Woman climaxing and grabbing the sheets
Shutterstock / volkovslava

राज़ से पर्दाफ़ाश: कैसे कुछ महिलाओं को ज़्यादा ओर्गास्म होते हैं?

द्वारा Sarah Moses मई 12, 03:11 बजे
अपनी पति की तरह ओर्गास्म के मज़े लेना चाहती हैं? एक नयी रिसर्च ने बताया की आप दोनों इसके लिए क्या कर सकते हैंI

विषमलैंगिक पुरुषों की तुलना में विषमलैंगिक महिलाओं के ओर्गास्म अक्सर कम होते हैंI शोधकर्ता इसे 'संभोग अंतर' कहते हैं, और ज़ाहिर है की यह एक अच्छी बात नहीं हैI मज़ेदार बात यह है कि संभोग अंतर का यह अकेला उदाहरण नहीं है क्यूंकि समलैंगिक महिलाओं को भी विषमलैंगिक महिलाओं की तुलना में अधिक ओर्गास्म होते हैं और विषमलैंगिक पुरुषों को समलैंगिक महिलाओं से भी ज़्यादाI

इस अंतर को ख़त्म करने के लिए और यह जानने के लिए कि यह आखिर होते क्यों हैं, अमरीकी शोधकर्ताओं के एक समूह ने 30 विभिन्न लक्षणों और व्यवहारों की एक सूची बनाई जिनका सम्बन्ध ओर्गास्म से थाI सेक्सी अंतर्वस्त्र पहनना, यह बताना कि बिस्तर में आप क्या चाहते हैं, और मुख मैथुन जैसी चीज़ें इस सूची में शामिल थीI इसके बाद शोधकर्ताओं ने 50,000 से अधिक विषमलैंगिक, उभयलिंगी, और समलैंगिक पुरुषों और महिलाओं से यह पूछा कि पिछले महीने सेक्स करते हुए उन्हें कितनी बार चरमोत्कर्ष की प्राप्ति हुई थी और इन 30 में से कितने लक्षण और व्यवहार उस यौन क्रिया का हिस्सा थेI

खूब सारा मुख मैथुन

अगर यौन क्रिया के दौरान चरमोत्कर्ष या ओर्गास्म की बात करें तो सर्वे ने दर्शाया कि विषमलैंगिक पुरुषों में यह आंकड़ा 95 प्रतिशत था जबकि केवल 65 प्रतिशत विषमलैंगिक महिलाओं को ही यौन क्रिया के दौरान ओर्गास्म का सुख नसीब हुआ थाI अगर बात करें समलैंगिक महिलाओं यानी लेस्बियन महिलाओं की तो वहां यह संख्या 86 प्रतिशत पायी गईI

तो ऐसा क्या हैं जो यह लोग अलग करते हैं जिससे इन्हे लगभग हर बार ओर्गास्म की प्राप्ति हो जाती है? मुख मैथुन: जी हाँ, सर्वे ने बतया कि विषमलैंगिक पुरुषों को छोड़कर सभी यौन अभिमुखताओं वाले लोग मुख मैथुन को पसंद करते हैंI अध्ययन से यह भी पता चला कि जिन महिलाओं को लगभग हर बार ओर्गास्म हुआ था यह वो थी जिनके साथी उनके साथ मुख मैथुन करती थेI

वैसे तो ओर्गास्म के लिए मुख मैथुन महिलाओं के लिए राम बाण का काम करता था, लेकिन रिसर्च से यह भी पता चला कि जो लोग अपनी यौन क्रिया में विभिन सेक्स मुद्राओं का इस्तेमाल करते थे उनके लिए भी ओर्गास्म पाना कोई टेढ़ी खीर नहीं थाI

ओर्गास्म का फॉर्मूला

शोधकर्ताओं को यह जानने की उत्सुकता थी कि क्या ऐसा कोई जादुई फॉर्मूला है जो यह सुनिश्चित कर सके कि एक महिला को ओर्गास्म होकर रहेगाI मज़ेदार बात देखिये कि उन्हें एक फार्मूला मिल भी गयाI जो था: मुख मैथुन के साथ योनि में उँगलियों का इस्तेमाल और लम्बे गहरे चुम्बनों का मिश्रणI अध्ययन करने पर पता चला कि उन 80 प्रतिशत महिलाओं को ओर्गास्म के सुख की प्राप्ति हुई थी जिनके पुरुष साथी ने यौन क्रिया के दौरान इन तीन चीज़ों के संयोजन का इस्तेमाल किया थाI

