Sex after pregnancy: do's and don'ts
Andy Dean Photography

गर्भवती होने के बाद सेक्स: क्या करें और क्या नहीं करें

द्वारा Stephanie Haase मई 7, 09:38 बजे
बच्चे को जन्म देना एक जादुई एहसास है। लेकिन कई बार फिर से सेक्स की शुरुवात करना ज़रा मुश्किल प्रतीत होता है। काफी युगलों को अंदाज़ा नहीं होता की फिर से प्यार की शुरवात का सही समय कब है, और किन बातों का ध्यान रखना है।

इस ज़रूरी निर्णय को लेने के लिए प्रस्तुत हैं हमारे कुछ टिप्स:

क्या करें:

  • ...समय लीजिये

प्रसव के दौरान संभव है की योनि में कोई सर्जिकल कट लगा हो या चोट पहुंची हो। कुछ घाव या टाँके भरने में समय लग सकता है। हाल ही में प्रसव से गुज़री महिलाएं इन् घावों के चलते तकलीफ महसूस कर सकती हैं।

तो अपने शरीर को फिर से स्वस्थ होने देने के लिए डॉक्टर आमतौर पर 4-6 हफ्ते तक सेक्स ना करने की सलाह देते हैं। लेकिन हर शरीर की कहानी दुसरे से अलग होती है इसलिए आप जब तक खुद तैयार ना महसूस करें, आपको जल्दबाज़ी नहीं करनी चाहिए।

  • अंतरंग पल...

सिर्फ इसलिए की अपने बच्चे को जन्म दिया है और आप सेक्स नहीं कर सकते, ये ज़रूरी नहीं की आप एक दूसरे के पास भी ना आएं। आप दोनों एक दूसरे को शारीरिक स्पर्श दे सकते हैं, चुम्बन या मुख मैथुन भी कर सकते हैं। लेकिन सावधानी रखना ज़रूरी है। महिला को मुख मैथुन के लिए भी कुछ दिन इंतज़ार करना चाहिए। हो सकता है की कोई इन्फेक्शन हो जो अभी सही ना हुआ हो।

प्रसव के बाद अंतरंगता महत्वपूर्ण है। बच्चे के साथ आई नयी ज़िम्मेदारियों के बीच आपका रिश्ता कहीं पीछे ना छूट जाये। तो सही समय पर सही अंतरंगता आपको अपने साथी से जोड़ कर रखेगी।

  • शामिल रहे...

नए पिताओं के लिए ये सब थोड़ा मुश्किल हो सकता है। उन्हें अक्सर अंदाज़ा नहीं होता के कब फिर से इसकी पहल की जानी चाहिए। नयी माँ अक्सर इस नयी ज़िम्मेदारी में इतनी व्यस्त हो जाती हैं की वो आपकी ज़रूरतों की तरफ शायद ध्यान ही ना दे पाएं। तो सही तरीका है खुद को शामिल करना। उनकी मदद की पहल करिये। बच्चे क्या ख्याल रखने की पहल कीजिये ताकि उन्हें आराम मिल सके। बहुत सी महिलाओं को अच्छे पिता का फ़र्ज़ अदा करने वाले पुरुष बहुत सेक्सी लगते हैं।

उन्हें घर में कैद ना रहने दें।  सैर के लिए या लंच के लिए बाहर लेकर जाइये। और अंत में सबसे ज़रूरी बात- उन्हें ये महसूस कराइये की वो बहुत आकर्षक हैं। शिशु के बाद बहुत सी महिलाएं अपने शरीर को फिर से सही शेप में लेन के लिए संघर्ष करती हैं। ऐसे में आपका उन्हें भरोसा दिलाना उन्हें आत्मविश्वास देगा।

क्या नहीं करें:

  • दबाव...

