Sex during pregancy
Shutterctock/Creativa Images

प्रेगनेंसी के दौरान सेक्स सुरक्षित है या नहीं?

द्वारा David Joshua Jennings सितम्बर 27, 10:19 पूर्वान्ह
क्या प्रेगनेंसी के दौरान सेक्स करने से भ्र्रूण को नुक्सान पहुँच सकता है? आपको क्या बातें ध्यान में रखनी चाहियें? चलिए पड़ते हैं कुछ तथ्य...

ये सिर्फ सुरक्षित ही नहीं बल्कि आपके लिए अच्छा भी है 

प्रेगनेंसी के हर चरण पर सेक्स करना सुरक्षित ही होता है, लेकिन आपको हमेशा अपने डॉक्टर से इस बारे में सलाह ज़रूर लेनी चाहिए की कहीं आपके गर्भ धारण को लेकर इससे कोई परेशानी तो नहीं होगीI अगर पहले आपको गर्भपात हुआ है, तो शायद आपका डॉक्टर आपको सलाह दे की प्रेगनेंसी के पहले चरण में, यानी पहले तीन महीनों तक आप सेक्स ना करेंI 

लेकिन अगर आपकी प्रेगनेंसी में कोई परेशानी नहीं है, तो आप प्रेगनेंसी के आखिरी चरण तक सेक्स कर सकते हैंI और अपने बच्चे की चिंता ना करें: बच्चा माँ के गर्भ में बहुत अच्छे से सुरक्षित होता हैI  योनि के अंदर लिंग डालने से उसको कोई नुक्सान नहीं पहुँचताI 

हाँ ये ज़रूर है की सेक्स की कुछ मुद्राएं आपको कम्फर्टेबल ना लगे और ये भी  याद  रखना ज़रूरी है की आपके पेट पर किसी भी तरह का दबाव ना पड़ेI जी हाँ, प्रेगनेंसी के दौरान सेक्स आपके लिए और आपके बच्चे के लिए अच्छा भी साबित हो सकता हैI  इससे आपको कामुक आनंद तो मिलता ही है और शरीर की कसरत भी होती है I 

प्रेगनेंसी के दौरान सेक्स करने से आपको बहुत अच्छा और खुशनुमा महसूस हो सकता है I और ये भावनाएं आपके बच्चे तक भी पहुँचती हैंI और अगर आपका बच्चा जल्द ही आने वाला है तो सेक्स शायद आपको लेबर के लिए भी तैयार करता है, क्योंकि ओर्गास्म आपके गर्भाशय को सिकुड़ने में मदद करता है जो की लेबर के दौरान काम आता हैI और पुरुष का वीर्य में एक हार्मोन होता है जिसे प्रोस्टाग्लेडिन कहते हैं, और ये गर्भाशय ग्रीवा को मुलायम बनाता है और लेबर के दौरान सिकुड़न में मदद भी करता हैI

सही सेक्स पोजीशन ज़रूरी है 

जैसे- जैसे आपकी प्रेगनेंसी आगे बढ़ती है और आपके शरीर में बदलाव आते हैं, तो आपके सबसे पसंदीदा सेक्स मुद्राएं /पोजीशन शायद आपके लिए सही और कम्फर्टेबल साबित ना होंI ऐसी सेक्स मुद्राएं जो की आपके पेट पर वज़न डालती हैं वो आपके लिए दर्दनाक साबित हो सकती हैंI 

लेकिन आप रचनात्मक बनिए और कुछ नयी मुद्राएं करने की कोशिश करियेI मदद के लिए तकियों का इस्तेमाल भी करियेI कोई भी मुद्रा जो की महिला को नीचे की तरफ रखेगी वो प्रेगनेंसी के दौरान तकलीफदेह साबित हो सकती हैI एक दूसरे के बगल की सेक्स मुद्रा इस्तेमाल कर सकते हैं और या जिसमे महिला ऊपर होI 

प्रेगनेंसी के हर चरण पर सेक्स मुद्राएं भी बदलनी ज़रूरी होंगीI इसके साथ-साथ आपको कोई लुब्रिकेंट यानी चिकनाई पदार्थ का इस्तेमाल भी करना पड़ेगा - क्योंकि प्रेगनेंसी के दौरान कभी-कभार प्राकर्तिक चिकनाई नहीं आ पातीI

इच्छाओं का उतार-चढ़ाव

प्रेगनेंसी के दौरान, दोनों माता और पिता की कामुक इच्छाओं में उतार-चढ़ाव आना नार्मल हैI प्रेगनेंसी के दौरान कुछ लोगों की कामुक इच्छाएं ज़ोर-शोर पर होती हैं और कुछ लोगों की बिलकुल दबी हुईI कुछ महिलाओं का सेक्स करने का बिलकुल मन नहीं करता - क्योंकि उन्हें यह भी लगता है की कही बच्चे को कोई नुक्सान ना पहुंचे या कहीं जल्द ही लेबर का दर्द ना शुरू हो जाये, और कुछ के लिए हार्मोन के बदलाव सेक्स इच्छा को बहुत बढ़ा देते हैं I 

