selfish bf
Shutterstock/Chris Bourloton/Person in picture is a model

‘वो सिर्फ अपने बारे में सोचता है’

द्वारा Vinayana Khurana अक्टूबर 20, 03:05 बजे
जब आदित्य ने कनिका से पूरा दिन ऑनलाइन रहने के लिए और अपने लिए टाइम निकालने के लिए कहा तो कनिका को बहुत अच्छा लगा और स्पेशल फील हुआ। मगर कुछ ही दिनों बाद कनिका को ऐसा लगने लगा जैसे आदित्य उसको कंट्रोल कर रहा है।

21 साल कि कनिका दिल्ली में रहती है और एक स्टूडेंट है।

पहली नज़र का प्यार? 

मैंने सबसे पहले आदित्य को अपनी एक दोस्त की पार्टी में देखा था। मैंने अपनी दोस्त से आदित्य का इंट्रोड्यूस कराने के लिए बोला। आदित्य ने मुझे फेसबुक पर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी उसके बाद हमने रेगुलर तौर पर आपस में चैटिंग शुरू कर दी। इस दौरान मैं दिल्ली में थी, आदित्य मेरठ में था।

हमारी बात ज़्यादातर ऑनलाइन ही हुआ करती थी। मुझे उसकी बातें अच्छी लगती थीं। मैं रोज़  उससे बात करने का इंतज़ार करती। हम दोनों मूवीज या गानों के बारे में बात करते जो मुझे अच्छा लगता था। मैं अक्सर यही सोचती थी क्या ये पहली नज़र में होने वाला प्यार है? कुछ महीनों बाद, एक दिन जब हम दोनों वीडियो कॉल पर बात कर रहे थे, उसने मुझसे कहा, ‘मैं कुछ कहना चाहता हूँ’, मैंने बोला  ‘हाँ! ज़रूर।  

उसके बाद उसने वही तीन मैजिकल वर्ड्स बोले ‘आई लव यू’। मैं बहुत शॉकड हो गई। इस बात से मुझे अच्छा तो महसूस हुआ मगर मैं अपने आप में श्योर नहीं थी, कि क्या मेरी फीलिंग्स भी वही हैं उसके लिए या नहीं। मुझे लगा यह सब बहुत जल्दी में हुआ। मैंने उस बात को पॉजिटिव वे में लिया, क्योंकि मैं उसकी फीलिंग्स को हर्ट नहीं करना चाहती थी।

 मैंने अपनी सब से अच्छी दोस्त से यह सारी बातें बताईं की क्या-क्या हुआ। वैशाली ने बात सुनकर मुझसे बोला, ‘वो अभी से ऐसे कैसे बोल सकता है? अभी तो तुम दोनों एक डेट तक पर नहीं गए।’ मैंने बोला, ‘वैशाली! क्या पता ये पहली नज़र में होने वाला प्यार हो। ऐसा भी तो हो सकता है?’ मैं उसको इस बात के लिए कन्विंस करने लगी।

 अंतर मन की आवाज़ 

हम दोनों के बीच सब कुछ बहुत जल्दी में हो रहा था। इसके बारे में मैंने आदित्य से बात की। ‘आदित्य अभी तो हमको एक दूसरे को जानते हुए पूरे 3 महीने भी नहीं हुए’ -  इस बात को सुनते ही वो मुझ को डाँटने लगा और बोला मैं उस पर भरोसा क्यों नहीं कर पा रही।  

उसने ये भी कहा कि वह ऐसी लड़की के साथ नहीं रह सकता जो रिश्ते को लेकर कन्फ्यूज्ड हो। मैं अपनी बातों से उसको शांत करने की कोशिश करने लगी। मैंने उसको बोला कि मैं आज के बाद कभी ऐसा नहीं करूंगी। इसके लिए मैं सॉरी बोलती हूँ। आदित्य ने मेरी माफी क़ुबूल कर ली।