महिलाएं अपने शरीर में प्रसव के बाद कई बदलॉवों से गुज़रती हैं। इनमे से कुछ बदलावों का असर सेक्स लाइफ पर भी पड़ता है। योनि में सूखापन इनमे से एक है। तो इसके लिए अधिक लुब्रिकेशन का प्रयोग करना ज़रूरी है, ताकि सेक्स तकलीफ भरा ना हो।

लेकिन सेक्स अभी से ना शुरू करने के और भी कारण हैं। कुछ महिलाओं को प्रसव के बाद एक डिप्रेशन हो सकता है। इसका कारण शरीर में हार्मोन्स का बदलाव है। इससे उनकी सेक्स की चाह पर भी फर्क पड़ सकता है। या हो सकता है की इस सब के बाद आप मानसिक और शारीरिक रूप से थकान महसूस कर रहे हों।

वजह जो भी हो, ज़रूरी ये है की इस बारे में दबाव ना डाला जाये। अपने दिमाग को और शरीर को इसके लिए फिर से तैयार होने का पूरा समय दें।

  • ...अपने साथी को अपनी ज़रुरताएँ बताने में झिझक

अपने साथी से बिना कुछ कहे सबकुछ समझने की उम्मीद ना रखें। काफी कुछ बदल चूका है और इस सब को सामान्य होने में समय लगता है। पुरुष शायद ये ना समझ पाएं की इस दौरान स्तन संवेदनशील हो सकते हैं और उन्हें कोमलता से छूना ज़रूरी है ताकि दर्द ना हो। और महिलाओं को ये समझना मुश्किल हो सकता है की उनका पुरुष साथी शिशु जन्म को प्रत्यक्ष देखने के बाद फिर से सेक्स करने में असहज महसूस कर सकता है।

हर सामान्य रिश्ते की तरह से इस में भी खुलकर ईमानदारी से एक दूसरे से बात करने से ही बात बनेगी। अपने साथी को अपनी ज़रूरत बताएं और उनसे उनकी इच्छा जानें।

और फिर दोनों मिलकर कोशिश करिये। यदि आपकी अपेक्षा के अनुसार चीज़ें नहीं हो पा रहीं तो ज़्यादा परेशान ना हों। दोनों मिलकर हर गलत को सही कर सकते हैं।

  • ...घबराहट कुछ अजीब होने की

फिर से सेक्स शुरू करते हुए योनि के सूखेपन के अलावा और भी समस्याएं सामने आ सकती हैं। मूत्र का रिसाव होना भी असामान्य नहीं है। पेल्विक मसंपेशियों के वापस सामन्य होने में समय लग सकता है। केवल व्यायाम से इस समस्या का समाधान हो सकता है।

योनि में या आसपास दर्द महसूस होना भी सामान्य है। सामान्य से ज़्यादा सावधानी बरतें और उचित लुब्रिकेशन का इस्तेमाल करें। बरबस की स्तन से दूध निकलना भी संभव है। सेक्स से पहले बच्चे को दूध पिला देना अच्छा आईडिया है।

अच्छी खबर ये है की काजी महिलाएं प्रसव के बाद सेक्स का मज़ा ज़्यादा महसूस करती हैं और उन्हें एक साथ एक से अधिक ओर्गास्म भी हो सकते हैं। ये सुनकर आपको भी लगता है की अब देर नहीं करनी चाहिए, है ना?

यदि आपके पास भी इस से सम्बंधित कोई और टिप्स हैं तो यहाँ अपने कमेंट्स लिखें या फेसबुक पर इस चर्चा में हिस्सा लें।

क्या आप इस जानकारी को उपयोगी पाते हैं?

Comments
Nishan bete, yeh ek vyaktigat nirnay aur is par tippanni karna sambhav nahi hain. Yaad rakhiye sex se koi nuksaan nahi jab tak ki wo safe sex hai, yaani poori samjhdaari dono logo ki sehmati aur safety ke sath kiya gaya sex ho. https://lovematters.in/hi/resource/safe-sex Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain toh hamare discussion board “Just Poocho” mein zaroor shamil hon! https://lovematters.in/en/forum
नई टिप्पणी जोड़ें

Comment

  • अनुमति रखने वाले HTML टैगस: <a href hreflang>