निस्संदेह ओर्गास्म होना सिर्फ़ सेक्स कैसा है उसी पर निर्भर नहीं करता बल्कि इससे सम्बंधित कई और पहलु भी हैं, जैसे आप अपने रिश्ते में कितने संतुष्ट हैंI और यह भी कि आप दोनों के बीच संवाद कितना सहज हैI जो महिलाएं अपने सहयोगियों की प्रशंसा करती हैं और उन्हें यह बता पाने में सक्षम रहती हैं कि उन्हें बिस्तर में क्या चाहिए वे नियमित रूप से ओर्गास्म के मज़े उठा पाती हैंI

इसके अलावा, अध्ययन में यह भी पाया गया कि ज़्यादा ओर्गास्म होने का इस बात से बहुत गहरा ताल्लुक है कि आप अपनी कामुकता के साथ कितने सहज हैं और सेक्स के दौरान या उससे पहले किस हद तक प्रयोग करने के लिए तैयार हैं- मतलब यह कि क्या आप सेक्सी अंडरवियर पहनने और फ़ोन पर कामोत्तेजक बातचीत करने के लिए तैयार हैं? क्या आपको गुदा मैथुन पसंद है या एक बार कोशिश करना चाहते हैं? क्या आप सेक्स कल्पनाओ को असली ज़िंदगी में करने के बारे सोचते हैं? अगर इन सभी या कुछ बातों के जवाब हाँ हैं तो यह पक्का है कि आपके सेक्स जीवन में ओर्गास्म ईद का चाँद नहीं है बल्कि रोज़ मर्रा की बात हैI रहत की साँस लीजिये जनाब, आप उन खुशनसीब लोगों में से हैं जिनके लिए ओर्गास्म दूर के ढोल सुहावने वाली बात नहीं हैI

महिलाओं के ओर्गास्म बेहतर और ज़्यादा बनाने के लिए 10 मुख्य सुझाव

माफ़ कीजियेगा ऐसा कुछ भी नहीं होताI हमें गलत मत समझिये, हमारे कहने का मतलब है कि ज़रूरी नहीं कि ऐसा करने से आपके ओर्गास्म में बढ़ोतरी होगी लेकिन यह निश्चित है कि इन गतिविधियों को ध्यान में रखने से फ़ायदा ज़रुर होगा I वैसे भी कोशिश करने से नुकसान तो होगा नहीं तो क्यों ना इन्हे आजमा के देख ही लिया जाएI

जिन महिलाओं को ज़्यादा ओर्गास्म होते हैं:

  1. वे ज़्यादा मुख मैथुन करती हैं
  2. लम्बे समय तक सेक्स करती हैं
  3. अपने रिश्ते में खुश हैं
  4. बिस्तर में अपनी पसंद के प्रति स्पष्ट रहती हैं और अपने सहयोगी के अच्छे प्रदर्शन के लिए उनकी प्रशंसा भी करती हैं
  5. ईमेल या फ़ोन के ज़रिये कामुक सन्देश भेजती हैं
  6. सेक्सी अंतर्वस्त्र पहनती हैं
  7. नयी नयी सेक्स मुद्राएं आजमाने का शौक रखती हैं  
  8. गुदा मैथुन को भी आजमाती हैं
  9. सेक्स कल्पनाओं को असल में करने की कोशिश करती हैं
  10. सेक्स के दौरान कामुक बातें भी करती हैं और अपने सहयोगी पर खूब प्यार लुटाती हैं

सन्दर्भ: डिफरेंसेस इन ओर्गास्म फ्रीक्वेंसी अमंग गे, लेस्बियन, बाईसेक्शुअल, एंड हेट्रोसेक्शुअल मेन एंड वोमेन इन यू.एस. नेशनल सैंपलI आर्च सेक्स व्यवहारI (2017)

ओर्गास्म न होने से परेशान हैं? हमारे फोरम जस्ट पूछो का हिस्सा बनेंI

Comments
Add new comment

Comment

  • Allowed HTML tags: <a href hreflang>