कुछ दिनों के बाद मेरी बुआ अपने न्यू बोर्न बेबी के साथ मेरे घर आईं। मेरी बुआ मुझे सबसे ज़्यादा पसंद हैं, वो मेरी फेवरेट हैं। उनसे बातें करना मुझे बहुत पसंद है। मैंने आदित्य को बोला, ‘मैं एक हफ़्ते के लिए अपनी बुआ के साथ बिज़ी रहूंगी।’ उसने मुझसे कहा अगर मैंने उसको मैसेज नहीं किया तो वो अपसेट हो जाएगा।

मैंने महसूस किया कि सच में वो मेरी परवाह करता है। मैंने बुआ और बच्चे के साथ रहते हुए भी उसको मैसेज करना जारी रखा। मुझे लगा मैं बुआ और बच्चे को पूरी अटेंशन नहीं दे पा रही हूँ, इस वजह से मैंने उसको मैसेज करना बंद कर दिया। इसके बाद वो मुझे ताने मारने लगा। बोलने लगा तुम मुझे टाइम तक नहीं दे पा रही हो। यह सुनने के बाद मुझे गिल्टी महसूस हुआ।  

कई बार माफी माँगने के बाद, आखिरकार वो मान गया, और मुझसे दोबारा बात करने के लिए राजी हो गया - एक शर्त पर की मैं उसके साथ डेट पर चलूंगी। मैं वीकेंड के लिए मान गई।

कंट्रोल या केअर?

मैंने वीकेंड के लिए बोल तो दिया था हालांकि मैं भूल गई थी कि उस दिन वैशाली का बर्थडे है। मैंने आदित्य से डेट पर जाने के लिए अगले वीकेंड के लिए बोला। वो बहुत गुस्सा हो गया और मुझे वैशाली के बर्थडे पर जाने के लिए मना करने लगा। अब, यह मेरी बेस्ट फ्रेंड का बर्थडे था। वैशाली का!  वहाँ मैं कैसे नहीं जाती?

मैं उसकी बर्थडे पार्टी में गई मगर मैंने आदित्य को नहीं बताया। मगर फेसबुक पर उसने मेरी बर्थडे वाली फ़ोटो देख लीं। इसके बाद आदित्य और ज़्यादा गुस्सा हो गया और बोला कि मैं उसका टाइम बर्बाद कर रही हूँ। इस बात ने मुझे हर्ट किया।

हम दोनों के बीच बहस हुई और फिर लड़ाई। मैंने बात करनी छोड़ दी। मगर वह मुझे रेगुलर मैसेज करता रहा। मुझे माफी मांगने के लिए फोर्स करने लगा। मैंने उसके किसी भी मैसेज का जवाब नहीं दिया और न ही कॉल पिक की। क्या मैं गलत थी? शायद आदित्य सच में मेरी केअर करता था। वो मेरे लिए पोसेसिव होगा। मैं अभी भी इस बात के लिए कन्फ्यूज्ड थी।

मैं इन सब बातों से थक चुकी थी। मैं रात को बिना फोन देखे ही सो गई। मैंने उसको अगले दो दिन तक कोई मैसेज नहीं किया। आदित्य को पता लग चुका था कि मैं अब उसमें और इंटरेस्टेड नहीं हूँ। वो लगातार मुझे पिंग करने लगा और पूछने लगा कि अगर मैं सच में उससे दूर होना चाहती हूँ तो मैं उसको क्लियर बोल दूं। मैंने उसको बोला अभी मैं बहुत हर्ट हूँ अभी मुझे थोड़ा टाइम दो।

‘ओह! बस तुम ही हर्ट हुई और मैं नहीं?’

यह मेरी और उसकी आखिरी बार बात थी। उसके बाद मैंने उसको अपनी ज़िंदगी से ही ब्लॉक कर दिया। वो बस अपना सोचने वाला और कंट्रोल करने वाला इंसान था। एक बॉय फ्रेंड नहीं।

क्या आप इस जानकारी को उपयोगी पाते हैं?

Comments
नई टिप्पणी जोड़ें

Comment

  • अनुमति रखने वाले HTML टैगस: <a href hreflang>