Auntyji - Love Matters
Love Matters

मेरे बॉयफ्रेंड को गंदी बातें करना पसंद है

द्वारा Auntyji जनवरी 22, 12:27 बजे
मेरे बॉयफ्रेंड को गन्दी बातें करना अच्छा लगता है, पर क्या यह सही है? वो मेरा बहुत ख्याल रखता है और मैं उसे दुखी नहीं करना चाहती लेकिन मुझे उसकी बातें पसंद नहीं हैI प्लीज़ मेरी मदद कीजिये! नाडिया (23), कोइम्बटोर

आंटी जी कहती हैं... बेटा बॉयफ्रेंड तो होते ही हैं शरारती और तू उसे कह रही है कि, "मैं नहीं...मैं नहीं!"

एक दूसरे की सहमति

देख बेटा, मुझे यह सुनकर बड़ा अच्छा लगा कि वो तुझे खुश रखता हैI मुझे यह भी अच्छा लगा कि चाहे तुझे यह सब पसंद नहीं है लेकिन फिर भी तू उसे ठेस नहीं पहुँचाना चाहतीI ऐसा लगता है कि तुम दोनों के बीच आपसी तालमेल बहुत अच्छा है- सच कहूँ तो मेरा मतलब तुम्हारे सेक्स जीवन से है जो मुझे लगता है कि बेहद बढ़िया है!

बेटा जहाँ तक सही गलत की बात है तो जैसे मैंने पहले भी कहा है कि सेक्स और उससे जुड़ी चीज़ों में हमेशा दोनों की सहमति होनी चाहिएI यह मंज़ूरी के साथ और पूरी तरह से सुरक्षित होना चाहिएI अगर इस बारे में एक दूसरे से बात कर ली जाये तो सोने पे सुहागाI

मतलब यह कि दोनों को पता होना चाहिए कि वो क्या करने जा रहे हैंI अगर दोनों सहमत है- जो कभी कभी मुश्किल हो सकता है तो बेटा कुछ भी गलत और गन्दा नहीं होना चाहिए, है ना? यह एक निजी मामला है और तुम दोनों के आपस की बात हैI

बातें अच्छी हैं

तूने कभी सोचा है क्यों वो ऐसी बातें क्यों करता है? क्यूंकि वो तुझे पसंद करता है कुड़िये! सेक्स की या गन्दी बातों से आप वातावरण को और अपने साथी को कामोत्तेजक बना सकते होI और अगर यह आप अपने साथी के साथ कर रहे हो तो इसमें किसी भी प्रकार की झिझक नहीं होनी चाहिएI यह तो ऐसे है जैसे अपने बैडरूम या किचन में पॉर्न का मज़ाI

इससे पता चलता है की एक दुसरे को खुश रखने में आप दोनों बराबर के भागीदार हैI एक बेहद निजी बात होने के बावजूद यह तुम्हारे अंदर मौजूद आत्मविश्वास को दर्शाती हैI यह सम्पूर्ण अनुभव को एक दुसरे दर्जे पर ले जाता हैI

क्यूंकि तू एक सुपर सेक्सी लड़की है तो शायद वो तुझे देख कर बेहद कामोत्तेजक हो जाता है! उसे अपने पर काबू नहीं रह पाता और वो सब तुझे बता देता हैI और यह बात तुझे हमेशा याद रहेगी, तब भी जब तू ऑफिस में कोई प्रेजेंटेशन दे रही होगी और इसकी वजह से तेरा आत्मविश्वास सांतवे आसमान पर होगाI

सहमति और समझौते

अपने साथी के मुंह से ऐसे शब्द सुनना जिन्हे गन्दा या अश्लील माना जाता है आपको अजीब लग सकता हैI कुछ लोगों के लिए यह अपमानजनक भी हो सकता है क्यूंकि उन्हें लगता है कि उनका साथी उन्हें कहीं उस तरह कि लड़की तो नहीं समझ रहा? (वैसे, यह 'उस तरह' का मतलब क्या होता है)

यह घटिया भी हो सकता है, इसलिए इस बारे में बातचीत ज़रूरी हैI जैसे हम और किसी भी यौन क्रिया के बारे में करते हैंI हो सकता है जो बात उसके लिए सेक्सी हो उससे तुझे घिन्न आती होI यहाँ यह समझना ज़रूरी है कि सिर्फ इसलिए कि कोई आपको किस करने को तैयार है तो इस मतलब यह नहीं कि आपके उसके शरीर के साथ कुछ भी कर सकते हैंI इसलिए बात करना महत्त्वपूर्ण हैI

करो वही जो मन करे

पुत्तर, सबसे वड्डी गल है तेरी ख़ुशीI कोई ऐसा काम मत करना जो अच्छा ना लगे और जिसे करते हुए डर लगेI वैसे भी ऐसे सेक्स करने का कोई फायदा नहीं होगाI जितना ज़्यादा यौन क्रीड़ा के मज़े उठाओगे उतने ही ज़्यादा मिलेंगे लेकिन यह भी याद रहना कि जो चीज़ वातावरण में गर्मी बड़ा सकती है वो अचंभित भी कर सकती हैI

हो सकता है कि सेक्स की बाते करने में आप शेक्सपीयर ना हो लेकिन फिर भी 'गन्दा', 'गलत', और 'बुरा' जैसे शब्दों की प्यार के शब्दकोष में कोई जगह नहीं हैI नाडिया बेटा, प्यार को प्यार ही रहने दो, कोई इलज़ाम ना लगाओI और डरो मत, मैदान में कूद जाओ, क्या पता तेरी कही कौनसी बात उसे दीवाना बना दे!

