Blackmail in relationships: Top facts
Shutterstock/Antonio Guillem

रिश्तों में ब्लैकमेल से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण तथ्य 

द्वारा Akshita Nagpal जुलाई 4, 04:56 बजे
किसी के प्यार में होना एक अद्भुत एहसास - लेकिन हर किसी के लिए ऐसा हो, ज़रूरी नहीं। रिश्तों में कभी-कभी कड़वाहट आ ही जाती है और फिर दुर्व्यवहार शुरू हो जाता है। ब्लैकमेलिंग भी ऐसा ही एक दुर्व्यवहार है। लव मैटर्स इंडिया यहां ब्लैकमेल और इससे निपटने के तरीके को समझने में आपकी मदद कर रहा है।

ब्लैकमेल क्या है?
 

शब्दकोश में ब्लैकमेल का अर्थ है-लोगों से जबरदस्ती धन हासिल करना या उनका राज़ बताने की धमकी देकर कोई काम कराने के लिए मजबूर करना या उन्हें नुकसान पहुंचाना।

यदि अंतरंग संबंधों की बात करें तो इसमें ब्लैकमेलर अपने पार्टनर को या फिर ख़ुद को नुकसान पहुंचाने की धमकी देता है। वास्तव में ब्लैकमेलर अच्छी तरह से जानता है कि इससे उसका पार्टनर डर जाएगा और फिर उसके ऊपर दबाव डालकर जो उसका मन करे वो किया जा सकता है।

ब्लैकमेल के रूप 

रिश्तों में ब्लैकमेल के कई रूप हो सकते हैं: भावनात्मक, शारीरिक, यौन या आर्थिक। भावनात्मक लगाव और निर्भरता किसी भी रिश्ते में ब्लैकमेल का मुख्य आधार होता है।

भावनात्मक ब्लैकमेल

भावनात्मक ब्लैकमेल में ब्लैकमेलर अपने मनचाहे नियम एवं शर्तों के अनुसार अपने पार्टनर को कुछ करने या देने के लिए मजबूर करता है।

रीना और सचिन एक दूसरे को एक साल से डेट कर रहे हैं। उनका रिश्ता दिनोंदिन आगे बढ़ रहा है और रीना चाहती है कि वह सचिन के सभी दोस्तों से भी मिले ताकि वह उसके जीवन की व्यक्तिगत चीज़ों का हिस्सा बन सके। लेकिन सचिन रीना पर दबाव बनाता है कि वह ख़ुद को थोड़ा बदल ले और अपने कपड़े पहनने का ढंग सुधार ले तभी वह अपने दोस्तों से मिलवाएगा।

यह भावनात्मक ब्लैकमेल का एक रूप है। अपनी बातों को मनवाना और वैसा ही करने के लिए मजबूर करना भी भावनात्मक ब्लैकमेलिंग का ही एक रूप हैं।

मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूं, मैं एक मिनट के लिए भी तुमसे दूर नहीं रह सकता। इसलिए, प्लीज अपने मम्मी पापा के घर मत जाओ।

ऐसे अधिकतर मामलों में इस तरह की बातें भावनात्मक शोषण का संकेत हो सकती हैं। यदि आप या आपका पार्टनर बार-बार ऐसा कहे, तो आपको इस पर विचार करना चाहिए।

शारीरिक ब्लैकमेल

शारीरिक ब्लैकमेल में ब्लैकमेलर पार्टनर को या खुद को नुकसान पहुंचाने का डर पैदा करता है। शारीरिक रुप से नुकसान पहुंचाने की धमकी में इतना बल इसलिए होता है क्योंकि ब्लैकमेल होने वाला पार्टनर अपने रिश्तों को लेकर डरता है।

शिखा और समर शादीशुदा कपल हैं और उन दोनों के बीच अक्सर बहस होती रहती है। एक दिन दोनों के बीच विवाद इतना बढ़ गया कि समर ने चाकू उठा लिया और शिखा को धमकी देने लगा कि अगर उसने आगे बात बढ़ायी तो वह ख़ुद को चाकू मार लेगा। शिखा अपने पति की सुरक्षा को लेकर डर गई और उसने उस मुद्दे को वहीं ख़त्म कर दिया।

यह शारीरिक ब्लैकमेल का संकेत है। यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि समर ने जिस बात के लिए शिखा को धमकाया था शायद वह वैसा नहीं करता। लेकिन ब्लैकमेलर ने अपने पार्टनर के अंदर डर पैदा करने के लिए इसका सहारा लिया।

