Genital hygiene
Shutterstock/Holyshyn Oleh

जननांग स्वच्छता: क्या करें क्या ना करें

द्वारा Puru Singh जनवरी 18, 11:55 पूर्वान्ह
आप अपनी योनि या लिंग को कैसे स्वच्छ रख सकते हैं? हम सभी को यह तो पता है कि अपने हाथ कैसे धोने और साफ़ करने हैं लेकिन कई अभी भी इससे अनभिज्ञ हैं कि अपने जननांगो को कैसे धोया जाएI

किस उत्पाद का इस्तेमाल करेंI कितनी बार और कितनी मात्रा पर्याप्त है? और क्या यह ज़रूरी है कि आपकी जननांग भी आपके शरीर की तरह महकते रहे? अगर यह सवाल आपकप परेशान करते हैं तो घबराएं नहीं क्यूंकि आज हम इन सभी के जवाब आपके लिए लेकर आये हैं!

क्या करें...

  • अच्छी तरह करें लेकिन कोमलता से वैसे तो योनि अंदर से अपने आपको को खुद साफ़ रख सकती है लेकिन यह भी सच है कि जब तक आप इसे खुद नहीं धोयेंगे या नहाएंगे नहीं तब तक आपको विश्वास नहीं होगा कि यह बाहर से भी साफ़ हैI यदि आप साबुन इस्तेमाल करना चाहते हैं तो ऐसे उत्पाद इस्तेमाल करें जो सौम्य हों और ज़्यादा सुगन्धित ना होंI केवल बाहर साफ करें, और साबुन के साथ योनि का अंदरूनी हिस्सा साफ़ ना करें। इससे संक्रमण और जलन हो सकती है। पुरुषों के लिए भी सामान बातें लागू होती हैंI केवल पानी और सौम्य साबुन का उपयोग करें और बहुत अच्छे से सफाई करेंI शिश्न के आसपास त्वचा की बहुत सारी परतें और सिकुड़न होती हैं - सुनिश्चित करें कि आप धीरे-धीरे उन सभी को साफ़ कर पाएंI यदि आपका खतना नहीं हुआ है तो अपने लिंग के सिरे को पकड़ कर, चमड़ी को वापस खींचकर सफ़ाई करें जिससे स्मेग्मा (सफ़ेद द्रव्य जो चमड़ी के नीचे इकट्ठा हो जाता है) नामक बीमारी के जोखिम से बचे रहेI योनि के अंदर की तरह, शिश्न का सिर भी आपके मुंह के अंदर की तरह ही है, जिसे साबुन की ज़रुरत नहीं होतीI यदि आप फ़िर भी आप साबुन इस्तेमाल करते हैं, तो नरम उत्पाद चुनेंI पुरुषों और महिलाओं दोनों के लिए बेहतर यही है कि गुदा की सफ़ाई सबसे आखिर में की जाएI नियम वहीं रहेंगे - खूब सारा पानी, कोमल साबुन और अच्छे से रगड़नाI अंत में, यह सुनिश्चित करें कि आप जननांग क्षेत्र के आस-पास बिलकुल भी पानी ना रहने दें और एक नरम कपडे से उस क्षेत्र को अच्छे से सुखा लेंI
  • मूत्र पथ और योनि संक्रमण से बचें स्वस्थ रहने के लिए जननांग स्वच्छता महत्वपूर्ण है। मूत्र पथ और योनि संक्रमण ज़्यादातर महिलाओं को प्रभावित करता है, क्योंकि उनका मूत्रमार्ग छोटा होता है और योनि में संक्रमण का खतरा अधिक होता है। कभी-कभी, संक्रमण से बचाव संभव नहीं होता, लेकिन कुछ महिलाओं के साथ को यह दूसरों की तुलना में अधिक बार होता हैI अगर आप भी उन्ही महिलाओं में से एक हैं तो है, तो अपनी स्वच्छता दिनचर्या को बदलने पर विचार करेंI एक बार फ़िर याद दिलादें कि कठोर सफ़ाई उत्पादों का उपयोग न करें, क्योंकि वे आपके जननांग क्षेत्र में जलन पैदा कर सकते हैं। आप को नमी से भी बचना चाहिए, इसलिए व्यायाम करने के बाद साफ़ या सूखी अंडरवियर पहनेI शौचालय इस्तेमाल करने के बाद हमेशा सामने और पीछे को अच्छी तरह से साफ़ करना ना भूलेंI इससे आपकी योनि, मूत्र पथ और गुदा के आस-पास वाले हिस्से हानिकारक जीवाणुओं से बचे रहेंगेI
  • परिवर्तनों पर ध्यान दें जब आप अपने जननांग क्षेत्र की सफाई कर रहे होते हैं, तो यह सबसे अच्छा समय होता है यह देखने के लिए कहीं कोई बदलाव तो नहीं हुआ हैI असामान्य गंध या द्रव्य, मुंहासें, फुंसियां या दर्दनाक हिस्से इस बात का संकेत हो सकते हैं कि कुछ गलत हो रहा है। हो सकता है कि आपको कोई यौन संचारित रोग हो या फ़िर यह भी हो सकता है कि आप साफ़-सफाई बहुत ज़ोरों शोरों से कर रहें हों, जी हाँ यह भी नुकसानदायक हो सकता हैI यदि आप किसी भी परिवर्तन को देखते हैं, तो एक या दो दिन के लिए उन पर नज़र रखें, और यदि उनमे सुधार ना हो या हालात और बिगड़ जाएँ तो तुरंत एक चिकित्सक को सम्पर्क करेंI।