क्या आपने अपने साथी से कभी गन्दी बातें की हैं? अपने अनुभव और विचार हमें फेसबुक के ज़रिये बताएं या हमारे 'जस्ट पूछो' फोरम में साझा करेंI

आंटी जी कहती हैं... बेटा बॉयफ्रेंड तो होते ही हैं शरारती और तू उसे कह रही है कि, "मैं नहीं...मैं नहीं!"

एक दूसरे की सहमति

देख बेटा, मुझे यह सुनकर बड़ा अच्छा लगा कि वो तुझे खुश रखता हैI मुझे यह भी अच्छा लगा कि चाहे तुझे यह सब पसंद नहीं है लेकिन फिर भी तू उसे ठेस नहीं पहुँचाना चाहतीI ऐसा लगता है कि तुम दोनों के बीच आपसी तालमेल बहुत अच्छा है- सच कहूँ तो मेरा मतलब तुम्हारे सेक्स जीवन से है जो मुझे लगता है कि बेहद बढ़िया है!

बेटा जहाँ तक सही गलत की बात है तो जैसे मैंने पहले भी कहा है कि सेक्स और उससे जुड़ी चीज़ों में हमेशा दोनों की सहमति होनी चाहिएI यह मंज़ूरी के साथ और पूरी तरह से सुरक्षित होना चाहिएI अगर इस बारे में एक दूसरे से बात कर ली जाये तो सोने पे सुहागाI

मतलब यह कि दोनों को पता होना चाहिए कि वो क्या करने जा रहे हैंI अगर दोनों सहमत है- जो कभी कभी मुश्किल हो सकता है तो बेटा कुछ भी गलत और गन्दा नहीं होना चाहिए, है ना? यह एक निजी मामला है और तुम दोनों के आपस की बात हैI

बातें अच्छी हैं

तूने कभी सोचा है क्यों वो ऐसी बातें क्यों करता है? क्यूंकि वो तुझे पसंद करता है कुड़िये! सेक्स की या गन्दी बातों से आप वातावरण को और अपने साथी को कामोत्तेजक बना सकते होI और अगर यह आप अपने साथी के साथ कर रहे हो तो इसमें किसी भी प्रकार की झिझक नहीं होनी चाहिएI यह तो ऐसे है जैसे अपने बैडरूम या किचन में पॉर्न का मज़ाI

इससे पता चलता है की एक दुसरे को खुश रखने में आप दोनों बराबर के भागीदार हैI एक बेहद निजी बात होने के बावजूद यह तुम्हारे अंदर मौजूद आत्मविश्वास को दर्शाती हैI यह सम्पूर्ण अनुभव को एक दुसरे दर्जे पर ले जाता हैI

क्यूंकि तू एक सुपर सेक्सी लड़की है तो शायद वो तुझे देख कर बेहद कामोत्तेजक हो जाता है! उसे अपने पर काबू नहीं रह पाता और वो सब तुझे बता देता हैI और यह बात तुझे हमेशा याद रहेगी, तब भी जब तू ऑफिस में कोई प्रेजेंटेशन दे रही होगी और इसकी वजह से तेरा आत्मविश्वास सांतवे आसमान पर होगाI

सहमति और समझौते

अपने साथी के मुंह से ऐसे शब्द सुनना जिन्हे गन्दा या अश्लील माना जाता है आपको अजीब लग सकता हैI कुछ लोगों के लिए यह अपमानजनक भी हो सकता है क्यूंकि उन्हें लगता है कि उनका साथी उन्हें कहीं उस तरह कि लड़की तो नहीं समझ रहा? (वैसे, यह 'उस तरह' का मतलब क्या होता है)

यह घटिया भी हो सकता है, इसलिए इस बारे में बातचीत ज़रूरी हैI जैसे हम और किसी भी यौन क्रिया के बारे में करते हैंI हो सकता है जो बात उसके लिए सेक्सी हो उससे तुझे घिन्न आती होI यहाँ यह समझना ज़रूरी है कि सिर्फ इसलिए कि कोई आपको किस करने को तैयार है तो इस मतलब यह नहीं कि आपके उसके शरीर के साथ कुछ भी कर सकते हैंI इसलिए बात करना महत्त्वपूर्ण हैI

करो वही जो मन करे

पुत्तर, सबसे वड्डी गल है तेरी ख़ुशीI कोई ऐसा काम मत करना जो अच्छा ना लगे और जिसे करते हुए डर लगेI वैसे भी ऐसे सेक्स करने का कोई फायदा नहीं होगाI जितना ज़्यादा यौन क्रीड़ा के मज़े उठाओगे उतने ही ज़्यादा मिलेंगे लेकिन यह भी याद रहना कि जो चीज़ वातावरण में गर्मी बड़ा सकती है वो अचंभित भी कर सकती हैI

हो सकता है कि सेक्स की बाते करने में आप शेक्सपीयर ना हो लेकिन फिर भी 'गन्दा', 'गलत', और 'बुरा' जैसे शब्दों की प्यार के शब्दकोष में कोई जगह नहीं हैI नाडिया बेटा, प्यार को प्यार ही रहने दो, कोई इलज़ाम ना लगाओI और डरो मत, मैदान में कूद जाओ, क्या पता तेरी कही कौनसी बात उसे दीवाना बना दे!

क्या आपने अपने साथी से कभी गन्दी बातें की हैं? अपने अनुभव और विचार हमें फेसबुक के ज़रिये बताएं या हमारे 'जस्ट पूछो' फोरम में साझा करेंI

क्या आप इस जानकारी को उपयोगी पाते हैं?

Comments
नई टिप्पणी जोड़ें

Comment

  • अनुमति रखने वाले HTML टैगस: <a href hreflang>