Syphilis
© Love Matters

सिफि़लिस

सिफि़लिस एक ऐसी यौनसंचारित रोग (एसटीडी) है जो ट्रिपोनीमा पैलीडियम नामक जीवाणु से होता है।

इसे ‘बड़ा नकलची (ग्रेट इमीटेटर)’ कहा जाता है क्योंकि इसके लक्षणों को दूसरी यौनसंचारित रोगों से अलग पहचान करना अक्सर मुश्किल होता है। सिफि़लिस का इलाज आसानी से किया जा सकता है। दुर्भाग्य की बात यह है कि अधिकांश संक्रमित व्यक्तियों को पता नहीं चलता कि उन्हें सिफि़लिस हो गया है।

यदि आप सिफि़लिस का इलाज नहीं कराते हैं तो आगे चलकर आप अंधे हो सकते हैं, दिमागी संतुलन बिगड़ सकता है अथवा मृत्यु भी हो सकती है।

सिफि़लिस कैसे होता है?

सिफि़लिस के घाव के संपर्क में आने से आपको सिफि़लिस होता है।

अक्सर यह असुरक्षित मुख, योनि या गुदा मैथुन करने से होता है। कभी-कभार किसी संक्रमित व्यक्ति के शरीर पर सिफि़लिस के घाव के संपर्क में आने से भी आपको सिफि़लिस हो सकता है। लेकिन इसकी संभावना कम होती है।

 

सिफि़लिस से आप कैसे बच सकते हैं?

1. हमेशा कंडोम का प्रयोग करें।

कंडोम के प्रयोग से आपको सिफि़लिस होने का जोखिम कम हो जाता है। हालांकि उनसे सिफि़लिस होने के जोखिम को पूरी तरह खत्म नहीं किया जा सकता है। सिफि़लिस के घाव केवल उन्हीं जगहों पर नहीं होते जो कंडोम से ढकी होती हैं, इसलिए कंडोम पहनने के बावजूद आपको सिफि़लिस हो सकता है।

2. अपने और अपने साथी की सिफि़लिस के लिए जांच कराएं।

जब भी आप किसी नए साथी के साथ सेक्स करने वाले हैं तो सेक्स करने से पहले जांच कराएं। हो सकता है कि आपको या आपके साथी को सिफि़लिस हो, और उन्हें इसकी जानकारी न हो।

3. यदि आपको पेशाब करते समय असामान्य स्राव, घाव या दर्द हो तो सिफि़लिस और दूसरे यौनसंचारित रोगों की जांच कराएं।

इनमें से कोई लक्षण होने का मतलब है कि कुछ न कुछ गड़बड़ है। अपने साथी को भी इसके बारे में बताएं, जिससे वह भी अपनी जांच करवा सकें और इलाज करा सकें। अन्यथा आप और आपके साथी को एक-दूसरे से  सिफि़लिस लगता रहेगा।

 

सिफि़लिस के लक्षण क्या हैं?

सिफि़लिस के शुरुआती लक्षण संक्रमण के तीन महीनों के भीतर नज़र आ जाते हैं। आम तौर पर महिलाओं तथा पुरुषों दोनों में ही उनके जननांगों पर बिना दर्द वाले एक या दो फोड़े या दानें निकलते हैं। इन दानों को शैंकर्स भी कहते हैं।

चित्रः योनि में सिफि़लिस का घाव

ध्यान रहे, यदि आपको सिफि़लिस हुआ है, तो वह दिखाए गए चित्रों से बिलकुल अलग भी दिख सकता है! कभी-कभार कुछ भी नज़र नहीं आता। यदि आपको कोई षंका है, तो डॉक्टर के पास या क्लीनिक जाएं।

शैंकर्स बिना किसी इलाज के तीन से छह हफ्तों में ठीक हो जाते हैं। लेकिन आप अभी भी सिफि़लिस से संक्रमित होते हैं। यदि इसका इलाज नहीं किया जाता है तो यह दूसरी अवस्था ले सकता है।

महिलाओं में शैंकर्स  निम्नलिखित जगहों पर दिख सकते हैं:

  • भग (जननांग का बाहरी हिस्सा)
  • गर्भग्रीवा (सर्विक्स)
  • गुदा
  • मुंह

पुरुशों में शैंकर्स निम्नलिखित जगहों पर दिख सकते हैं:

  • लिंग
  • गुदा
  • मुंह

सिफि़लिस की दूसरी अवस्था
सिफि़लिस के पहले लक्षण दिखने के तीन से छह महीनों बाद यह रोग फिर से उभर आता है।
 
सिफि़लिस की दूसरी अवस्था के लक्षण हैं:

