Top facts on delayed ejaculation
AJP

स्खलन में देरी: पांच मुख्य तथ्य

द्वारा David Joshua Jennings जुलाई 27, 04:25 बजे
जिन लोगों को स्खलन होने में देरी की परेशानी होती है उनको उत्तेजना होने के बावजूद भी चरम तक पहुचने में और ओर्गास्म होने में परेशानी होती हैI पढ़िए पांच मुख्य तथ्य इस परेशानी के बारे में जिसकी जानकारी और समझ लोगों में बहुत कम हैI
  1. देरी से स्खलन आखिर किस तरह की समस्या है?
    अमेरिका की मनोविकृति सम्बन्धी संस्था का मानना है है की "लगातार ही स्खलन में देरी होना, और चरम तक ना पहुंच पाना और ओर्गास्म हो हो पाना जब पुरुष सेक्स कर रहे हों - ऐसी स्तिथि को विलम्बित स्खलन स्तिथि कहते हैI इसमें पुरुष की उम्र, सेक्स उत्तेजना और सेक्स करने में लिया गया समय - तीनो ही अहम भूमिका निभाते हैंI"
    आसान शब्दों में, देरी से स्खलन होना एक ऐसी परेशानी है जिसमे चाहते हुए भी और अधिक उत्तेजना होने के बवजूब भी पुरुष को स्खलन नहीं हो पाताI उत्तेजना बरकरार रहती है और बढ़ती रहती है लेकिन फिर भी  स्खलन नहीं होता और अगर होता भी है तो इतना धीरे की दोनों साथियों के लिए यह थका देने वाला अनुभव बन जाता हैI
    देरी से स्खलन होने वाली परेशानी में पुरुषों को लिंग तनाव में बिलकुल परेशानी नहीं होती लेकिन यूनि के अंदर कामुक उत्तेजना बरकरार रखने में परेशानी होती हैI कुछ पुरुष इसके बवजूब भी दृण्ड-निश्चय से हस्तमैथुन करके स्खलन करने में सफल हो जाते हैं लेकिन कुछ नहींI
  2. विलम्बित स्खलन कितनी आम परेशानी है?
    विलम्बित स्खलन को लेकर बहुत रिसर्च नहीं करी गयी है इसलिए ये अंदाजा लगाना मुश्किल है की यह कितनी आम परेशानी हैI लेकिन इतना ज़रूर पता है की यह उतनी असाधारण समस्या नहीं है जितना इसे समझा जाता गया हैI हाल ही मैं हुए एक गोपनीय इंटरनेट सर्वे में पता चला की यह समस्या करीब 12 प्रतिशत पुरुषों को है, जबकि सेक्स शोधकर्ता मास्टर्स और जॉनसन के अनुसार मध्य 20 वि शताब्दी में इनकी संख्या 4 प्रतिशत बताई गयीI
    बिलकुल सही अनुमान लगाना इसलिए भी मुश्किल है क्यूंकि पुरुष अधिकतर अपने सेक्स सम्बन्धी परेशानियों और कमज़ोरियों के बारे में बात करने से झिझकते हैं, क्यूंकि उन्हें लगता है की उनकी मर्दानगी का मज़ाक उड़ाया जायेगाI लेकिन, जैसे जैसे इन मुद्दों पर बातचीत होने का दबाव बढ़ रहा है और समझ बढ़ रही है, और साथ में रिसर्च भी हो, तो इस परेशानी का अनुमान लगाना और आसान हो जायेगाI
  3. सम्भवनीय शारीरिक वजह        
    शुरुवात करते हैं ड्रग्स सेI शराब और ड्रग्स (नशीले पदार्थ) अस्थायी विलम्बित स्खलन का कारण बन सकते हैंI साथ में डिप्रेशन की दवाई का इस्तेमाल भी ऐसा कर सकता है. इनका इस्तेमाल मस्तिष्क में सेरोटोनिन पर असर करता है और इसका असर सीधे स्खलन मसस्पैशियों पर पड़ता है, जिसकी वजह से सेक्स के दौरान ओर्गास्म हो पाना बहुत मुश्किल हो जाता हैI
    विलम्बित  स्खलन का एक कारण सनकीपन वाला हस्तमैथुन भी हो सकता है, जैसे की ऐसा हस्तमैथुन जिसमे लिंग पर बहुत प्रेशर डालना, हाथों से बहुत तीजी से लिंग को ऊपर नीचे करना और बिना चिकनापन के सम्भोग करनाI ऐसा अधिकतर लड़के किशोरावस्था में करते हैं और इसलिए शरीर को और लिंग को आदत हो जाती है बहुत तेज़ तरीके से उत्तेजना कीI इसलिए नार्मल उत्तेजना उनको चरम तक पहुचने में परेशानी देता हैI और हाँ, लिंग से जुडी कोई चोट या ऑपेरशन या बीमारी भी विलम्बित स्खलन का कारण बन सकती हैI इसमें स्पाइनल कॉर्ड पर चोट, श्रोणि सम्बन्धी ऑपेरशन, स्क्लेरोसिस,और डायबिटीज भी शामिल हैI
