condoms and pleasure
Shutterstock/VGstockstudio

क्या कंडोम से सेक्स का मज़ा बिगड़ जाता है? शायद हाँ या शायद नहीं?

द्वारा Sarah फरवरी 23, 04:26 बजे
सेक्स और कंडोम एक ही सिक्के के दो पहलू हैं। दोनों से ही हमें सेक्स का पर्याप्त आनंद मिलता है। यदि कंडोम लगाकर सेक्स करने से आपको मज़ा नहीं आ रहा है तो जानें कि विज्ञान इस बारे में क्या कहता है?

सेक्स का मज़ा किससे बढ़ता है?


इसमें कोई शक नहीं है कि यौन संबंध बनाने का मुख्य कारण आनंद प्राप्त करना है। अगर आप कंडोम लगाकर सेक्स के मज़े को और बढ़ाने के बारे में सोचते हैं तो आप अकेले नहीं हैं।

वास्तव में अमेरिकी शोधकर्ताओं का एक समूह भी इसी की खोज में निकला थाI शोधकर्ता यह जानना चाहते थे कि किसी व्यक्ति के यौन जीवन को किस तरह की चीज़ें बेहतर बनाती हैं : अधिक देर तक सेक्स करना, उत्तेजना, फोरप्ले या फिर कंडोम का फिट बैठना।

अपने प्रश्नों का जवाब पाने के लिए शोधकर्ताओं ने सभी उम्र के 2000 लोगों पर शोध किया। शोध में शामिल प्रतियोगियों ने एक महीने तक नियमित अपने सेक्स के मज़ेदार अनुभवों को डायरी में लिखा और शोधकर्ताओं से अपने अनुभवों को साझा किया।

परिणाम सकारात्मक आये थेI शोधकर्ताओं ने पाया कि पार्टनर के साथ सुरक्षित शारीरिक संबंध यानि कंडोम लगाकर सेक्स करने के दौरान ऐसे कई कारण होते हैं जो सेक्स के मज़े को बढ़ाने में मदद करते हैं।

सेक्स के आनंद को बढ़ाने वाले कारक

किस चीज़ से सेक्स का आनंद सबसे ज्यादा बढ़ता है? जब व्यक्ति अपने पार्टनर के जननांगों को सेक्स से पहले मुंह या हाथों से छूकर उत्तेजित करता है। इसके अलावा सही समय पर स्खलन होने से (हम जानते हैं कि इतना तो आप सबको पता ही है)।

इसका मतलब यह नहीं है कि कंडोम के साथ सेक्स करते समय सिर्फ़ उसे ही मज़ा आ रहा है जिसे उत्तेजित किया जा रहा है। बल्कि जब कोई पुरुष अपने पार्टनर के साथ मुख मैथुन करता है तो वह भी संभोग का उतना ही आनंद उठाता है।

पिछले शोध से पता चलता है कि बिस्तर पर आप अपने पार्टनर के साथ जितनी ही ज्यादा चीज़ें करते हैं, चरम सुख की संभावना उतनी ही ज़्यादा बढ़ जाती है और शायद मज़ा भी उसी अनुपात में बढ़ता जाता है।

शोध में शामिल लोगों ने अपनी डायरी में लिखा कि जब कंडोम लगाकर संभोग के आनंद की बात आती है तो उसमें अधिक देर तक सेक्स और चरम उत्तेजना का होना भी बहुत ज़रूरी है। यहीं चीज़ें लिंग को उत्तेजित करने के लिए भी लागू होती हैं।

कंडोम फिट तो सेक्स सुपरहिट 

अब यह कहना गलत नहीं होगा कि संभोग के आनंद को बढ़ाने वाला अंतिम कारक कंडोम ही है। सीधी सी बात है : कंडोम जितना सही फिट बैठेगा, सेक्स का उतना ही ज़्यादा मज़ा आएगा। तो अब ज़रा अपने दिमाग पर ज़ोर दाल कर हमें बताएं कि इस शोध से आपने क्या सीखा?

यदि आप सुरक्षित सेक्स के दौरान इसके मज़े को लेकर चिंतित हैं, तो संभोग से पहले और संभोग के दौरान पर्याप्त फोरप्ले करें। इसके अलावा अलग अलग मैटिरियल एवं आकार के कंडोम को भी आज़मा कर देखते रहें कि आपको किससे ज़्यादा मज़ा आ रहा है।

संदर्भ : सेक्सुअल प्लेजर ड्यूरिंग कंडोम प्रोटेक्टेड वजाइनल सेक्स एमंग हेट्रोसेक्सुअल मेन। जर्नल ऑफ़ सेक्सुअल मेडिसिन - साल 2012 में प्रकाशित  

*गोपनीयता बनाये रखने के लिए नाम बदल दिए गये हैं और तस्वीर में मॉडल का इस्तेमाल किया गया है।


क्या आप कंडोम से जुड़ी और जानकारी जानना चाहते हैं? नीचे टिप्पणी करके या हमारे फेसबुक पेज पर लव मैटर्स (एलएम) के साथ जुड़कर अपने विचार हम तक पहुंचाएंI यदि आपके पास कोई विशिष्ट प्रश्न है, तो कृपया हमारे चर्चा मंच पर एलएम विशेषज्ञों से पूछें।

Comments
Ab kya sthiti hai Ravi bete? Fingering karne se blood nikale ka karan hymen ka toot jana ya kahi cut jana- chhil jana ho sakta hai. Fingering aur virginty ke baare mein yaha padhiye: https://lovematters.in/hi/making-love/virginity/will-i-break-her-hymen-if-i-finger-her Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain to hamare disccsion board “Just Poocho” mein zaroor shamil ho! https://lovematters.in/en/forum
नई टिप्पणी जोड़ें

Comment

  • अनुमति रखने वाले HTML टैगस: <a href hreflang>