उपरोक्त उदाहरण में, समर ने अपने शरीर पर सिर्फ़ चाकू रखा था जिससे वह अपने पार्टनर को धमकी दे सके कि वह सच में वही करने जा रहा है जो वह कह रहा है।

यौन (सेक्सुअल) ब्लैकमेल
 

यौन ब्लैकमेल में पार्टनर के तस्वीरों या यौन जानकारी को सार्वजनिक करने की धमकी देकर उसे यौन क्रिया करने के लिए मजबूर किया जाता है। वर्तमान समय के डिजिटल युग में यौन ब्लैकमेल में सेक्स्टॉर्शन भी शामिल है, इसका मतलब है कि ब्लैकमेलर व्यक्ति को पहले वेब कैमरे के सामने यौन क्रिया करने के लिए विवश करता है और चुपके से उसका वीडियो रिकॉर्ड कर लेता है और फिर उस वीडियो का उपयोग वह व्यक्ति को ब्लैकमेल करने के लिए करता है।

करन और पूजा एक दूसरे को एक साल से डेट कर रहे थे। करन को पता था कि पूजा उससे कितना प्यार करती है। वह पूजा से अपना प्यार साबित करने के लिए अपनी नंगी तस्वीरें भेजने के लिए कहता है। यदि वह तस्वीरें नहीं भेजती तो वो कहता कि वो उससे ब्रेकअप कर लेगा। ना चाहते हुए भी पूजा अपनी नंगी तस्वीरें करन को भेजती है। अब करन पूजा के साथ हमेशा वीडियो चैट करना चाहता है। वह उसे अपने कपड़े उतारने के लिए कहता है और धमकी देता है कि यदि उसने उसकी बात नहीं मानी तो वह उसकी नंगी तस्वीरें सबको दिखा देगा।

यह यौन ब्लैकमेल का उदाहरण है, जिसमें ब्लैकमेलर (इस मामले में करण) अपने पार्टनर को धमकी देता है कि वह उन सभी जानकारियों, संदेशों, तस्वीरों को उसके सामाजिक, पेशेवर और घर के लोगों को भेज देगा या उन ज़गहों पर भेज देगा जहां इन चीज़ों की वजह से उसके पार्टनर को प्रताड़ित और नुकसान पहुंचाया जाए।

उसके बारे में सबको बताने की धमकी देकर करन चाहता है कि पूजा उसके साथ सेक्स करे चाहे उसकी सहमति हो या ना हो।

आर्थिक ब्लैकमेल

आर्थिक ब्लैकमेल में ब्लैकमेलर अपने पार्टनर के आर्थिक संसाधनों का लाभ उठाकर उसे डराता है या उसकी आर्थिक निर्भरता का शोषण करता है और अपने पार्टनर को जैसा वह चाहता है वैसा ही करने के लिए मजबूर करता है।

लता एक कामकाजी महिला है लेकिन उसकी आय पर उसके पति जितेन का नियंत्रण है। जितेन के पास लता का डेबिट कार्ड और एटीएम पिन भी है। वह उससे पूछे बिना एक पैसा भी ख़र्च नहीं कर सकती जबकि जितेन जितना चाहे उतना ख़र्च करता है। वह लता को धमकी देता है कि यदि उसने उससे पूछे बिना पैसे ख़र्च किए तो वह उसे नौकरी नहीं करने देगा।

यह वित्तीय ब्लैकमेल है। ऐसे मामलों में एक पार्टनर ब्लैकमेलिंग पार्टनर पर आर्थिक रूप से निर्भर रहता है, वह धमकी देकर उसे ब्लैकमेल कर सकता है या वास्तव में जब तक उसकी मांग पूरी नहीं होती है तब तक वह आर्थिक सहायता को पर अपना नियंत्रण रखता है।

रिश्तों में ब्लैकमेल से निपटने के तरीके के बारे में और जानने के लिए यहां पढ़ें।

*गोपनीयता बनाये रखने के लिए नाम बदल दिए गये हैं और तस्वीर में मॉडल का इस्तेमाल किया गया है।

क्या आप भी कभी ब्लैकमेलिंग के शिकार हुए हैं? आपने इसके ख़िलाफ़ क्या कदम उठाये ? हमारे फेसबुक पेज पर लव मैटर्स (एलएम) के साथ उसे साझा करें या हमारे चर्चा मंच पर एलएम विशेषज्ञों से पूछें।


 

क्या आप इस जानकारी को उपयोगी पाते हैं?

Comments
नई टिप्पणी जोड़ें

Comment

  • अनुमति रखने वाले HTML टैगस: <a href hreflang>