऑर्गेज्म का एहसास हुआ। इससे पहले कि वह इस एहसास को समझ पाता, वह स्खलित हो गया। एक के बाद एक लगातार इन दो घटनाओं ने रोहन को सोचने पर मजबूर कर दिया कि कहीं वह शीघ्रपतन (Premature Ejaculation) से पीड़ित तो नहीं है। रोहन की उम्र कम है इसलिए वह इस बात को लेकर बेहद चिंतित हैं कि इसका उसके सेक्स लाइफ पर क्या प्रभाव पड़ेगा।

जाहिर है, यह किसी के लिए भी चिंता वाली बात हो सकती है। हालांकि, शीघ्रपतन (प्रीमैच्योर इजैकुलेशन) एक ऐसी समस्या है जिसके बारे में आप जितना तनाव लेगें, यह उतना ही बदतर होता जाएगा। इसलिए, रोहन और उसके जैसे अन्य लोगों की चिंताओं को कम करने के लिए, हमने शीघ्रपतन के संभावित कारणों और इलाज पर गहराई से विचार करने का फैसला किया।

शीघ्रपतन क्या है?

जैसा कि इस शब्द से पता चलता है, समय से पहले या आपके चाहने से पहले स्खलन हो जाना ही शीघ्रपतन (Premature Ejaculation) कहलाता है। इसके कारण, आपको लंबे समय तक उत्तेजित बने रहने या संतुष्टि मिलने तक सेक्स करने में कठिनाई होती है। हालांकि इस समस्या से सेहत को कोई नुकसान नहीं होता है, लेकिन इससे पीड़ित व्यक्ति काफी शर्मिंदगी और निराशा महसूस करता है।

शीघ्रपतन एक अच्छी सेक्स लाइफ जीने की आपकी क्षमता को प्रभावित कर सकता है, क्योंकि आपको सेक्स का पूरा मजा लेने और बिस्तर पर अपने पार्टनर को संतुष्ट करने के लिए हर रोज जूझना पड़ता है। नतीजतन, कुछ पुरुषों के लिए शीघ्रपतन के कारण अंतरंगता में समस्या पैदा हो सकती है और उनके रिश्तों पर खराब प्रभाव पड़ सकता है।

हालांकि, यह बहुत ही आम समस्या है लेकिन अधिकांश लोग इसे गंभीर समस्या मानते हैं।  लगभग 30 से 40% पुरुष किसी न किसी समय शीघ्रपतन की समस्या से ग्रसित होते हैं। अच्छी बात यह है कि इसका एक बार या लगातार कुछ बार से अधिक समय तक अनुभव करने का मतलब यह नहीं है कि आप इससे हमेशा के लिए पीड़ित हो गए हैं। शीघ्रपतन के इलाज और इसे नियंत्रित करने के कई तरीके हैं।

शीघ्रपतन के लक्षण क्या हैं?

समय से पहले स्खलित होना, बेशक शीघ्रपतन का सबसे स्पष्ट लक्षण है। लेकिन ऐसा बहुत से पुरुषों के साथ होता है, और वो भी एक से अधिक बार। क्या एक बार ऐसा होने का मतलब है कि आप शीघ्रपतन से जूझ रहे हैं? नहीं। यदि आप निम्न लक्षणों को महसूस करते हैं, तो आपको इलाज के लिए सोचना पड़ सकता है:

  • पेनिट्रेशन के एक मिनट पहले या उससे कम समय में स्खलित होना
  • स्खलन को देर तक रोके रखने में असक्षम 
  • इरेक्शन या उत्तेजना को लंबे समय तक बनाए रखने में परेशानी
  • लिंग को शारीरिक रुप से उत्तेजित किए बिना स्खलित होना

शीघ्रपतन दूसरे लक्षणों को भी जन्म दे सकता है जैसे:

  • संबंध बनाने या अंतरंगता में परेशानी
  • पार्टनर से संबंध में कमी 
  • मानसिक कष्ट और निराशा
  • चिंता
  • डिप्रेशन 

शीघ्रपतन के क्या कारण है?

