STD or STI
Shutterstock/diy13

सेक्स संक्रमित रोग: पांच बड़े तथ्य

द्वारा Stephanie Haase अप्रैल 24, 02:57 बजे
STDs या सेक्स संक्रमित रोग वाकई सेक्स के खतरनाक साइड इफेक्ट्स साबित हो सकते हैं। हर साल 333  मिलियन लोग दुनिया भर में सिफिलिस, गोनेरिया, क्लामिडिया या त्रिकोमोनिअसिस से संक्रमित होते हैं, जोकि सेक्स से फैलने वाले 4  सबसे आम रोग हैं।

इनसे रक्षा करना मुश्किल काम नहीं है, लेकिन ज़रूरी है क्यूंकि इनमे से कुछ लाइलाज हैं और मौत का कारण भी बन सकती हैं। आइये इन घातक बिमारियों के बारे में कुछ जानकारी शेयर करते हैं।

  1. नाम का रहस्य STI और STD में फर्क है। असुरक्षित सेक्स के कारण आपको संक्रमण(STI ) या इन्फेक्शन हो सकता है। और इसी इन्फेक्शन के लक्षण यदि आपको दिखने लगें जैसे की लिंग या योनि से असहज रिसाव होना, तो शायद आपको सेक्स संकर्मित बीमारी(STD ) हो गयी है। तो असल में STI और STD में फर्क सिर्फ इतना है की क्या आपको लक्षण दिखाई दे रहे हैं या नहीं। दोनों ही स्थिति में, यदि इन्फेक्शन हो चूका है तो असुरक्षित सेक्स से आप किसी और व्यक्ति को भी संक्रमित कर सकते हैं।
  2. प्रोटेक्शन STDs का प्रभाव आपके स्वास्थ्य पर बुरे असर से लेकर मृत्यु तक हो सकता है। लेकिन इस सब से बचाव का एक बहुत ही साधारण और आसान उपाय है जिसके बारे में हम सब जानते हैं- कंडोम का प्रयोग! शायद अपने सुना हो की सेक्स के बाद अपने गुप्तांग धोने से आप संक्रमण से बचाव कर सकते हैं, लेकिन ये सच नहीं है। सच ये है की इस से बचाव का एकमात्र तरीका है कंडोम की मदद से सुरक्षित सेक्स। दूसरा तरीका है की आप सेक्स ही न करें! तो आप खुद तय कीजिये की कौनसा तरीका बेहतर है। महिलाओं के पास HP वायरस से सुरक्षा के लिए वैक्सीन लगाने का भी विकल्प है। STD से सर्वाइकल कैंसर भी हो सकता है।
  3. कारण और उपचार STD की वहज बैक्टीरिया, वायरस या पैरासाइट हो सकते हैं। और ये किसी डायन या राक्षस से नहीं आते। इसका अर्थ ये है की इनके उपचार के लिए भी इन्हें नष्ट करने की दवाई का सहर लिया जाना चाहिए। इनके उपचार से सम्बंधित बहुत सी अफवाहें प्रचलित हैं। जैसे की कुंवारी लड़की से सम्भोग करना, गुप्तांगों को सोडा में डूबकर रखना, या फिर पूजा पाठ करना। एक बात तो तय है, STD का इलाज़ दवा है, दुआ या पूजा पाठ नहीं!
  4. टेस्ट कराएं! STD से जुडी एक समस्या ये है की शायद आपको पता न चले की आप संक्रमित हैं और आप ये संक्रमण असुरक्षित सेक्स के ज़रिये दूसरों को भी दे रहे हों। लक्षणों के सामने आने में काफी समय भी लग सकता है। जैसे की HIV के केस में आप 10 साल से संक्रमित हो सकते हैं, और शायद आपको पता भी न हो। तो यदि आपका साथी स्वस्थ लगता है, इसका अर्थ ये नहीं की आप दोनों सुरक्षित हैं। तो इसीलिए ये अतिआवश्यक है की यदि आपने असुरक्षित सम्भोग किया है तो आप अपनी शारीरक जांच करवाएं। क्यूंकि इस संकरण के उपचार से आप HIV जैसे दुसरे संक्रमण से तो अपनी रक्षा कर ही सकते हैं।
  5. काफी लम्बी दूरी...हम सभी भाग्यशाली हैं की मेडिकल साइंस STD के उपचार में काफी कारगर साबित हुआ है। एंटीबायोटिक्स से पहले सिफिलिस जैसे संक्रमण के उपचार के लिए मरकरी, आर्सेनिक और सिल्वर नाइट्रेट जैसे पदार्थों का प्रयोग किया जाता था। तो इस से इलाज तो हो जाता था, लेकिन कुछ हानिकारक प्रभाव पीछे छूट जाते थे जो त्वचा को नुकसान पहुंचाते थे।लेकिन याद रखिये, हर सेक्स संक्रमित बीमारी का इलाज संभव नहीं है। एड्स जानलेवा है। तो ये ज़रूरी है की आप इस सब से अपने आपको बचाए रखें। यदि आप आपके आपको सुरक्षित रखेंगे तो आपको इलाज के बारे में सोचने की ज़रूरत ही नहीं पड़ेगी।

