Man in bed
Shutterstock/Kaspars Grinvalds

मुझे सेक्स के बारे में कैसे पता चला?

मुझे पहली बार सेक्स के बारे में तब पता चला जब मैं 11 साल की थी। मुझे नहीं पता की बाकी लोगों को सेक्स के बारे में कैसे पता चलता है, लेकिन लिए इसकी समझ काफी सारी घटनाओं के साथ जुडी थी। उस साल, हमने एक औरत को एक फिल्म में पहली बार पूरा नंगा देखा।

और साल हमने सबसे पसंदीदा मन बहलाने वाला काम भी खोजा: हस्तमैथुन।

सिद्धान्त (नाम बदला हुआ) एक माँ इंग्लिश लिटरेचर स्टूडेंट हैं।
 
सभी लड़के

मैं एक केवल लड़कों वाले बोर्डिंग स्कूल में 12 वी कक्षा तक पढ़ा और जब से मैंने स्कूल में दाखिला लिया था, तब से स्कूल ख़त्म हो जाने तक हम चार दोस्तों का ख़ास ग्रुप रहा।

क्यूंकि हम होस्टल में बहुत सारे बड़ी उम्र और बड़ी कक्षा के लड़कों से घिरे रहते थे, इसलिए हमको कुछ 'ख़ास' चीज़ों की जानकारी दूसरों से पहले हो गयी थी। और जब हु 11 साल के ही, तो 'शाग्गिंग', 'डिकइंग', 'लौंडेबाजी' और 'वान्किंग' (हस्तमिथुन) जैसे शब्द इस्तेमाल करना हमारे लिए आम बात हो गयी थी। मुझे लगता है उस समय हम यह सब बोलते हुए बहुत ही बेवकूफ लगते होंगे लेकिन क्यूंकि हमारे सीनियर्स इन शब्दों का इस्तेमाल करते थे और हम उनके जैसा बनाना चाहते थे तो हमारे लिए इन शब्दों का इस्तेमाल करना हमारे लिए बहुत ज़रूरी था।

 

ख़ोज

उस साल जब मुझे और मेरे दोस्तों को सेक्स के बारे में पता चला, वो साल हमारे लिए दो वजहों से ख़ास था। उस साल हमने पहली बार एक फिल्म में महिला को पूरा नंगा देखा और हमे हस्तमैथुन के बारे में भी पता चला। हम हर शनिवार की रात को फिल्म देखते थे, लेकिन फिल्म का चुनाव हमारे प्रिंसिपल करते थे।

 

मुझे आज तक पता की हमारे सीनियर्स ने यह कैसे संभव किया लेकिन 12 वी कक्षा के कुछ लड़कों ने 'Titanic' फिल्म के स्क्रीनिंग स्कूल में करवाई। यह फिल्म उस साल की सबसे हिट फिल्म भी थी। आधी फिल्म देखने में ही हम सब लकड़ों को 'Rose ' से प्यार हो गया था, और फिर वो सबसे जाना-माना पेंटिंग वाला सीन आया, और हम छट्टी कक्षा (6 क्लास) के चार लड़कों ने पहली बार नग्न महिला देखी। और फिर कुछ महीनो बाद, हम में से एक ने 'अकस्माक' ही हस्तमैथुन ख़ोज निकल और फिर क्या था - यह हम सबका सबसे पसंदीदा मन बहलाने वाला काम बन गया।

 

कल्पना

फिर हमने सेक्स के बारे में पूरी विस्तार में जानकारी निकली अपने एक सीनियर से। पूरे बोर्डिंग स्कूल में चर्चे थे एक 'गन्दी' किताब के बारे में जो सभी पढ़ने के लिए बेताब हो रहे थे। लेकिन क्यूंकि हम छट्टी कक्षा में थे, इसलिए हम लाइन में बड़ा ही पीछे थे इस किताब को को पढ़ने के लिए। हमारे अग्गे सीनियर्स की लम्बी लाइन थी। लेकिन सौभाग्यवश, हमें ज़्यादा इंतज़ार नहीं करना पढ़ा, क्यूंकि एक आठवी कक्षा के लड़के ने एक रात के लिए हमे यह किताब पढ़ने के लिए दे दी, और उसके बदले में हमने उसे दिए 'वाई-वाई नूडल्स' के चार पैकेट।

इस 'गन्दी' किताब को एक लड़के ने 'Archie comic' का रूप दे दिया था। यह किताब उसी लड़के की थी। उसने उसमे बहुत साड़ी अपनी चित्रकारी करी हुई थी और पन्नों के बजो में अपनी और से एक कहानी भी लिखी हुई थी।

उसकी चित्रकारी आलसी तो थी दिखने में लेकिन हम सब उसकी चित्रकारी के साथ अपनी कल्पना का इस्तेमाल करते थे। वैसे तो जो 'विस्तारता' में उस लड़के ने कहानी लिखी थी, असल में उसी से तो हमे पता चला पूरी तरह सेक्स के बारे में। और फिर क्या था - बस उस दिन के बाद शायद हम में से किसी ने भी 'Archie Comics' को सिर्फ 'Comics' की नज़र से देखना छोड़ दिया।

 

चित्र: Reflected in the eye, Kate Winslet as Rose in the film Titanic

हमें अपनी प्यार, सेक्स और रिश्तों से जुडी कहानियां बताइए। ईमेल करिए लव मैटर्स को।

'पहली बार' पर अन्य लेख

'मेरी कहानी श्रंखला के अन्य लेख

पहली बार सेक्स पर अधिक जानकारी

क्या आप इस जानकारी को उपयोगी पाते हैं?

Comments
नई टिप्पणी जोड़ें

Comment

  • अनुमति रखने वाले HTML टैगस: <a href hreflang>