लैंगिक अभिविन्यास/लैंगिक-रुझान

All stories

कानूनी रूप से अपना लिंग/नाम कैसे बदलें?

यौन विभिन्नता
क्या आपने अपने लिंग/नाम में परिवर्तन किया है लेकिन स्कूल के उस पहचान पत्र कार्ड में अभी भी वही पुराना विवरण है? आप अपना नाम और लिंग कानूनी रूप से कैसे परिवर्तित करा सकते हैं? इस लेख में हम आपको इससे जुड़ी सारी जानकारी देंगे।

मेरे पहले गे सेक्स की अजीबोगरीब कहानी

लैंगिक अभिविन्यास/लैंगिक-रुझान
रुचित जब कॉलेज में था तब उसे एहसास हुआ कि वह समलैंगिक है। उसे लगता है कि उसके पहले सेक्स का अनुभव बहुत ही अजीब था क्योंकि वह तब अपने सेक्सुअल ओरिएंटेशन को लेकर कन्फ्यूज था। उसने लव मैटर्स से अपनी कहानी बतायी।

'मन मेरा मन'-फिल्म समीक्षा

यौन विभिन्नता
कोविड 19 महामारी ने हमें यह एहसास दिलाया है कि सेहत कितनी ज़रूरी है, खासतौर से मानसिक सेहत। 'मन मेरा मन' ऐसी ही एक फिल्म है जो प्रतीक - फिल्म के मुख्य समलैंगिक किरदार - की कहानी को खूबसूरती से प्रस्तुत करते हुए, मानसिक सेहत के मुद्दे पर रोशनी डालती है कि कैसे वह अपने मानसिक सेहत की परेशानियों से पीड़ित होता है और उनसे जूझता है। अन्वेष ने हमारे लिए इस फिल्म की समीक्षा की है।

'तुम्हें क्यूट लड़कों को डेट करना चाहिए'

यौन विभिन्नता
ट्विंकल ने अपनी चाची को बताया कि वह लेस्बियन (समलैंगिक) है। उसकी चाची ने उसे लड़कों से मिलने की सलाह दी। क्या उसकी चाची समझी नहीं या गड़बड़ कुछ और थी? ट्विंकल ने अपनी कहानी लव मैटर्स इंडिया के साथ शेयर की।

‘बहुत क्यूट हो’ कह कर अक्षय ने मुझे किस किया!

यौन विभिन्नता
स्कूल के आखिरी दिन जब मानव ने अक्षय को प्रपोज किया, तब उसने साफ मना कर दिया। रिजेक्शन का असली कारण उसे शायद ही मालूम था। आगे क्या हुआ? मानव ने लव मैटर्स इंडिया के साथ अपनी कहानी साझा की।

जब पहली बार मैंने एक लड़की को किस किया

यौन विभिन्नता
पलक ने रुही के साथ रूममेट की तरह रहना शुरू किया था और उसे खूब पसंद करती थी। एक दिन रूही ने उससे पूछा कि क्या उसने कभी किसी औरत को किस किया है। फिर क्या हुआ? जानने के लिए आगे पढ़ें।

मैं गे और 'नार्मल' हूं - बिलकुल आपकी तरह!

यौन विभिन्नता
‘अब जब मैं मंदिर जाता हूँ तो भगवान से अपने आप को ‘नॉर्मल’ बनाने की प्रार्थना नहीं करता, क्योंकि मुझे पता चल चूका है की मैं ‘नॉर्मल’ हूँ, और लोगों की सोच गलत है,’ अंश ने गैलक्सी वेबसाइट से कहा। आइये उसकी कहानी पढ़ते हैं।

मैं औरतों की तरह कपड़े पहनना चाहता हूँ, क्या मैं गे हूं?

लैंगिक अभिविन्यास/लैंगिक-रुझान
नमस्ते आंटी जी, जब मैं अकेला होता हूं तो मेरा मन करता है कि मैं महिलाओं की तरह कपड़े पहनूं और मेकअप करुंI क्या इसका अर्थ है कि मैं समलैंगिक हूं? समीर, 21, पटना