man in problem
Shutterstock/Thaninee Chuensomchit

लिंग तनाव में परेशानी - मदद के लिए कहाँ जाएँ?

द्वारा Roli Mahajan जुलाई 24, 03:57 बजे
“जब हम बच्चे थे, तब हम सड़क के आजू-बाजु वाले सेक्स विज्ञापनों को देखकर मज़ाक बनाया करते थे," अभिनव का कहना है। "गुप्तांग की परेशानी? मदद के लिए फोन करिए!" "लेकिन जब मुझे खुद सेक्स करने में परेशानी होने लगी तब मुझे नहीं पता था की मैं मदद के लिए कहाँ जाऊ?

" भारत में अधिकतर हा मर्द से उम्मीद होती है की वो खुद ही सेक्स एक्सपर्ट होगा। उसको ज़रूरत थी किसी से अपनी परेशानी के बारे में खुल कर बात करने की, ना की कोई महंगी वाईग्रा viagra खरीदने की।

अभिनव (असल नाम नहीं है) एक २६ साल के इन्वेस्टमेंट बैंकर हैं।

मैंने बायोलॉजी (जीव-विज्ञानं) 12 वी कक्षा तक पढ़ी थी, लेकिन जो मैंने नहीं पढ़ा था वो यह की अगर आपको कोई गुप्तांग की या जननिय सम्बन्धी परेशानी हो, तो किसे संपर्क करें और कहाँ मदद के लिए जायें।

अगर मैं लड़की होता, तो शायद मेरे लिए आसान होता। मैं स्त्रीरोग विशेषज्ञ के पास जा सकता था। लेकिन मैं तो भारतीय लड़का था - तो मुझे मेरे लिंग की या गुप्तांग की कोई परेशानी होना मुमकिन था ही नहीं! मुझे सेक्स के बारे में सब कुछ पता भी होना ही चाहिए - चाहे वो जानकारी मुझे दुसरे लड़कों से या 'गूगल' करके ही क्यूँ ना मिली हो।

मैं उसे खुश नहीं कर पाया

तो 6 महीने पहले तक, जब मेरी गर्ल फ्रेंड थी, तब हम काफी बार सेक्स करते थे। मेरे दोस्त और साथ में काम करने वाले मुझे इर्ष्या की नज़र से देखते थे। लेकिन उन्हें क्या पता था की मेरी सेक्स लाइफ को नज़र लग गयी थी।

ऐसा भी समय था जब मुझे लगा की मैं ऐसा वीर्यवान मर्द था जो की मेरी गर्ल फ्रेंड चाहती थी, और मैं इस बारे में सोचकर इतना तनाव ले लेता था की मेरा लिंग खड़ा ही नहीं हो पाता था। मुझे इस बात की भी चिंता हो गयी थी की क्यूंकि सिर्फ अपनी इसी गर्ल फ्रेंड के साथ सेक्स कर रहा था, अगर मैं उसे संतुष्ट ना कर पाया तो?

असमंजस

दो महीने पहले मेरा मेरी गर्ल फ्रेंड से ब्रेक-अप हो गया। और मैं यह स्वीकारता हूँ की मेरा यह प्रेशर की 'मैं सेक्स के बारे में सब जानता हूँ' इस ब्रेक-अप का अहम् कारण था। मैं अभी भी अपनी उस गर्ल फ्रेंड के बारे में सोचकर भावुक हो जाता हूँ. लेकिन सबसे ज़्यादा डरा देने वाली बात थी की शायद मुझमे कुछ कमी है - या शायद मेरे लिंग में कोई परेशानी है। आखिर मैं ही क्यूँ ठीक से लिंग का तनाव और लिंग प्रेवेश नहीं कर पाया, जो की शायद सभी कर पाते हैं।

 

मैं इस बारे में किसी से बात करना चाहता था, लेकिन कौन? मैं डॉक्टर से मिलना चाहता था और अपना चेक-अप करना चाहता था, लेकिन इन सब चीज़ों को लेकर भी मैं असमंजस में था। अगर सच में मुझमे कमी हुई तो मैं कैसे इसे झेल पाउँगा? और गर मैं डॉक्टर के पास नहीं गया तो मैं कभी भी शायद मुझे पता ही नहीं चलेगा की आखिर मेरी परेशनी है क्या।

डर जाना?

