Sex life
Shutterstock/Iakov Filimonov

यौन जीवन

अक्षमता के बावजूद हर कोई एक बढ़िया यौन जीवन का आनंद ले सकता है। यौन संबंध संभोग से कहीं बढ़ कर है। उदाहरण के लिए, यदि आप साइबरसेक्स कर रहें है, तो आपको बस अपनी कल्पना और फोन या कंप्यूटर की आवश्यकता है।

विकलांगता और कामुकता

यौन और कामुकता को विकलांग लोगों के लिए अहम नहीं माना जाता है। सेवा और सहायक देने वाले लोग, और यहां तक कि दोस्त और परिवार के लोग भी विकलांगता की दूसरी सामान्य चुनौतियों पर ध्यान देते हैं और मानते हैं कि विकलांग लोगों के लिए सेक्स ज़रूरी नहीं है।

लेकिन सेक्स हर किसी की पूरी तंदुरुस्ती और सेहत का एक अहम हिस्सा है; चाहे कोई विकलांग हो या नहीं हो। किसी को भी यह नहीं मानना चाहिए कि एक विकलांग इंसान अलैंगिक है, या सेक्स नहीं करता है। किसी को भी ऐसे लोगों से प्यार और यौन के बारे में पूछने से डरना नहीं चाहिए।

विकलांग लोग समलैंगिक भी हो सकते हैं, या दोनो लिंगों की तरफ जिनका यौन के लिए रूझान होता है, वैसे भी हो सकते हैं। और अगर किसी का सेक्स में बहुत कम या कोई दिलचस्पी नहीं है, तो भी कोई बात नहीं - लेकिन ऐसा ही होना एकमात्र तरीका कतई नहीं है।

यौन का मतलब बात करना है: अपनी पसंद के बारे में बताना, अपने साथी की पसंद को जानना, और इसे पता करने के तरीके ढूंढना। हो सकता है कि आपके शरीर के कुछ अंग ज़यादा नाज़ुक हों, या किसी हिस्से में लचीलापन कम हो या मांस पेशियों में अकड़ हो - आपका शरीर जैसा भी है, इसे समझने की कोशिश और नए एहसासों की खोज करने से आप और आपके साथी को एक अद्भुत अनुभव हो सकता है।

बातचीत और रचनात्मकता

यौन संबंध तब तक ना बनाएं जब तक कि आप तय न कर लें कि आप इसके लिए तैयार हैं। अगर आपको संदेह है, तो इसके लिए मना करना ठीक है। अगर आप इसके बारे में बात नहीं करना चाहते तो किसी को भी आपको ऐसा करने के लिए मजबूर नहीं करने दें। अच्छी बातचीत और एक भरोसेमंद साथी एक अच्छा (पहला) यौन अनुभव पाने की कुंजी हैं।

आपकी विकलांगता आपके शारीरिक कार्यों को प्रभावित कर सकती है, इसलिए आपको यौन करने के लिए जो खिलौने बनते हैं, उनका इस्तेमाल करना पड़ सकता है या उन तरीकों को ढूंढना पड़ सकता है जो आपके यौन कार्यों के लिए कारगर हों। संभोग करना ज़्यादा चुनौती की तरह हो सकता है, लेकिन यह आपको और यौन के और रचनात्मक तरीके ढूंढने के लिए भी प्रेरित कर सकता है! याद रखें कि यौन संबंध बनाने के कई तरीके हैं और आपके और आपके साथी के लिए क्या सही है, यह ढूंढने में कुछ समय लग सकता है।

आपकी विकलांगता के कारण, आपको पेशाब की थैली या अंतड़ी पर काब़ू रखने में समस्या हो सकती है। अगर आपको डर है कि यह आपके यौन जीवन को प्रभावित करेगा या साथी के साथ यौन संबंध के दौरान आपको इसकी वजह से शर्मिंदगी हो सकती है, तो इस बारे में पहले बात कर लें और देखें कि आप दोनो इससे कैसे निपट सकते हैं।

अगर कुछ ऐसा-वैसा हो भी जाए, तो उस बात पर हंस दें। बिस्तर में कुछ गड़बड़ी से निपटने के लिए हंसी सबसे अच्छी दवा है।

बात करना और रचनात्मकता ज़रूरी हैं। अपने साथी से बात करें; आप दोनों को यौन जीवन को परखने के लिए तैयार होने की जरूरत है। इसका मतलब यह है कि आप अपने साथी के साथ उन चीज़ों के बारे में, जिनसे थोड़ा शर्मनाक महसूस हो सकता है, बात करने में सहज महसूस करें। सही पल का इंतज़ार करें, जब आप दोनों तनाव मुक्त महसूस कर रहे हों, और कुछ नया करने का सुझाव दें। आपको देख कर हैरानी होगी है कि इन सब के बारे में बात करने से भी आपमें कामुकता जाग सकती है!

हर इंसान अलग होता है। अगर आपको अपनी पसंद के यौन संबंध रखने का कोई तरीका ढूंढने में परेशानी हो रही है, तो डाक्टर या चिकित्सक, या दूसरे विकलांग लोगों के साथ अपने विकल्पों पर चर्चा करने के बारे में सोचें।

तथ्य और पूछे जाने वाले प्रश्न

क्या विकलांग लोगों के पास चिंता करने के लिए और ज़्यादा अहम चीजें नहीं हैं?