  4. सम्भवनीय मानसिक कारण
    ऐसे कोई भी रिश्ते सम्बंधित कारण जिनसे लोग अकेला महसूस करे या एक दूसरे से दूरी महसूस करें - ये भी विलम्बित  स्खलन का कारण बन सकते हैंI इसमें पूरी भावनाओं के साथ अपने साथी के साथ ना जुड़ पाना - शारीरिक और मानसिक दोनों तरीको से भी शामिल हैI रिश्तों में कड़वाहट, अपनापन ना होना और गुस्सा - सेक्स की छह पर बहुत असर डालता है - और कई बार इस हद तक की ओर्गास्म हो पाना मुश्किल हो जाता हैI
    कई लोगों में, विलम्बित  स्खलन एक दूसरे की तरफ आकर्षित ना हो पाने की वजह से भी हो जाता हैI कुछ और वजह भी हो सकती हैं जैसे पुराने अभिघातज घटनाएं, या ऐसी शिक्षा की सेक्स गलत चीज़ हैI गर्भवती होने का डर, या अपने साथी को पूरी तरह संतुष्टि दे पाने का डर भी इसके कारण हो सकते हैंI  
    पोर्न भी इसका ज़िम्मेदार हो सकता है, अधिकतर उनके लिए जिनको उत्तेजना के लिए पोर्न देखने की आदत पड़ जाती हैI ये इसलिए भी क्यूंकि पोर्न में दिखाई जाने वाली उत्तेजना सचाई से बहुत अलग होती है और एक कल्पनाओं का संसार होती है और असल ज़िन्दगी में सेक्स इस तरह का नहीं होताI इसलिए लोग अपने खुद और अपने साथी की सेक्स श्रमता पर सवाल उठाने लगते हैं और इसलिए नार्मल सेक्स के दौरान उन्हें उत्तेजना नहीं महसूस होतीI
  5. आप क्या कर सकते हैं?
    आप इस देरी से  स्खलन की परेशानी के बारे में क्या कर सकते हैं - ये इसपर निर्भर करता है की क्या आप ऐसा होने के कारण को जानते हैं - चाहे वो शारीरिक हो, या मानसिक या भावनात्मकI यह आप पर, आपके साथी पर और आपके डॉक्टर पर निर्भर करता है की आप इन कारणों को जानकर इनसे बाहर निकलने की कोशिश करते हैंI
    अगर आप डिप्रेशन या उत्सुकता की दवाई ले रहे है जो की विलम्बित स्खलन का कारण बन गयी है, तो अपने डॉक्टर से मिलकर ऐसी दवाई मांगिये जिसका असर आपकी कामुक इच्छाओं और उत्तेजना पर ना पड़ेI
    फिर, आपको उन स्तिथियों के बारे में सोचना होगा जो आपको उत्तेजित और  स्खलन करने में कारगर साबित होती हैI एक सेक्स थेरेपी के अनुसार हस्तमैथुन का करना विलम्बित  स्खलन परेशानी ख़त्म करने में मदद करता हैI इसमें पुरुषों को सिखाया जाता है की अपने साथी के साथ मिलकर हस्तमैथुन करने की कोशिश करे - ताकि सही गति और कलपनाओं के साथ लिंग को सहलाने से, शरीर को चरम तक पहुचने में मदद मिलेI कुछ और लोगों के लिए, लगातार हस्तमैथुन ना करना मददगार साभित होता है, ताकि अपने साथी के साथ सम्भोग करते समय वो बहुत ज़्यादा उत्तेजना महसूस कर सकेI
    विलम्बित  स्खलन के लिए अधिकतर परेशानी एक साथी को अपने दूसरे साथी से होती हैI इसलिए दोनों साथियों को एक दूसरे को समझना बहुत ज़रूरी होता हैI अगर आप दोनों के बीच कुछ परेशानियां हैं तो इन्हे सुलझाना बहुत ज़रूरी है, और फिर एक दूसरे की तरफ आकर्षण बढ़ाने की कोशिश करना ज़रूरी हैI एक दूसरे को क्या उत्तेजित करता है और क्या नहीं ये जानना और उनके लिए वो करने की कोशिश करना मददगार साबित होता हैI

क्या आप ऐसे किसी व्यक्ति को जानते हैं जिन्हे देरी से  स्खलन होने की समस्या थी? अगर हाँ, तो उनका अनुभव क्या था? यहाँ लिखिए (बिना अपना नाम बताये) या फेसबुक पर हो रही चर्चा में हिस्सा लीजियेI

क्या आप इस जानकारी को उपयोगी पाते हैं?

Comments
नई टिप्पणी जोड़ें

Comment

  • अनुमति रखने वाले HTML टैगस: <a href hreflang>