contraceptive injection, birth control injection, depo provera
Shutterstock/sylv1rob1

गर्भनिरोधक इंजेक्शन क्या है?

गर्भनिरोधक इंजेक्शन गर्भावस्था को रोकने का एक तरीका है। यह महिलाओं को लेना होता है। इस इंजेक्शन में हार्मोन (प्रोजेस्टिन या प्रोजेस्टिन और एस्ट्रोजन) होते हैं जो आपके शरीर को अंडे बनाने से रोकता है और गर्भाशय ग्रीवा में बलगम (सर्वाइकल म्यूकस) को गाढ़ा करते है।

गर्भनिरोधक इंजेक्शन क्या है?

इस इंजेक्शन में हार्मोन (प्रोजेस्टिन या प्रोजेस्टिन और एस्ट्रोजन) होते हैं जो की गर्भ को ठहरने नहीं देते। इन गर्भ निरोधकों को इंजेक्शन से शरीर में डाला जाता है और गर्भावस्था में बाधा वाले हार्मोन को कम मात्रा में जारी किया जाता है। प्रोजेस्टेरोन- इंजेक्शन गर्भ निरोधकों (पीओआईसी) गर्भनिरोधक की एक दीर्घकालीन और प्रतिवर्ती विधि है।

क्या यह भारत में उपलब्ध है?

भारत में, डेपो-प्रोवेरा एक गर्भनिरोधक इंजेक्शन के लिए एक प्रसिद्ध ब्रांड नाम है जिसमें हार्मोन प्रोजेस्टिन शामिल है। डेपो प्रोवेरा या डेपो मेड्रोक्सीप्रोजेस्टेरोन एसीटेट DMPA (जेनेरिक नाम) एक लंबे समय तक चलने वाला वाला गर्भनिरोधक है। 

यह कब तक काम करता है?

एक खुराक तीन महीने तक रहता है। 

यह कैसे काम करता है?

इसमें मेड्रोक्सी प्रोजेस्टेरोन एसिटेड मौजूद होता है जो ओव्यूलेशन की प्रक्रिया को रोकता है. इसके कारण ओवरी से अंडे रिलीज नहीं होते हैं। 

इसके अलावा यह सर्वाइकल म्यूकस को गाढ़ा कर देता है जिसके कारण स्पर्म अंडों तक नहीं पहुंच पाते हैं। यदि आप रोज गर्भनिरोधक दवाइयां नहीं लेना चाहती हैं तो डेपो प्रोवेरा आपके लिए सबसे बेहतर उपाय है। हालांकि इससे कुछ साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं।

क्या इसके कोई साइड इफेक्ट्स हैं? 

डॉ डॉली बागई, जो कि प्रसूति और स्त्री रोग के व्यापक अभ्यास के साथ दिल्ली में स्थित एक सामान्य चिकित्सक हैं, कहती हैं, 'इंजेक्शन के विभिन्न दुष्प्रभाव होते हैं और उस कारण से इसे पसंद नहीं किया जाता है।'

इस पद्धति के साथ प्रमुख समस्या अनियमित मासिक धर्म के रक्तस्राव और मासिक धर्म के पूरी तरह से गायब होने की स्थिति है, जिसे अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) द्वारा प्रकाशित एसोसिएशन ऑफ ओब्स्टेट्रिशियन एंड गायनेकोलॉजिस्ट ऑफ दिल्ली (एओजीडी) के बुलेटिन के अनुसार जाना जाता है। 

अन्य दुष्प्रभाव प्रोजेस्टेरोन से संबंधित वजन बढ़ने, सिरदर्द, चक्कर आना और हड्डियों के घनत्व में कमी हो सकती है। इस कारण से, संयुक्त राज्य अमेरिका के रोग नियंत्रण और रोकथाम (सीडीसी) केंद्र द्वारा इसका उपयोग दो साल से अधिक निषिद्ध है।

अगर मैं गर्भधारण करना चाहती हूं तो मुझे कितनी देर इंतज़ार करना होगा? 

इस दवा को रोकने के बाद प्रजनन क्षमता को वापस आने में लगभग 9-10 महीने लगते हैं।

डेपो-प्रोवेरा के लाभ 

  • विश्वसनीय और प्रभावी। 
  • लंबे समय तक बिना तनाव के सेक्स किया जा सकता है। 
  • कोई रखरखाव नहीं। 
  • बहुत कीमती नहीं है। 

डेपो – प्रोवेरा की हानियाँ 

  • नियमित डॉक्टरी सलाह की ज़रूरत। 
  • यदि आप गर्भधारण करना चाहती हैं तो प्रजनन क्षमता तुरंत वापस नहीं आती है। 
  • अनियमित मासिक धर्म या अन्य दुष्प्रभावों का कारण बन सकता है।
  • यह यौन संचारित रोगों से सुरक्षा प्रदान नहीं करता है।

कोई सवाल? नीचे टिप्पणी करें या हमारे चर्चा मंच पर एलएम विशेषज्ञों से पूछें। हमारा फेसबुक पेज चेक करना ना भूलें।


 

क्या आप इस जानकारी को उपयोगी पाते हैं?

Comments
नई टिप्पणी जोड़ें

Comment

  • अनुमति रखने वाले HTML टैगस: <a href hreflang>