प्यार और यौन विकलांग लोगों के लिए उतना ही अहम है जितना कि बाकी सब के लिए है। अगर आप विकलांग हैं, तो आपको कई दूसरी चुनौतियों का भी सामना करना पड़ सकता है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आपके संबंध और अच्छे यौन जीवन आपके लिए महत्व नहीं रखते।

क्या विकलांग लोग केवल विकलांग लोगों के साथ हीं यौन संबंध बना सकते हैं?

नहीं। कई विकलांग लोग के ऐसे साथी हैं जो विकलांग नहीं हैं। विकलांगता किसी व्यक्ति की पहचान का सिर्फ एक हिस्सा है, जैसे उनकी लंबाई या उनकी आंखों का रंग बस एक पहचान होती है। विकलांगता यह नहीं तय करता कि वे लोग किससे आकर्षित होते हैं।

सेक्स अपने आप होना चाहिए! तो विकलांग लोग 'असलीसेक्स कैसे कर सकते हैं?

सेक्स अक्सर फिल्मों में सहज दिखता है, लेकिन असल ज़िन्दगी में बेशक ऐसा नहीं होना चाहिए। चाहे आप विकलांग हैं या नहीं, यह मुमकिन नहीं है कि हर बार सेक्स बस अपने आप हो जाए। यौन संबंध बनाने की योजना से इसका रोमांच कमता नहीं है – बल्कि पहले से इस बारे में सोच विचार करने से यौन संबंध और भी कामुक बनाया जा सकता है!

एक विकलांग व्यक्ति यौन और काम-वासना के बारे में दूसरों से कैसे बात कर सकता है?

परिवार के सदस्य, किसी मित्र, देखभाल करने वाले लोगों, या स्वास्थ्य प्रदाता के साथ यौन के बारे में बातचीत शुरू करने के लिए बहुत हिम्मत चाहिए। किसी ऐसे इंसान से बात करें जिस पर आप भरोसा करते हैं, और जो आपको लगता है कि आपकी चिंताओं को समझेंगे, उन पर बिना कोई सवाल उठाए। उस विषय पर धीरे-धीरे बात शुरू करें ताकि खुलकर बात करना आसान हो जाए। उन्हें बताएं कि आपके यौन और कामुकता के बारे में कुछ सवाल हैं, और पूछें कि क्या उन्हें आपकी मदद करने में कोई परेशानी तो नहीं। उनकी प्रतिक्रिया से आपको पता चल पाएगा कि आप अपने सवाल पूछ सकते हैं या नहीं।

मैं एक विकलांग इंसान को उसकी कामुकता ज़ीहिर करने में कैसे मदद कर सकता हूं?

अगर आप किसी विकलांग इंसान को जानते हैं, तो याद रखें कि हर किसी की तरह भी वे एक कामुक इंसान हैं। इसके बारे में उनसे बात करें। आप अपने यौन जीवन के बारे में बात कर के शुरूआत कर सकते हैं, और अगर वे आपसे आपके बारे में बात कर के सहज महसूस करते हैं तो उनसे पूछें कि वे सेक्स के बारे में कैसा महसूस करते हैं।

क्या विकलांग लोगों को यौन संक्रामक रोग हो सकता है?

हाँ। चाहे आप विकलांग हैं या नहीं, कंडोम का इस्तेमाल करना हमेशा अच्छा विचार है।

क्या एक विकलांगता महिला गर्भवती हो सकती है?

हाँ। जब तक कोई ख़ास डाक्टरी कारण न हो, इस बात में कोई शक नहीं है कि एक विकलांग महिला गर्भवती नहीं हो सकती या बच्चे को नहीं जन्म दे सकती।

क्या विकलांग लोग इंटरनेट डेटिंग साइटों में शामिल हो सकते हैं?

हाँ। अपनी प्रोफ़ाइल में अपनी विकलांगता के बारे में ईमानदारी से ज़िक्र करें - किसी ऐसे इंसान होने का नाटक न करें जो आप नहीं हैं। विकलांग लोगों के लिए ख़ास डेटिंग साइटें भी हैं।

क्या आप इस जानकारी को उपयोगी पाते हैं?

Comments
Rajni bête isme koi doubt nahin ki Partner aisa hi hona chahiye jo feeling samajh sake, support kare aur pyar kare. Waise hee aise log milna mushkil ho gaya hai - aur isme bhi koi doubt nahin ki "handicapped" ya disable logon ke liye yeh aur bhi mushkil hai. Please be patient - hum kisi nayee samsya mein nahin padna chahengey - hai na? To is kism ke person jo saaf saache aur mazedar ho - un par hee bharosa karna behtar hai, chahe hum koi bhi hon. All the best! https://lovematters.in/hi/sexual-diversity/sex-disability/asserting-yourself Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain to hamare discussion board “Just Poocho” mein zaroor shamil ho! https://lovematters.in/en/forum
नई टिप्पणी जोड़ें

Comment

  • अनुमति रखने वाले HTML टैगस: <a href hreflang>