शीघ्रपतन मनोवैज्ञानिक और शारीरिक कारणों से हो सकता है। युवा पुरुषों के अधिकांश मामलों में मनोवैज्ञानिक कारण ही मुख्य वजह होती है। शीघ्रपतन के कुछ सबसे आम मौजूदा कारणों में शामिल हैं:

  • फील गुड हार्मोन सेरोटोनिन का स्तर घटना
  • नए रिश्तों या नए पार्टनर के साथ पहली बार सेक्स के दौरान प्रदर्शन को लेकर चिंता 
  • अधिक कामोत्तेजना 
  • अपने खुद के यौन प्रदर्शन के बारे में काल्पनिक अपेक्षाएं
  • सेक्स का दबाव
  • रिश्ते की समस्या
  • बॉडी इमेज की समस्या
  • आत्मविश्वास की कमी
  • तनाव
  • पछतावा
  • मानसिक स्वास्थ्य समस्या जैसे चिंता या अवसाद
  • उम्र
  • प्रोस्टेट ग्रंथि का अस्वस्थ होना या सही ढंग से काम ना करना 
  • पेल्विक मांसपेशियां कमजोर होना
  • आनुवंशिक समस्या  

शीघ्रपतन कितने प्रकार का होता है?

हर व्यक्ति को शीघ्रपतन का अलग-अलग अनुभव होता है। कुछ लोग, अपनी या अपने पार्टनर की इच्छा से बहुत पहले यानी आमतौर पर हस्तमैथुन या सेक्स के दौरान लिंग उत्तेजित होने के एक या दो मिनट के भीतर ही स्खलित हो जाते हैं।

जबकि कुछ लोग पोर्न देखकर, पार्टनर के साथ कामुक बातें करके और चुंबन जैसे शारीरिक संपर्क से ही यौन रूप से उत्तेजित होकर स्खलित हो जाते हैं।

चिकित्सकीय रूप से, शीघ्रपतन दो प्रकार का होता  है:

  • प्राइमरी प्रीमैच्योर इजैकुलेशन (Primary premature ejaculation) : इस प्रकार के शीघ्रपतन से पीड़ित व्यक्ति को हमेशा इस समस्या का अनुभव होता है। यह बड़े पैमाने पर मनोवैज्ञानिक कारणों से होता है जैसे किसी दर्दनाक यौन अनुभव या बचपन में यौन दुर्व्यवहार के कारण 
  • सेकेंडरी प्रीमैच्योर इजैकुलेशन (Secondary premature ejaculation): यह समस्या अधिक उम्र होने पर पुरुषों में विकसित होती है। इसके मौजूदा कारक मनोवैज्ञानिक हो सकते हैं जैसे तनाव या रिश्ते में समस्या के साथ-साथ शारीरिक समस्या जैसे अधिक शराब का सेवन, पेल्विक फ्लोर मसल कमजोर होना या प्रोस्टेटाइटिस (प्रोस्टेट ग्रंथि की सूजन)

शीघ्रपतन की पहचान और जांच कैसे की जाती है? 

यदि शीघ्रपतन की समस्या आपके यौन जीवन को प्रभावित कर रही है, तो आपको डॉक्टर से परामर्श लेने की सलाह दी जाती है। यूरोलॉजिस्ट या सेक्सोलॉजिस्ट इसे सिर्फ़ तभी यौन समस्या मानते हैं जब आपको ये अनुभव हो रहे हो: 

 हल्की सी यौन उत्तेजना होने पर ही सेक्स के ठीक पहले या थोड़ी ही देर में और बिना आपकी मर्जी के स्खलन होना साथ ही यह समस्या लंबे समय से बरकरार हो या अक्सर हो रही हो।

आकलन करने के लिए, वे आपसे विस्तार से कई सारे प्रश्न पूछेंगे, आपकी पिछली  यौन समस्याओं को जानेंगे और एक शारीरिक परीक्षण करेंगे।

शीघ्रपतन का इलाज क्या है?

ज्यादातर मामलों में, शीघ्रपतन को बिना किसी इलाज के ठीक किया जा सकता है। आपका डॉक्टर आपकी सेक्सुअल रूटीन में कुछ बदलाव करने की सलाह दे सकता है जैसे कि सेक्स से कुछ समय पहले हस्तमैथुन करने से स्खलन में देरी या यौन संतुष्टि के लिए पेनिट्रेशन के अलावा अन्य चीजों का इस्तेमाल करना। यह आमतौर पर उस पैटर्न और इसके साथ होने वाले तनाव को तोड़ने के लिए किया जाता है।

हालांकि, यदि शीघ्रपतन बना रहता है और आपको मानसिक परेशानी हो रही है, तो आपको निम्न में से कोई भी इलाज कराने की सलाह दी जा सकती है:

