Sex gets better as women get older
Lisa F. Young

महिलाओं की बढती उम्र के साथ बेहतर होता सेक्स

द्वारा Sarah Moses मार्च 21, 04:19 बजे
महिलाओं के लिए अच्छी खबर- सेक्स समय के साथ सिर्फ बेहतर होता जाता है। महिलाओं का मानना है की मध्य आयु में सेक्स पहले से ज्यादा संतुष्टिदायक हो जाता है।

कम सेक्स या सेक्स की कम चाह का बढती उम्र के साथ अछे सेक्स से कुछ ख़ास लेना देना नहीं है। जब बात संतुष्टि की हो तो शारीरिक और मानसिक अंतरंगता का प्रभाव ज्यादा पड़ता है।

प्यार भरी छुअन से सेक्स तक
 
30 या 40 की उम्र आने का मतलब ये नहीं की आपका सेक्स जीवन कोई बुरा मोड़ ले लेगा। बल्कि इस्सके विपरीत सम्भावना है की वप पहले से बेहतर होने लगे। 40 से अधिक आयु वाली 50 प्रतिशत महिलाओं को सेक्स की चाह, ओर्गास्म सब कुछ असमान्य या पहले से बेहतर होता है, 800 महिलाओं पर किये गए अमरीकी सर्वे से पता चलता है।

जिन महिलाओं पर सर्वे किया गया उनकी औसत आयु 67 वर्ष थी। उनसे पुछा गया की की उनका सेक्स जीवन बीते माह में कैसा रहा। उनसे सभी तरह के सवाल पूछे गए जैसे की आलिंगन, अंतरंगता, ओर्गास्म, हस्तमैथून और योनि मैथुन।

पहले से लगातार बेहतर
 
उम्मीद के अनुसार, सेक्स की चाह बढती उम्र के साथ कम होती है- लगभग 40 प्रतिशत महिलाओं ने सेक्स से जुडी एक्टिविटी में दिलचस्पी कम होने की बात मानी। बढती उम्र के साथ सेक्स के अंतराल में में गिरावट पाई गयी। जो अधिक उम्र की महिलाएं सेक्स में एक्टिव थी, वो दूसरों की अपेक्षा बेहतर मानसिक और शारीरिक हेल्थ की स्थिति में थी। 
और इन् महिलाओं के लिए सेक्स की कम होती चाह कोई चिंता का विषय नहीं था। 60 प्रतिशत महिलाएं, चाहे वो नियमित सेक्स न करती हों, अपने सेक्स जीवन से संतुष्ट और खुश थी।

अध्यन से ये भी पता चला की 40 से अधिक आयु की महिलों के लिए सेक्स उम्र के साथ बेहतर ही हुआ था। 80 और उस से अधिक आयु की अधि महिलाएं अपने सेक्स जीवन से संतुष्ट थी, उनकी तुलना में जो 40 से 55 वर्ष की हैं।

आलिंगन ही काफी है

तो आखिर अधिक उम्र की महिलाओं की संतुष्टि का राज क्या है? ये हम सभी जानते हैं की उम्र के साथ सेक्स की चाह का कम होना असामन्य नहीं है। वजह यह है अधिक उम्र की महिलाएं कम हो चुकी सेक्स की चाह की परवाह करना बंद कर देती हैं जबकि 40-55 की आयु की महिलाएं अपनी कम होती चाह से तनाव महसूस करती हैं।
 
तो इसलिए शायद अधिक उम्र की महिलाओं के लिए अधिक सेक्स की बजे बेहतर सेक्स की मान्यता बढ़ जाती है। चाहे वो नियमित सेक्स न करें, लेकिन जब करें तो वो संतुष्ट कर देने वाला हो। वैसे लेखक का मानना  है की इतने लम्बे अन्तराल के रिश्तों में वो अपने साथी के साथ इतना जुड़ाव महसूस करती हैं की उनका ओर्गास्म ज्यादा संतुष्ट करने लायक हो जाता है।

Photo: Lisa F. Young

महिला कामुकता पर अधिक जानकारी

महिला कामुकता पर अन्य लेख

क्या आप इस जानकारी को उपयोगी पाते हैं?

Comments
नई टिप्पणी जोड़ें

Comment

  • अनुमति रखने वाले HTML टैगस: <a href hreflang>