कई बार, प्रेगनेंसी के पहले चरण के दौरान, बहुत सारी महिलाएं कमज़ोरी और अनकम्फर्टेबल महसूस करती हैंI इस दौरान उनका मन भी बहुत मिचलित होता हैI और प्रेगनेंसी के दूसरे चरण में, महिलाओं को उनके हार्मोन इन एकदम से बढ़ोतरी महसूस होती है जिससे उनकी सेक्स इच्छा बढ़ जाती हैI प्रेगनेंसी के आखिरी चरण में, पेडू के आस-पास के हिस्से में रक्त संचालन बढ़ जाने से, और गर्भनिरोधन की कोई चिंता ना होने के कारण से, और शरीर के कई भाग जैसे की स्तन ज़्यादा संवेदनशील हो जाने की वजह से कामुक इच्छाएं बढ़ जाती हैंI और इसी दौरान, पुरुष का अपने महिला साथी के कुछ हिस्सों के बढ़ जाने की वजह से, (जैसे की स्तन) उनकी कामुक इच्छा का बढ़ जाना भी नार्मल हैI

बात-चीत ज़रूरी है 

सेक्स के दौरान सबसे ज़्यादा ज़रूरी है खुल कर बात-चीत करनाI अपनी भावनाओं को छुपाइये मत और आपके मन में सेक्स को लेकर जो भी विचार आते हैं वो अपने साथी को बताइयेI और हाँ, अपने साथी को भी अपने मन की बात, कोई डर, कोई दबाव महसूस करने के बारे में बात करने के लिए प्रेरित करियेI 

अगर आप दोनों को एक दूसरे की  सेक्स इच्छा को लेकर कुछ बदलाव महसूस होते हैं तो वो नार्मल है और इस बारे में खुल कर बात करना बहुत ज़रूरी हैI सेक्स के दौरान भी इस बात पर ध्यान दीजिये की आपके साथी को क्या अच्छा लग रहा है और क्या नहींI 

आप पूछ सकते हैं: क्या तुम्हारे लिए ये सेक्स मुद्रा कम्फर्टेबल है? क्या तुम्हें बच्चे को नुक्सान पहुचने की चिंता है? क्या हम कुछ और मुद्रा ट्राय करें? अगर आपके डॉक्टर ने आपको सेक्स करने के लिए मन किया है, तो दूसरे और तरीके भी हैं आपस में कामुक होने के लिएI 

मुखमैथुन इसमें से एक तरीका है लेकिन ध्यान रखिये की आपका पार्टनर आपकी योनि में हवा न फूंक देI इससे आपके खून में बुलबुला बन सकता है जो की आपके और आपके बच्चे के लिए खतरनाक साबित हो सकता हैI आप दोनों साथ में रोमांटिक सैर, एक दूसरे को मालिश करने का और साथ में फिल्म देखने का मज़ा भी ले सकते हैंI

सेक्स से परहेज़ कब करें 

वो कपल्स जिनका पहले कभी गर्भपात हुआ है, या किसी और तरह की प्रेगनेंसी से जुडी परेशानी, उन्हें डॉक्टर सेक्स ना करने की सलाह दे सकते हैं, वो भी अधिकतर प्रेगनेंसी के पहले चरण मेंI इस चरण में, बच्चे के विकास में बहुत सारे बदलाव आ रहे होते हैंI इसलिए इस समय सावधानी बरतना बहुत ज़रूरी हैI 

इसी तरह से डॉक्टर शायद आपको प्रेगनेंसी के आख़िरी चरण में भी सेक्स ना करने की सलाह देंI इससे शायद इन्फेक्शन होने की सम्भावना भी बढ़ सकती हैI आपको सेक्स के लिए तब भी मना किया जा सकता है जब आपकी गर्भनाल में प्रॉब्लम होI 

और अगर आपका गर्भाशय ग्रीवा (सर्विक्स) समय से पहले डाईएलट हो जाता है तो भी इन्फेक्शन के डर के कारण आपको सेक्स से परहेज़ करने के लिए कहा जा सकता हैI तो प्रेगनेंसी के दौरान सेक्स करने में कोई परेशानी नहीं है, लेकिन आपकी गर्भावस्था को लेकर इस बारे में डॉक्टर से सलाह लेना बहुत ज़रूरी हैI अगर आपका डॉक्टर आपको सेक्स करने के लिए किन्ही कारणों से मन करे तो इसको अच्छे से समझाइये और इसका पालन भी करियेI हर एक की गर्भावस्था अलग होती है और इसलिए उससे जुड़ी ज़रूरतें और परहेज़ भीI इनका पालन करने से आप स्वस्थ्य और सुरक्षित प्रेगनेंसी का मज़ा ले सकते हैंI

तो आपकी प्रेगनेंसी पूरी हो चुकी है और आप सोच रहे है की कब से सेक्स करना दोबारा शुरू कर सकते हैं? पढ़िए इस बारे में हमारी टिप्सI

गोपनीयता का ध्यान रखते हुए नाम बदल दिए गए हैं और फोटो में मॉडल् हैं।  

हम प्रेगनेंसी के दौरान सेक्स पर आपकी राय जानना चाहेंगेI अगर आपके सवाल हैं तो नीचे टिप्पणी करें या हमारे चर्चा मंच पर विशेषज्ञों से पूछें। हमारा फेसबुक पेज चेक करना ना भूलें।

क्या आप इस जानकारी को उपयोगी पाते हैं?

Comments
नई टिप्पणी जोड़ें

Comment

  • अनुमति रखने वाले HTML टैगस: <a href hreflang>