एक और परेशानी यह थी की मैं ऐसे किसी डॉक्टर को  नहीं जानता था जो की पुरुष गुप्तांग विशेषज्ञ हो। मैं 'गूगल' पर भी बहुत ढूंढा और फिर एक विशेषज्ञ का नंबर मिला, जो की मेरे घर से ज़्यादा दूर भी नहीं था। मैंने पूरी हिम्मत जुटाई और उस डॉक्टर से मिलने गया। जब मैं वेटिंग रूम में घुस तो वहां बैठे आदमियों को देखकर मैं यह सोचने लगा की क्या इन सब को भी वही परेशानी है जो मुझे है? फिर मैं यह सोचने लगा की कहीं कोई जान-पहचान वाला तो मुझे यहाँ नहीं देख लेगा? क्या मुझे यहाँ से वापस चले जाना चाहिए? खैर, मैंने डॉक्टर से अपॉइंटमेंट के लिए 1000 रूपये खर्च किये थे और मेरे अन्दर के बैंकर ने मुझे ये रुपया यू ही बर्बाद ना करने दिया।

जल्दी

डॉक्टर से मिलते ही मैं संक्षेप्त में और हिचकिचाते हुए अपनी परेशानी बताई की मुझे कैसे लिंग तनाव में परेशानी आती है जब मैं अपनी गर्ल फ्रेंड के साथ सेक्स करना चाहता हूँ। वो डॉक्टर भी जल्दी में था और उसने मुझे पूरी तरह मेरे डर के बारे में बात करने का मौका ही नहीं दिया। जब मैं बोल रहा था तो वो लिख रहा था और फिर उसने बोल,"तुम बाहर की दूकान से यह 13000 रूपये की दवाई खरीद लो।" और प्रिस्क्रिप्शन देने के लिए उसने मना  कर दिया. मैं दंग रह गया।

मेरे दिमाग का एक हिस्सा मुझे वो दवाई खरीदने के लिए बोल रहा था, लेकिन दूसरा हिसा इतना पैसा खर्च करने से मना कर रहा था। मैं किसी को फोन करके सलाह लेना चाहता था और पूछना  था की क्या यह दवाई सही है - क्या मुझे यह दवाई खरीदनी चाहिए? लेकिन मैं अपने दोस्तों को कैसे बताऊंगा की यह 13000 की दवाई आखिर है क्या? मैं घर गया अपने आपको यह समझते हुए की मुझे कोई बीमारी और परेशानी नहीं। वो डॉक्टर ही पागल था।

लम्बी बात

घर पर मैं इन्टरनेट पर रोज़ की तरह बैठ गया। और फिर फेसबुक पर मैंने देखा की मेरा एक दोस्त प्रोस्टेट ग्रंथि कैंसर के बारे में जानकारी दे रहा था। उसने जो वेबसाइट का नाम दिया था मैंने वो देखि और मुझे उससे 'यूरोलॉजी' के बारे में पता चला, और यह भी की वो मेरे गुप्तांगों को देखकर बता सकते ही की मेरी परेशानी क्या है।

मैं डरा हुआ था लेकिन मैं 'गूगल' पर यूरोलोजिस्ट ढूंढा। और मुझे एक बुढे यूरोलोजिस्ट का पता मिला जिसने मेरी पूरी बात अच्छे से सुनी, मेरी पूरी तरह जांच करी और मुझे पूरा समय दिया। उसने मुझे कहा की मैं पूरी तरह ठीक हूँ और मुझे किसी टेस्ट की ज़रूरत नहीं। परेशानी मेरे लिंग की नहीं मेरे दिमाग की है - उसने कहा। मैं सेक्स अच्छा करूँगा या नहीं... अपनी गर्ल फ्रेंड को संतुष्ट कर पोंगा या नहीं...इन सब चीज़ों का सोचकर मैं इतना प्रेशर ले लेता था की मेरे लिंग के तनाव में परेशानी आ जाती थी - इसे 'परफॉरमेंस प्रेशर' कहते हैं। उसके बाद हमने लड़कियों के बारे में, अन्य लिंग परेशानियों के बारे में, और वापस उनसे मिलने आने के बारे में बहुत बातें करी।

 

मैं आशा करता हूँ की हर एक परेशानी से जूझने वाले को ऐसा डॉक्टर ज़रूर मिले। और अब मुझे तो पता ही है की मेरी गुप्तांग परेशानियों के लिए मुझे किसके पास जाना चाहिए।
 

यह लेख पहली बार 3 मई, 2013 को प्रकाशित हुआ था

*गोपनीयता बनाये रखने के लिए नाम बदल दिए गये हैं और तस्वीर में मॉडल का इस्तेमाल किया गया है।

 कोई यौन स्वास्थ्य परेशानी? हमारे फेसबुक पेज पर लव मैटर्स (एलएम) के साथ उसे साझा करें। यदि आपके पास कोई विशिष्ट प्रश्न है, तो कृपया हमारे चर्चा मंच पर एलएम विशेषज्ञों से पूछें।

हमें अपनी प्यार, सेक्स और रिश्तों से जुडी कहानियां बताइए। ईमेल करिए लव मैटर्स को।

'मेरी कहानी' श्रंखला के अन्य लेख

लिंग तनाव में परेशानी पर अधिक जानकारी

अगर आपको भी अभिनव जैसी परेशानी है तो आप हमारे पार्टनर FPA India से संपर्क कर सकते हैं, जो की आपको सही और गुप्त जानकारी देने में मदद करेंगे।

क्या आप इस जानकारी को उपयोगी पाते हैं?

