valentines day for people with disability
Shutterstock/Cheeku digital

मुझे लगा वह मुझे प्यार करता है लेकिन...

द्वारा Vinayana Khurana फरवरी 14, 02:36 बजे
देविका कविता लिखती थी और आदित्य संगीतकार था। जब दोनों मिले तो ऐसा लगा की ये जोड़ी ऊपर से ही तय होकर आयी है, पर सिर्फ तब तक जब देविका ने आदित्य की अपने दोस्त से बातचीत सुनी। देविका ने अपनी कहानी राइजिंग फ्लेम से साझा की।

25 साल की देविका दिल्ली विश्वविद्यालय से पोस्ट ग्रैजुएट है और उसे कविता लिखना पसंद हैं।

वह दूसरों से अलग था 

मुझे वह दिन बहुत अच्छी तरह याद है। मैंने अपनी पसंदीदा पर्पल ड्रेस पहन रखी थी और अपनी लोकैलिटी के पार्क में व्हीलचेयर पर बैठी घूम रही थी। मेरे कानों में इयरफोन लगा हुआ था और मैं अपने प्रिय गाने सुन रही थी। 

आसपास से गुज़रते लोग मेरी व्हील चेयर को देखकर मुझे सहानुभूति की नज़र से देख रहे थे। मुझे लगा कि मुझे ही पहल कर उनसे बात करने की कोशिश करनी चाहिए। 

मैंने कुछ लड़कों से पूछा कि वे क्या करते हैं और उनसे बातें करना शुरू कर दिया। तभी मैंने ध्यान दिया कि सफ़ेद शर्ट पहने लड़का मुझे बहुत ही संजीदगी से देख रहा है। उसने अपना नाम आदित्य बताया और कहा कि वह संगीतकार है। 

वह सच में मुझमें रुचि लेता हुआ महसूस हो रहा था इसलिए बात आगे बढ़ाने के लिए मैंने उसे बताया कि मैं भी कविता लिखती हूँ। इस तरह हमारी बातें शुरू हुई। आदित्य मेरी कविता को संगीत देना चाहता था। मैं बहुत खुश और उत्साहित थी। 

वे शामें 

हमारी शामें साथ बीतने लगीं। एक दिन साथ घूमते हुए हमने एक दूसरे को अपना नंबर भी दिया। हर दिन आदित्य मुझे मैसेज करता और हम मिलते। मेरे दिल में उसके लिए कोमल भावनाएं आने लगीं थीं। हम कविता और संगीत की बातें करते थे। मुझे उससे मिलना अच्छा लगने लगता था। 

हम बहुत सारा समय साथ बिताने लगे। हम या तो साथ घूम रहे होते या फिर एक दूसरे को मैसेज कर रहे होते। मैं बहुत खुश थी कि मुझे इतना अच्छा दोस्त मिला है। 

कुछ ही दिन वह मेरा बहुत ही खास हो गया। वह मेरी ज़िंदगी का एक मजबूत सहारा बन गया था और उससे मैं अपना हर दुख सुख बांटने लगी थी। वह मुझे ज़िंदगी से लड़ना सिखा रहा था। वह कहता कि जब भी मुझे उसकी ज़रूरत होगी, वह मेरे लिए मौजूद होगा। 

कविता में दिल 

हर मुलाकात के साथ मुझे उसे और जानने का मौका मिल रहा था - जैसे उसे कार चलाना कितना पसंद है और वह अपने परिवार को कितना पसंद करता है। मुझे उसका खुद को अपनी खास मुस्कान के साथ प्यार से निहारना बहुत प्यारा लगता। मुझे उसके बारे में छोटी छोटी प्यारी बातें जानने को मिल रही थी और हर बीते दिन के साथ उसके लिए मेरी भावनाएं मजबूत होती जा रही थी। मुझे पता था कि मुझे आदित्य से प्यार होता जा रहा है और हाँ, यह मैं उसे बताना भी चाहती थी। 

मैंने फैसला लिया कि मैं एक कविता लिखूँगी और आदित्य से बताऊँगी कि मैं उसे कितना प्यार करती हूँ। मैंने रात दिन जग कर अपनी सबसे खूबसूरत कविता लिखी। मुझे पूरा विश्वास था कि  मैं जो उससे कहना चाहती थी, मेरे ये शब्द उससे वह सब कह देंगे। 

मैंने उस कविता को एक लिफ़ाफ़े में रखा और अपनी व्हीलचेयर पर बैठकर हमेशा की तरह आदित्य से मिलने पार्क में गई। मैं उसे बाहर ही देखकर बहुत खुश हो गई थी। मुझे लगा कि यह सुनहरा अवसर है जब मैं उसे अपने दिल की बात बताऊँ। 

बस एक परिचित 

जैसे ही मैं उसके करीब पहुंची मैंने देखा कि वह अपने किसी दोस्त से बातें कर रहा है। उसका दोस्त मेरे बारे में ही उससे पूछ रहा था। आदित्य ने उसे जो जबाव दिया, वह सुनकर मैं आश्चर्यचकित और सदमे में आ गई। मेरा दिल टूट गया। उसने कहा कि मैं बस एक परिचित हूँ उसके लिए और वह सहानुभूति के कारण मुझसे बातें करता है। 

मेरा दिल टूट गया था.. लेकिन मैंने खुद को संभाला और अपना व्हीलचेयर चलाते हुए आदित्य के सामने से गुज़र गई और फिर कभी पीछे पलट कर नहीं देखा। 

यह उस कविता की चंद पंक्तियाँ हैं जो मैंने उसके लिए लिखी थी – 

हम जुड़े हुए थे एक अनोखे बंधन में 
वह मेरी कविता में था
और मैं उसके संगीत में 
दो अजनबी 
साथ मिलकर एक जान हो गए थे जैसे  
लेकिन कई बार 
सबसे खूबसूरत होता है 
कुछ छूट जाना अधूरा  
कई बार
हमेशा के लिए कुछ मिल जाना 
उसे खो देना होता है ।   

नाम बदल दिए गए हैं और तस्वीर में मौजूद व्यक्ति एक मॉडल है।

लव मैटर्स, राइजिंग फ्लेम के सहयोग से प्रेम, अंतरंगता, रिश्तों और विकलांगता पर निबंधों की एक श्रृंखला प्रस्तुत करता है। दिल विल प्यार व्यार विकलांग महिलाओं की आवाज़ को बढ़ाने का एक प्रयास है; प्रेम पर आख्यान जो शायद ही कभी रोमांस पर मुख्यधारा की चर्चा में देखा जाता है। 14 फरवरी से, हम विकलांग महिलाओं द्वारा लिखी गई कई कृतियों को जारी करेंगे, जिससे हमें उनके जीवन में झांकने का मौका मिलेगा।

Do you have a story in Hindi (Hindi kahani) to share? For any story in Hindi, please write to us below in the comment section. For more stories in Hindi (Hindi Kahaniya), click here

क्या आप इस जानकारी को उपयोगी पाते हैं?

Comments
नई टिप्पणी जोड़ें

Comment

  • अनुमति रखने वाले HTML टैगस: <a href hreflang>