  • फ्लू होने जैसे बीमार पड़ना, साथ ही थकान और भूख न लगना
  • पूरे शरीर पर बिना खुजली वाले ददोरे या चकत्तों के रूप में निकलना
  • हाथों की दोनों हथेलियों तथा पैर के तलवों पर खुरदुरे, लाल या लालिमा लिए भूरे ददोरे
  • जननांगों के आस-पास चपटे मस्से जैसे दाने निकलना
  • गुदा के आस-पास चपटे मस्से जैसे दाने निकलना
  • जगह-जगह से बाल झड़ना

चित्रः पैर के तलवों पर लाल या भूरे चकत्ते

बायें चित्रः पीठ पर सिफि़लिस के ददोरे या घाव

ध्यान रहे, यदि आपको सिफि़लिस हुआ है, तो वह दिखाए गए इन चित्रों से बिलकुल अलग भी दिख सकता है! कभी-कभार कुछ भी नज़र नहीं आता। यदि आपको कोई षंका है, तो डॉक्टर के पास या क्लीनिक जाएं।

सिफि़लिस की पहली अवस्था की तरह ये लक्षण भी बिना किसी इलाज के खत्म हो जाते हैं। लेकिन आप अभी भी सिफि़लिस से संक्रमित होते हैं। यदि इसका इलाज नहीं किया जाता है तो यह धीरे-धरे आखिरी अवस्था में पहुंच जाता है।

सिफि़लिस की बाद की अवस्थाएं

पहली बार सिफि़लिस का संक्रमण होने के 20 से 30 वर्षों तक आपको बिना किसी लक्षण दिखे सिफि़लिस का संक्रमण बना रह सकता है। हालांकि इस बार सिफि़लिस चुपचाप आपके स्नायु तंत्र (नर्वस सिस्टम) को नुकसान पहुंचा रहा होता है।

सिफि़लिस संक्रमण के बाद के लक्षण में शामिल हैं:

  • मांसपेशियों की गति में कठिनाई
  • लकवा
  • सुन्न पड़ना
  • अंधापन
  • विक्षिप्तता (भूलने  की स्थिति)
  • मृत्यु

सिफि़लिस और गर्भावस्था

यदि आप गर्भवती हैं और सिफि़लिस से संक्रमित हैं, तो यह आपसे, आपके होने वाले बच्चे को लग सकता है। यदि आप गर्भावस्था के शुरुआती दिनों में खून की जांच कराती हैं, तो उसमें सिफि़लिस की जांच भी आम तौर पर शामिल की जाती है।

सिफि़लिस की जांच कैसे कराएं?

पुरुषों और महिलाओं दोनों में सिफि़लिस की जांच एक ही तरह से की जाती है। डाक्टर खून का सैम्पल लेकर सिफि़लिस की जांच करते हैं। वह इस बात की भी जांच करेंगे कि आपके शरीर पर कोई ऐसे ददोरे या घाव तो नहीं हैं, जो सिफि़लिस के कारण होते हैं।

सिफि़लिस से छुटकारा कैसे पाएं?

खासकर शुरुआती अवस्था में सिफि़लिस का इलाज आसानी से किया जा सकता है।

आपको ऐंटीबायोटिक की सूई लगाई जाती है और/या ऐंटीबायोटिक दवाओं की पूरी खुराक लेने के लिए दी जाती है। दवाएं लेने से जीवाणु नश्ट हो जाते हैं, लेकिन इससे देर तक संक्रमण रहने के कारण हुए किसी नुकसान को ठीक नहीं किया जा सकता।

इलाज पूरा हो जाने के बाद, हो सकता है आपको दुबारा इस बात की जांच करने के लिए बुलाया जाए कि सिफि़लिस का संक्रमण पूरी तरह खत्म हो गया है कि नहीं।
एक बार सिफि़लिस का संक्रमण हो जाने पर आप पूरे जीवन इसकी प्रतिरोधी क्षमता नहीं विकसित कर लेते। आपको फिर से यह रोग हो सकता है, इसलिए यह ज़रूरी है कि आप दुबारा संक्रमण होने से अपने-आप को बचाएं।

क्या आप इस जानकारी को उपयोगी पाते हैं?

