मेरी कहानी

यहाँ लव मैटर्स के पाठक अपने अनुभव लोगों से साझा करते हैं - दिल टूटने से लेकर एक नया रिश्ता जुड़ने तकI अपनी कहानियों को बेझिझक हमसे साझा करेंI 

Do you have a love story or a story in Hindi (Hindi kahani) to share? For any story in Hindi, please write to us below in the comment section. For more stories in Hindi (Hindi Kahaniyan), click here

 

All stories

'महिलाओं के टॉयलेट में मत जाओ'

लव मैटर्स ने 5 LGTB से उनके अनुभवों के बारे में पूछाI उन्होंने हमें नफरत, हिंसा, तिरस्कार और यहाँ तक कि हत्या के प्रयास की दिल दहला देने वाली आपबीतियां सुनायींI

जब बारिश ने धो दिया हमारा प्लान!

मानसून और रोमांस- इन दोनों का एक दूसरे से एक ख़ास रिश्ता हैI रेनू ने लव मैटर्स इंडिया को बताया कि उन्होंने शरद के साथ उस ख़ास दिन को मनाने की जो प्लानिंग कर रखी थी, उसे बारिश ने कैसे ख़राब कर दिया। लेकिन हमारा शरद भी शाहरुख खान से कम नहीं था। यह जानने के लिए कि लखनऊ के हज़रतगंज में बारिश की उस शाम शरद ने रेनू का दिल कैसे जीता, आगे पढ़ें।

‘मैं ना जाने कितनी सारी अच्छी चीजें मिस कर देता'

स्कूल में प्रताड़ित और परेशान किए जाने के कारण कुशल के मानसिक स्वास्थ्य पर बहुत खराब असर पड़ा। वह डिप्रेशन और एंग्जायटी (चिंता) से घिर गया था। यहां तक कि उसने आत्महत्या करने की भी कोशिश की। फिर कुशल ने मदद मांगी और दो सालों तक थेरेपी ली। अब वह बेहतर हैं और चाहते हैं कि अन्य युवा भी लांछन की परवाह किए बिना थेरेपी और इलाज कराएं। उन्होंने युवा एलजीबीटी को अपनी खुशियों के लिए लड़ने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए लव मैटर्स इंडिया के साथ अपनी कहानी शेयर की।

जब मोहित की मुलाकात अंकित से हुई!

इनकी जोड़ी जबरदस्त है। सोशल मीडिया पर दोनों के ढेरों फॉलोवर्स हैं। उन्होंने एक साथ म्यूजिक वीडियो भी बनाया है। हम बात कर रहे हैं मोहित और अंकित की जो #HitAnk के नाम से मशहूर हैं। मोहित ने लव मैटर्स इंडिया से बात की और बताया कि वे कैसे अंकित से मिले और फिर उनसे प्यार हो गया।

चमन बहार और ‘माल’ पुकारे जाने की वो यादें

नेटफ्लिक्स पर आयी एक नयी फिल्म - चमन बहार - देखते हुए ना जाने कितनी चीज़ें याद आ गयीं, कितने डर ज़िंदा हो गये। नुक्कड़, कॉलेज और चाय की टपरियों पर इकट्ठा लड़कों का हुजूम याद आ गया, जो सिर्फ़ टाइम पास के लिए लड़कियां छेड़ते थे। अणुशक्ति सिंह ने लव मैटर्स के साथ अपने यादें सांझा की।

'अपनी क्लास के सामने सच बताना'

अर्नव अपनी पहचान को ले कर हो रहे उत्पीड़न और मजाक से थक चुका था। एक दिन उसने अपनी सच्चाई पूरी क्लॉस के सामने बता दी। आगे क्या हुआ? अर्नव ने अपनी कहानी गेलेक्सी वेबसाइट के साथ साझा की।

'बढ़िया बीती थी रात लेकिन...'

उन दिनों सेक्स में बहुत मज़ा आ रहा था। सेक्स के बाद हमें कपड़े पहनने की भी ज़रूरत नहीं पड़ती थी बस एक दूसरे की बाहों में लेटे रहते थे। पर धीरे धीरे जो ऊपरवाले का तोहफा और खुशनसीबी बन कर आया था.... 14 दिनों के क्वारंटाइन में एक बुरे सपने में बदलने लगा था। हम पहले की बजाय अब बहुत ज़्यादा लड़ने-झगड़ने और एक दूसरे पर चिल्लाने लगे थे। समीर ने लव मैटर्स इंडिया के साथ अपनी लॉकडाउन स्टोरी शेयर की।

‘जब मैं हस्तमैथुन करते हुए पकड़ा गया'

चिराग स्खलित होने ही वाला था कि उसके पापा ने बाथरुम का दरवाजा खटखटा दिया। फिर आगे क्या हुआ? चिराग ने लव मैटर्स इंडिया के साथ अपनी लॉकडाउन स्टोरी शेयर की।

'लड़को में ऐसा होता है'

दिल्ली के कुछ लड़को ने अपने इंस्टाग्राम ग्रुप पर लड़कियों के बारें में काफी अश्लील बातें करी थी जो कुछ सहपाठियो ने अब सोशल मीडिया पर लीक कर दी थी। यह खबर वैदेही के दिमाग से जा ही नहीं रही थी। 'पर लड़के ऐसा करते क्यों है?', वैदेही ने सिद्धार्थ से पूछा। 'अरे ये सब हँसी मज़ाक के लिए होता हैं। इसका मतलब ये थोड़ी ही कोई वाकई में ही ऐसा करता है!', सिद्धार्थ ने कहा। 'फिर दुनिया भर में फिर रेप और सेक्सुअल हर्रास्मेंट के इतने ज्यादा किस्से क्यों होते हैं?' 'कहीं तो नींव पड़ती होगी?'

'मैं मदद के लिए तरस गई थी'

सोनाली विकलांग है। उषा आंटी उसकी सभी शारीरिक ज़रूरतों को पूरा करने में उसकी मदद करती हैं। लेकिन लॉकडाउन होने के बाद उषा आंटी अब उसके घर नहीं आ पा रही हैं। फिर सोनाली ने अपनी लाइफ कैसे मैनेज की? उसने लव मैटर्स इंडिया के साथ अपनी कहानी शेयर की।

जब बेड के नीचे पड़ा कॉन्डम मम्मी के हाथ लग गया

राघव ने यूज़ किया हुआ कॉन्डम पेपर में लपेट कर बेड के नीचे रख दिया। वह कमरे में लेटा हुआ था कि मम्मी कमरे की सफ़ाई करने आ गयीं। अचानक राघव की नज़र मम्मी के हाथ पर गयी। कॉन्डम वाला पेपर उनके हाथ में था। फिर क्या हुआ? राघव ने अपनी कहानी लव मैटर्स इंडिया को बताई...

जब अफ़साना ने मंगलसूत्र पहना!

‘दीदी, आप नहीं जानती कि इन दिनों हम पर क्या बीत रही है। कुछ लोगों की ग़लती का खामियाज़ा हम सभी को भुगतना पड़ रहा है'।अफसाना बिंदी और मंगलसूत्र पहनकर मुझसे अपनी मजदूरी लेने आई थी, तब उसने अपनी आपबीती सुनायी। कोरोना वायरस ने सिर्फ़ उनकी आजीविका ही नहीं बल्कि मानसकि शांति को भी छीन लिया है, निहारिका ने लव मैटर्स इंडिया के साथ एक बातचीत शेयर की।