Talking about sex
© Love Matters

लड़कों के लिए सुझाव

क्या आप सोच रहे हैं कि अपने साथइस इ किस तरह सेक्स के बारे में बातचीत करें? पेश हैं कुछ ख़ास टिप्स जो शायद आपके लिए मददगार साबित हो।

अपने व्यक्तित्व के अनुसार व्यवहार करें

अपने पर विश्वास रखें, ऐसा कुछ दिखाने का प्रयास न करें जो आपका वास्तविक व्यक्तित्व नहीं है।

बात करें और अपने साथी की बात सुनें

अपने साथी के प्रति संवेदनशील रहें, और उनकी इच्छा के बारे में सोचें। एक-दूसरे की भावनाओं के समझें। आप ऐसा भी कह सकते हैं, ‘चलो कुछ नया करें’। या आप पूछ सकते हैं, ‘आपको क्या पसंद है?’

 

कोई भी बात सावधानी से कहें

अपने साथी से कोई बात कहते समय, कहने के तरीके के बारे में अच्छी तरह सोच-विचार कर लें- उनकी भावनाओं को ठेस न पहुंचाएं।

 

सही स्थान का चयन करें

यदि आप सेक्स के बारे में बात करना चाहते हैं तो किसी ऐसे एकांत स्थान का चयन करें जहां कोई आस-पास मौज़ूद न हो।

 

अपनी इच्छा को समझें

इस बारे में अच्छी तरह सेाच-विचार कर लें कि आप क्या चाहते हैं और क्या नहीं। केवल इसलिए कि दूसरे आपके बारे में क्या सोचेंगे या ऐसा करने से आपका रुतबा बढे़गा, सेक्स न करें। यह तभी करें जब आपकी अपनी इच्छा हो।

 

अपने साथी के संकेतों को समझें

अपने साथी के बर्ताव, जैसे कि उनके द्वारा निकाली जाने वाली आवाज़ों, उनके द्वारा आपके हाथ को उनके शरीर के किसी खास स्थान पर ले जाने, उनकी आंखों में देखकर, उनके छूने के अंदाज़ से, उनकी सेक्स करने की इच्छा है कि नहीं, इसका पता लगा सकते हैं।

 

कभी-कभार लड़कियां स्पष्ट नहीं कह पाती हैं

लड़कियों द्वारा ‘देखते हैं’ कहने का मतलब अक्सर ‘नहीं’ होता है।

अपने व्यक्तित्व के अनुसार व्यवहार करें

अपने पर विश्वास रखें, ऐसा कुछ दिखाने का प्रयास न करें जो आपका वास्तविक व्यक्तित्व नहीं है।

बात करें और अपने साथी की बात सुनें

अपने साथी के प्रति संवेदनशील रहें, और उनकी इच्छा के बारे में सोचें। एक-दूसरे की भावनाओं के समझें। आप ऐसा भी कह सकते हैं, ‘चलो कुछ नया करें’। या आप पूछ सकते हैं, ‘आपको क्या पसंद है?’

 

कोई भी बात सावधानी से कहें

अपने साथी से कोई बात कहते समय, कहने के तरीके के बारे में अच्छी तरह सोच-विचार कर लें- उनकी भावनाओं को ठेस न पहुंचाएं।

 

सही स्थान का चयन करें

यदि आप सेक्स के बारे में बात करना चाहते हैं तो किसी ऐसे एकांत स्थान का चयन करें जहां कोई आस-पास मौज़ूद न हो।

 

अपनी इच्छा को समझें

इस बारे में अच्छी तरह सेाच-विचार कर लें कि आप क्या चाहते हैं और क्या नहीं। केवल इसलिए कि दूसरे आपके बारे में क्या सोचेंगे या ऐसा करने से आपका रुतबा बढे़गा, सेक्स न करें। यह तभी करें जब आपकी अपनी इच्छा हो।

 

अपने साथी के संकेतों को समझें

अपने साथी के बर्ताव, जैसे कि उनके द्वारा निकाली जाने वाली आवाज़ों, उनके द्वारा आपके हाथ को उनके शरीर के किसी खास स्थान पर ले जाने, उनकी आंखों में देखकर, उनके छूने के अंदाज़ से, उनकी सेक्स करने की इच्छा है कि नहीं, इसका पता लगा सकते हैं।

 

कभी-कभार लड़कियां स्पष्ट नहीं कह पाती हैं

लड़कियों द्वारा ‘देखते हैं’ कहने का मतलब अक्सर ‘नहीं’ होता है।

Comments
Add new comment

Comment

  • Allowed HTML tags: <a href hreflang>