थेरेपी

अगर आपके डॉक्टर आपको यह बताते है कि आपको यह समस्या मनोवैज्ञानिक कारणों से है तो आपको अकेले या अपने पार्टनर के साथ काउंसलिंग के लिए जाने की सलाह दी जा जाती है। इसके साथ ही आपको अपने पार्टनर के साथ सेक्स थेरेपिस्ट से मिलकर भी अपनी समस्याओं पर बात करने के लिए कहा जा सकता है।

व्यवहार संबंधी इलाज

शीघ्रपतन के इलाज के लिए यह एक अन्य सबसे सफल तरीका है। इसमें दो तरीके शामिल हैं:

  • स्टार्ट-एंड-स्टॉप विधि: इस विधि में, आप या आपका पार्टनर तब तक लिंग को उत्तेजित करेंगे, जब तक कि आपको यह महसूस न होने कि आर्गेज्म होने वाला है। जैसे ही आप उत्तेजना के उस चरम पर पहुंचने वाले हों ठीक तभी इसे 30 सेकंड के लिए रोक देना है ताकि वह संवेदना बिना स्खलन के खत्म हो सके। इसके बाद दोबारा से खुद को उत्तजित करें और फाइनल ऑर्गेज्म होने से पहले यह प्रक्रिया 3 से 4 बार दोहराएं।
  • स्क्वीज़ मेथड : स्क्वीज़ मेथड भी स्खलन में देरी के उसी सिद्धांत पर आधारित है। इसमें भी जैसे ही आपको लगे कि आप स्खलित होने वाले हैं ठीक उसी समय आप या आपका पार्टनर कोई भी लिंग के शीर्ष (head) को हल्के हाथों से दबाएंगे। फाइनल ऑर्गेज्म होने देने से पहले इस प्रक्रिया को कई बार दोहराएं।

पेल्विक फ्लोर एक्सरसाइज

यदि आपको स्खलन की समस्या बढ़ती उम्र या मांसपेशियों के कमजोर होने के कारण है, तो आपको अपनी ताकत और ऑर्गेज्म को रोकने की क्षमता को बनाए रखने के लिए कीगल जैसे पैल्विक फ्लोर एक्सरसाइज करने की सलाह दी जा सकती है।

चिकित्सकीय इलाज़

यदि इनमें से कोई भी इलाज का विकल्प काम नहीं करता है, तो आपका डॉक्टर समस्या का इलाज करने के लिए दवाएं लिख सकता है। कुछ एंटी-डिप्रेसेंट शीघ्रपतन को नियंत्रित करने में कारगर साबित हुए हैं। हालांकि, इनसे जी मिचलाने और सुस्ती जैसे साइड इफेक्ट हो सकते हैं। जब तक डॉक्टर इन दवाओं को लेने की सलाह नहीं देता है, तब तक इन्हें नहीं लेना चाहिए।

शीघ्रपतन की समस्या को ठीक करने के लिए डैपॉक्सेटिन (Dapoxetine) लेने की भी सलाह दी जा सकती है, यह और इसके जैसे कुछ अन्य दवाएं इरेक्टाइल डिसफंक्शन के इलाज के लिए इस्तेमाल की जाती हैं। हालांकि, बिना डॉक्टर की सलाह के इन दवाओं का इस्तेमाल न करें। इसके अलावा, एनेस्थेटिक क्रीम का इस्तेमाल भी इलाज का एक सामान्य कोर्स है।

कई मामलों में, शीघ्रपतन का इलाज कंडोम पहनने जितना आसान हो सकता है। कंडोम लिंग की संवेदनशीलता को कम कर सकता है और आपको लंबे समय तक बिस्तर पर टिके रहने में मदद कर सकता है।

भले ही यह आपको अस्थायी रूप से प्रभावित करे लेकिन शीघ्रपतन के साथ जीना आसान नहीं है। विशेषज्ञों से सही मदद लेना आपके मानसिक और यौन स्वास्थ्य को प्रभावित होने से रोकने लंबे समय तक मदद कर सकता है।

कोई सवाल? नीचे टिप्पणी करें या हमारे चर्चा मंच पर विशेषज्ञों से पूछें। हमारा फेसबुक पेज चेक करना ना भूलें। हम Instagram, YouTube  और Twitter पे भी हैं!

क्या आप इस जानकारी को उपयोगी पाते हैं?

Comments
नई टिप्पणी जोड़ें

Comment

  • अनुमति रखने वाले HTML टैगस: <a href hreflang>