Comments
Beta kahin aap apni gf ke saamne kisi tension, pressure mein toh nahi aa jate hain na? Tension ya pressure ke karan bhee ling me tanav ki kami ki samasya ho sakti hai. Yeh samjh lijiye ki ling me tanav ke liye bilkul tanav mukt hona zaruri hai bête. Jis baaray mein aur yaha padh lijiye : https://lovematters.in/hi/news/4-signs-you-have-erectile-dysfunction Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain to hamare discussion board “Just Poocho” mein zaroor shamil ho! https://lovematters.in/en/forum
Mera kam se kam 9 mahina pahle se night folo or dhat bhi girta h ho rha tha lekin jab kabhi yani 1 week me do bar ya ek bar phor mera march se jade ho gya iska lockdown ke chalte mai madician bhi liye kuchh mahino tk phir bhi thik nhi huaa phir mai janu me doctor ke pass gya or dawa bhi diye lekin thik nhi huaa ab mera ling me tanav nhi ho rha h aabhi tk dawa kha rha hoon ab mai kya karu ling me tanav nhi aane se me tension badata ja rha h
Bete aap doctor ke consult mein hain aur dawa bhi le rahen hain, lekin itna tension lijiyega toh ling mein tanav ki kami ki samasya ho sakti hai. Aur bete yeh smajh lijiye ki nightfall ya swapndosh bohot hi common baat hain isse na hi koi kamzori aati hai aur na kisi bhi tarah ki koi smasya hoti hai. Aur adhik jankari aap yaha se haaasil kar sakte hain: https://lovematters.in/en/news/wet-dreams-top-five-facts Aur yeh bhi samjh lijiye ki sex karney ke liye ya ling me tanav aane ke liye bilkul tanav mukt hona zaruri hai bête. Body ko apna kaam karne dijiye bête - aur yadi koi bimaari na ho to - ye thik ho jana chahiye. Ise padhiye: https://lovematters.in/hi/news/erection-trouble-where-turn https://lovematters.in/hi/news/4-signs-you-have-erectile-dysfunction Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain to hamare discussion board “Just Poocho” mein zaroor shamil ho! https://lovematters.in/en/forum
Beta kahin aap kisi tension, pressure mein toh nahi hain na? Tension ya pressure ke karan bhee ling me tanav ki kami ki samasya ho sakti hai. Yeh samjh lijiye ki ling me tanav ke liye bilkul tanav mukt hona zaruri hai bête. Jis baaray mein aur yaha padh lijiye : https://lovematters.in/hi/news/4-signs-you-have-erectile-dysfunction Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain to hamare discussion board “Just Poocho” mein zaroor shamil ho! https://lovematters.in/en/forum
Bête kahin aap kisi tension, pressure mein toh nahi hai na? Yeh samjh lijiye ki sex karney ke liye ya ling me tanav aane ke liye bilkul tanav mukt hona zaruri hai bête. Body ko apna kaam karne dijiye bête - aur yadi koi bimaari na ho to - ye thik ho jana chahiye. Ise padhiye: https://lovematters.in/hi/news/erection-trouble-where-turn https://lovematters.in/hi/news/4-signs-you-have-erectile-dysfunction Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain to hamare discussion board “Just Poocho” mein zaroor shamil ho! https://lovematters.in/en/forum
Tripurari bete iska karan hastmaithun nahi ho sakta hai, kyunki hastmaithun ek safe /surakshit tareeka hai apni santushti karne ka. Isse koi nuksaan ya beemari nahin hoti. Yeh bhee padhiye: https://lovematters.in/hi/resource/men-masturbating Tension ya pressure ke karan bhee ling me tanav ki kami ki samasya ho sakti hai. Yeh samjh lijiye ki ling me tanav ke liye bilkul tanav mukt hona zaruri hai bête. Jis baaray mein aur yaha padh lijiye : https://lovematters.in/hi/news/4-signs-you-have-erectile-dysfunction Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain to hamare discussion board “Just Poocho” mein zaroor shamil ho! https://lovematters.in/en/forum
Harsh bete iska karan hastmaithun nahi ho dsakta hai, Hastmaithun ek safe /surakshit tareeka hai apni santushti karne ka. Isse koi nuksaan ya beemari nahin hoti. Yeh bhee padhiye: https://lovematters.in/hi/resource/men-masturbating https://lovematters.in/hi/our-bodies/is-masturbation-unhealthy Kahin aap kisi tension, pressure mein toh nahi hai na? Yeh samjh lijiye ki sex karney ke liye ya ling me tanav aane ke liye bilkul tanav mukt hona zaruri hai bête. Body ko apna kaam karne dijiye bête - aur yadi koi bimaari na ho to - ye thik ho jana chahiye. Ise padhiye: https://lovematters.in/hi/news/erection-trouble-where-turn https://lovematters.in/hi/news/4-signs-you-have-erectile-dysfunction Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain to hamare discussion board “Just Poocho” mein zaroor shamil ho! https://lovematters.in/en/forum
नई टिप्पणी जोड़ें

Comment

  • अनुमति रखने वाले HTML टैगस: <a href hreflang>