Comments
सर धन्यवाद में समज रहा था की ये बहुत खतरनाक बीमारी है जिसका कभी भी इलाज संभव नहीं लेकिन आप ने इसको जिस तरह से समजाया वो बहुत ही अच्छा लगा
Ji haan, Aanchal bete. Agar aap dono ki poori sehmati hain toh aap condom ka istemaal karte hue sex kar sakte hain. https://lovematters.in/hi/resource/safe-sex https://lovematters.in/hi/resource/using-condoms https://lovematters.in/hi/resource/condoms https://lovematters.in/en/news/using-condoms-dos-and-donts Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain toh hamare discussion board “Just Poocho” mein zaroor shamil hon! https://lovematters.in/en/forum
Hello sir, Mai vishal meri wife pregnant hai jiska VDRL test positive aaya h. Jabki ye test ab mijhe bhi karwana h. Aap ye bata sakte h ki hamare hone wale bachche ko toh syphilis nahi hoga agar hum abhi se ilaj karwa le toh. Abhi pregnancy ke three months pure huye hh.
Vishal bete iske liye aap kisi vishesagya ya ek achche panjikrit doctor se mill lijiye aur unke nirdesh ka palan kijiye. https://lovematters.in/hi/safe-sex/stdsstis/syphilis Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain to hamare disccsion board “Just Poocho” mein zaroor shamil ho! https://lovematters.in/en/forum
Jee han bête penicillin ka course poora hone par bhee VDRL positive ho sakta hai. Penicillin ek basic antibiotic dawa hai aur VDRL ek STD test hai. VDRL ke liye aap kisi vishesagya ya ek achche panjikrit doctor se mill lijiye. Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain to hamare disccsion board “Just Poocho” mein zaroor shamil ho! https://lovematters.in/en/forum
बेटे इसके लिए किसी विशेषग्य या अच्छे पंजीकृत doctor से मिल लिजिए. https://lovematters.in/hi/safe-sex/stdsstis/syphilis यदि इस मुद्दे पर आप और गहरी चर्चा में जुड़ना चाहते हैं, तो हमारे डिस्कशन बोर्ड, " जस्ट पूछो" में ज़रूर शामिल हों. https://lovematters.in/en/forum
Bete bina condom ke sex karna apne aap mein ek safe idea bilkul bhee nahi hai. Isse anchahe garbh ke saath kai youn rog hone kaa bhi khatra ho sakta hai. Lekin jaha tak HIV ki baat hai toh agar aapke partner ko HIV positive hai toh aapko bhee hone ki sambhavana hai yadi nahi hai toh nahi. Yadi jis viykati ke saath aap unsafe sex kar rahe hain use HIV Positive hai toh HIV hone ki sambhavna hai. Duniya bhar mein sabse adhik HIV casess, sex ke zariye hue hain. Lekin HIV aur bhi kai asurakshit karano se hota hai. Agar aapko sandeh ho raha ho toh HIV aur STD ka test kara lijiye kisi panjikrit lab se ya sarkari asptaal se. Zara ise padh lijiye: https://lovematters.in/hi/resource/hiv https://lovematters.in/hi/safe-sex/stdsstis/hivaids-top-five-facts https://lovematters.in/hi/birth-control/we-had-sex-without-condoms-help Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain to hamare disccsion board “Just Poocho” mein zaroor shamil ho! https://lovematters.in/en/forum
1.पेनिस के शिश्न के किनारे पहले खुजलाया और दाने दाने उग गए है । अब नही खुजलाता है,परंतु दाने अभी भी है। 2.अब पूरा शरीर खुजलाता है क्या हमें सिफलिस तो नही हो गया है, कृपया हमें जानकारी दे सर।
बेटे please इसके लिए किसी विशेषग्य या अच्छे पंजीकृत doctor से मिल लिजिए. यदि इस मुद्दे पर आप और गहरी चर्चा में जुड़ना चाहते हैं, तो हमारे डिस्कशन बोर्ड, " जस्ट पूछो" में ज़रूर शामिल हों. https://lovematters.in/en/forum
Sex k 6 mounth bad vdrl positive aya tha uske bad penicilin injection liye to thik ho gya or iske sath hiv test v kraya jo negative aya or abb sex k 12 month ho chuke h fir se elisa test karbaye to negativ hi aya to kya hm man le k abb hiv hone k khatre se dur h ya fir kavi karana parega
Sonu bete yadi is test ke baad apne koi unsafe sex nahi kiya hao toh aap is test ko final maan sakte hain. Hum umeed karte hain ki apne yeh test kisi panjikrit lab se karwaya hai. https://lovematters.in/hi/resource/hiv https://lovematters.in/hi/safe-sex/stdsstis/hivaids-top-five-facts Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain to hamare discussion board “Just Poocho” mein zaroor shamil ho! https://lovematters.in/en/forum
Manoj bete please iske baare mein aap apne doctor ke regular consult mein rahiye aur unke nirdesh ka palan kijiye. Ise bhee padh lijiye: https://lovematters.in/hi/safe-sex/stdsstis/syphilis Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain to hamare discussion board “Just Poocho” mein zaroor shamil ho! https://lovematters.in/en/forum
नई टिप्पणी जोड़ें

Comment

  • अनुमति रखने वाले HTML टैगस: <a href hreflang>