क्या ना करें...

  • गंध और फेरोमोन से ना डरें हर योनि और हर लिंग की अपनी एक निश्चित गंध हैI यह स्वाभाविक और सामान्य हैI आपके जननांगों के आसपास पसीना ग्रंथियां होती हैं जो कि गंध का कारण बनती हैंI यह बिलकुल आपकी बगल के समान हैं थोड़ी बहुत गंध आने में कुछ भी गलत नहीं हैI इसे डिओडोरेंट या अत्यधिक सफ़ाई से दूर करने की कोशिश ना करेंI दिन में एक बार सफ़ाई करना पर्याप्त हैI सेक्स से एक दिन पहले ज़रूर धोएं, खासकर अगर विचार मुख मैथुन करने का हो तो! लेकिन ... अधिक सुगंधित कपड़े/टिश्यू या साबुन का उपयोग करने के बजाय अच्छा है कि आप अपनी प्राकृतिक गंध को गले लगाएंI इसमें फेरोमोन शामिल हैंI यह वो रासायनिक दूत हैं जो पुरुषों और महिलाओं के बीच आकर्षण के लिए जिम्मेदार होते हैं। यह नकली इत्र की तुलना में कहीं ज्यादा कामुक और सेक्सी हैI लेकिन, अगर आप को कोई भी अप्रिय गंध महसूस होती है तो तुरंत एक डॉक्टर से संपर्क करेंI यह संक्रमण का संकेत हो सकता है
  • ब्लीच और पानी से खंगालने से बचें महिलाओं से अनुरोध है कि अपनी योनि को पानी से ना खंगालेंI इससे आप योनि संतुलन को गंभीर रूप से खराब कर देंगे और यह खुजली, जलन और संक्रमण का कारण भी बन सकता हैI अगर आप पहले से संक्रमित हैं तो पानी का खंगालना जीवाणुओं को पीछे की और धकेल सकता हैI इससे आपके गर्भाशय, अंडाशय या फैलोपियन ट्यूबों में समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं। उन क्रीम और लोशन से दूर रहें जो आपके जननांग या गुदा क्षेत्र को सफेद बनाने का वादा करते हैंI वे भी, जलन और संक्रमण का कारण बन सकते हैं
  • शरीर के बाकी हिस्सों को नज़रअंदाज़ ना करें सिर्फ जननांग की स्वच्छता पर ही ध्यान ना देंI अगर आपके गुप्तांग साफ़ हैं लेकिन आपने अपनी बगलों और सांस (की बदबू) की और महीनो से ध्यान नहीं दिया है तो यह बात आपके और आपके साथी के लिए अच्छी नहीं हैI तो सुनिश्चित करें कि आप दिन में दो बार अपने दांतों को ब्रश करें, नियमित रूप से स्नान करेंI अगर आपको को अधिक पसीना आता है तो डिओड्रेंट का इस्तेमाल करेंI अपने नाखूनों में भी गन्दगी ना रहने देंI कुछ लोग अपने शरीर के बालों को हटाना या छोटा रखना चाहते हैं - चाहे आप इसे पसंद करें या नहीं यह आप पर निर्भर है, लेकिन यह भी महत्त्वपूर्ण हैं कि आपका शरीर हर समय स्वच्छ और महकता रहेI

क्या आप इस जानकारी को उपयोगी पाते हैं?

Comments
नई टिप्पणी जोड़ें

Comment

  • अनुमति रखने वाले HTML टैगस: <a href hreflang>