A hairy girl is a social outcast
Bogella under CC licence

"शरीर पर बालों वाली लड़की को सामाजिक जाति से बाहर समझा जाता है"

द्वारा Monica James जुलाई 11, 11:13 बजे
"मैं अपने पैरों के, हाथों के, कांख के और होठों के ऊपर के बालों को महीने में दो बार हटवाती हूँ, वो भी जब से मैं 15  साल की थी। और सच कहूँ तो यह बहुत बड़ा काम होता है," ऐसा शहनाज़ कहती है। 

वेक्सिंग, बोहों को करवाना, शेविंग- चाहे जो भी आपके पसंद का हथियार हो, बाल हटाना अपने आप में ही बहुत दर्दनाक एहसास है। यह महंगा है, कष्टदायक है और गन्दगी भी फैलती है। लेकिन मैं फिर भी यह करती हूँ क्यूंकि यह सच है की शरीर पर बालों वाली लड़की को सामाजिक जाती से बाहर समझा जाता है।"

शहनाज़ (असली नाम नहीं है) 26 साल की मुंबई में रहने वाली पी. आर. प्रोफेशनल है।

बाल दुखदायी हैं 

13 साल की उम्र से ही मेरे शरीर पर ज़रूरत से ज्यादा बाल होने की वजह से मैं मानती हूँ की बाल मेरे लिए सबसे ज्यादा दुखदायी रहे हैं। स्कूल में, आपके होठों के ऊपर एक छोटा सा बाल होने पर भी आपका नाम रख दिया जाता था - 'मुछड़', इसलिए मैंने यह कुछ ज्यादा जल्दी ही समझ लिया था की लड़की के शरीर पर बाल होने बिलकुल स्वीकार्य नहीं है।

निर्मम औरतें

आपको लगता होगा की लड़के इस बारे में सबसे ज़्यादा घटिया होते होंगे, लेकिन मेरे अनुभव में, इस मामले में लड़कियां ज़्यादा घटिया और निर्मम होती हैं। मुझे पता है की कुछ लोगों को बालों के दिखने से ही बहुत गुस्सा आ जाता है क्यूंकि उन्हें वो अस्वास्थ्यकर भी लगता है और उन्हें घृणा भी होती है, लेकिन जिस तरह से महिलाएं खुद दूसरी औरतों के शरीर पर बाल देखकर प्रतिक्रिया देती हैं, उस से मैं हैरान रह जाती हूँ। मतलब, आपको लगेगा की महिलाएं कम से कम इन चीज़ों को लेकर थोड़ा सहानुभूति दिखाएंगी लेकिन वो आपको ऐसे देखती है जैसे बताना चाह रही हों की आप कितनी कामचोर है। यह ऐसा है जैसे, "मैंने तो वेक्सिंग के लिए टाइम निकाल लिया, तो तुम क्यूँ नहीं निकल पायी?"

बालों के बगैर शरीर आकर्षक?

"मैं सच कहूँगी, मैं बाल इसलिए हटाती हूँ क्यूंकि बालों के बगैर शरीर बहुत आकर्षक लगता है और मुझे ऐसा लगता है लोग मुझे पसंद करेंगे। मुझे पता है महिलाओं के ऊपर बहुत ज़्यादा दबाव होता है एक तरह से दिखने का, जैसे की गोरापन, पतला होना, या और भी बहुत कुछ। लेकिन असल में यह है तो मेरी मर्ज़ी ना और मैं वो सब करुँगी जो मुझे अच्छा लगता है और अच्छा महसूस कराता है।

अपनी देखरेख करना

व्यक्तिगत तौर पर मुझे नहीं लगता की शरीर पर बाल होने में कोई बुरे है लेकिन यह अस्वास्थ्यकर हो सकता है, जैसे की कांख के बाल। हालाँकि की महिलाओं के लिए, शरीर के बाल हटाना उनके अपने देखबाल का ज़रूरी हिस्सा है। मैं एक पी. आर. प्रोफेशनल हूँ और अगर मैं बाल हटाने में सुस्ती दिखाओ, तो समझो मेरा तो व्यवसाय ही ख़त्म।

गलत

यह सब कुछ थोड़ा गलत तो है ही। क्यूंकि अगर कोई पुरुष अपने ऑफिस में थोड़ी दाड़ी के साथ आ जाये, तो उसे सेक्सी माना जाता है। लेकिन अगर मैं वेक्सिंग करना भूल जाओं और थोड़े से भी बालों के साथ ऑफिस आ जाओं, तो मुझे तो फूहड़ कहा जायेगा।"

जैसा जिसको भाय

"लेकिन हमेशा किसी और के सोचने की बात नहीं होती, मुझे खुद को अच्छा लगता है जब मैं वेक्सिंग से अपने पैरों के बाल हटा लेती हूँ। मुझे बिस्तर में भी ज़्यादा आत्मविश्वास आ जाता है।

मैं सराहना करती हूँ उन महिलाओं की जो अपने प्राकृतिक रूप को, यानी बालों के साथ शरीर को लेकर बिलकुल आत्मविश्वासी रहती हैं लेकिन मेरे लिए तो बाल हटाना ज़रूरी है। क्यूंकि जब बालों की बात हो, तो जैसा जिसको भाये!

फोटो: Bogella  CC  लाईसेन्स के अधीन

क्या शरीर पर बाल आपको अनाकर्षक लगते हैं? यहाँ अपनी राय लिखिए या फेस बुक पर हो रही चर्चा में हिस्सा लीजिये। 

अपनी प्यार, सेक्स और रिश्तों से सम्बंधित कहानियां हमें बताइए।  ईमेल करिए।

शरीर के बालों पर अधिक जानकारी

क्या आप इस जानकारी को उपयोगी पाते हैं?

Comments
नई टिप्पणी जोड़ें

Comment

  • अनुमति रखने वाले HTML टैगस: <a href hreflang>