यह लेख पहली बार 9 मार्च, 2013 को प्रकाशित हुआ था।

क्या आपके पास एसटीडी / एसटीआई पर कोई सवाल है? इस बारे में हमारे फोरम जस्ट पूछो पर चर्चा करें या फेसबुक के ज़रिये हमसे संपर्क करेंI

क्या आप इस जानकारी को उपयोगी पाते हैं?

Comments
Sex se aisa koi nuksaan nahi hai jab tak who safe hai, dono logo ki sehmati se hai. Lekin 18 saal se kam umar ki mahila ke saath kiya gaya sex chahein woh uski marzi se hee kyun na kiya gaya ho RAPE ki category mein aata hai. Isliye aisi baton ka vichar karne wale viyakti ko netik-anetik baton ka vichar karna chahiye.Theek hai. https://lovematters.in/hi/love-and-relationships/do-indian-men-not-understand-consent Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain toh hamare Discussion Board “Just Poocho” mein zaroor shamil ho! https://lovematters.in/en/forum
Rahul bete yeh kisi sankraman ke lakshan ho sakte hai iske liye aap kisi vishesagya ya ek ahhe panjikrit doctor se mill lijiye. Ise padhiye: https://lovematters.in/hi/safe-sex/stdsstis Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain to hamare disccsion board “Just Poocho” mein zaroor shamil ho! https://lovematters.in/en/forum
Bete hastmaithun ek safe /surakshit tareeka hai apni santushti karne ka. Isse koi nuksaan ya beemari nahi hoti. Yadi chahein toh bahut see activities hai, jinmein aap samya bitah sakte hai. jaise ki khel – games, gym ya koi hobbies…ok? Yeh bhee padhiye: https://lovematters.in/hi/resource/men-masturbating Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain to hamare disccsion board “Just Poocho” mein zaroor shamil ho! https://lovematters.in/en/forum
मेरे सेक्स करने के बाद यादी कोई दूसरा सेक्स करता है तो उसकी टेस्ट में पहचान की जाएगी कितने व्यक्ति से सेक्सी किए गया हैं गर्व किसका है
नहीं यह पता नहीं लगाया जा सकता है कितने लोगों के साथ सेक्स किया है या नहीं किया है। ना ही यह किसी के साथ किया जाना चाहिए। यदि इस मुद्दे पर आप और गहरी चर्चा में जुड़ना चाहते हैं, तो हमारे डिस्कशन बोर्ड, " जस्ट पूछो" में ज़रूर शामिल हों. https://lovematters.in/en/forum
Sahil bete yeh kisi sankraman ke karan ho sakta hai, please iske baare mein kisi panjikrit doctor se consult kijiye. Jara yeh writup bhi padh lijiye : https://lovematters.in/hi/making-love/turned-on-by-older-women-is-that-normal https://lovematters.in/hi/making-love/should-i-sleep-with-my-neighbourhood-bhaabhi Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain to hamare discussion board “Just Poocho” mein zaroor shamil ho! https://lovematters.in/en/forum
Bete oral sex karne mein koi samsya nahi maslan saaf-safai ka poora dhyan rakha gaya ho aur ismein dono partners ki barabar marzi shamil ho toh! Aur behtar hoga yadi condom ka istemal kiya jaye aur yaha padh lijiye : https://lovematters.in/hi/making-love/ways-to-make-love/oral-sex-dos-and-donts https://lovematters.in/hi/making-love/ways-to-make-love/cunnilingus-the-ultimate-dos-and-donts Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain to hamare discussion board “Just Poocho” mein zaroor shamil ho! https://lovematters.in/en/forum
नई टिप्पणी जोड़ें

Comment

  • अनुमति रखने वाले HTML टैगस: <a href hreflang>