Female orgasms
Aleksey Klints

महिला ओर्गास्म: पुरुषों की रिपोर्ट कॉर्ड

द्वारा Kate R मार्च 8, 01:00 पूर्वान्ह
अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में हमने कुछ महिलाओं से पूछा कि उनके सेक्स को मज़ेदार बनाने में और उन्हें चरमानंद तक पहुँचाने में उनके पुरुष साथी कितना योगदान देते हैंI पढ़िए कुछ चटपटी प्रतिक्रियाएं..

गलती से!

मेरा पहला ओर्गास्म हुआ था जब मैं अपने पति के साथ सेक्स कर रही थीI जबकि वो गलती से हुआ था लेकिन मेरे पति ने माना कि वो मेरे लिए सबसे आनंदायक अनुभव थाI

स्वभाव से शर्मीली होने की वजह से मैं उन्हें कभी भी नहीं बता सकी कि मुझे सेक्स के दौरान क्या पसंद है लेकिन मैं उन्हें इस बात की शाबाशी देनी चाहूंगी कि उन्होंने कभी हिम्मत नहीं हारी और उनकी कोशिश हमेशा ही यह पता लगाने की होती थी कि मुझे क्या अच्छा लग रहा हैI

अब तो वो मुझे लगभग हर बार ओर्गास्म के मज़े देते हैं और मेरे लिए इससे अच्छा क्या हो सकता हैI

-दीपिका (32), सोशल वर्कर

तनाव का कारण

जब मैंने और मैंने बॉयफ्रेंड ने सेक्स करना शुरू किया तो उसे मेरे ओर्गास्म के बारे में ज़्यादा कुछ अंदाज़ा नहीं थाI शुरुआती कुछ कोशिशों के बाद मैंने उसका मार्गदर्शन करना शुरू किया जिससे उसे  उसकी काफ़ी मदद मिलीI हाँ यह बात अलग है कि उसकी हमेशा यही शिकायत होती थी कि 'तुम्हे इतनी देर क्यों लगती है'I

शायद यही वजह थी कि थोड़े दिन बीतने के बाद उसने वो 'मेहनत' करनी बंद कर दीI इस वजह से हमारे रिश्ते में इतना तनाव बढ़ गया कि कुछ ही समय बाद हमारा ब्रेकअप हो गयाI अभी कुछ महीने पहले ही उसने मुझसे अपनी गलती के लिए माफ़ी माँगी और मैंने भी उसे दोबारा मौक़ा देना ठीक समझाI

शुरू शुरू में तो उसने बड़ा प्यार दिखाया और सेक्स के दौरान भी मेरी ज़रूरतों का ख्याल रखा लेकिन कुछ महीनों के बाद वो शायद फ़िर से इस लंबी प्रक्रिया से 'थक' गयाI इस बार मेरे पास उसे हमेशा के लिए छोड़ देने के अलावा कोई चारा नहीं थाI

-निकिता (26), जर्नालिस्ट

 

 

सेक्स सिर्फ़ पुरुषों के लिए है

मैं एक लड़के को डेट कर रही थी जिसे शायद पता ही नहीं था कि लड़कियों को भी ओर्गास्म हो सकते हैंI उसके लिए सेक्स का मतलब ओर्गास्म तो था, लेकिन सिर्फ़ उसका ओर्गास्मI

वो ज़बरदस्ती मुझसे मुखमैथुन भी करवाता था लेकिन ऐसा कभी उसने मेरे लिए नहीं कियाI एक दिन ऑफिस में हुए एक वाकये की वजह से मेरा मूड ऑफ था और उसने मुझे उसके घर आने को कहाI मुझे लगा था कि उसे मेरी फ़िक्र है इसलिए बुला रहा है लेकिन उसे तो सिर्फ़ सेक्स करना थाI

जब मैंने कहा कि मेरा मन नहीं है तो उसने कहा कि कम से कम  'ब्लो जॉब' (मुख मैथुन) तो दोI मैंने मना किया तो वो मुझसे गुस्सा हो गया I

करीब बीस मिनट के बाद उसके कुछ दोस्त वहां आये तो मुझे पता चला कि इन लोगों का पहले से ही बाहर जा कर पार्टी करने का प्लान था और मेरे महाशय को लगा कि क्यों ना जाने से पहले अपनी हवस ही मिटा लेंI उसके लिए सेक्स शायद सिर्फ़ लड़को के लिए ही बना है! उस दिन के बाद मैं उस लड़के से कभी नहीं मिलीI

-अराधना (27), पब्लिशर

अहम् को ठेस ना लगे

इस बारे में मेरे अनुभव बहुत अच्छे रहे हैं लेकिन इसके बावजूद मुझे लगता है कि लड़के हम लड़कियों को संतुष्ट करने के बारे में उतना नहीं सोचते जितना उन्हें सोचना चाहिएI और अगर उन्हें कुछ सुझाव दिए जाएँ तो उनके अहम् को ठेस पहुँच जाती हैI

मेरी नज़र में फोरप्ले भी कम रोमांचक नहीं है लेकिन ओर्गास्म की बात ही कुछ और हैI

-प्रीती (30), बिज़नेसवोमेन

महिला ओर्गास्म से जुड़े पांच मुख्य तथ्यों के बारे में जानने के लिए यहाँ क्लिक करें!

हर बात का ख्याल

मैंने अब तक तीन पुरुषों के साथ सेक्स किया है और तीनों में से किसी के भी साथ मुझे ओर्गास्म का सुख नसीब नहीं हुआ हैI मेरा आख़री बॉयफ्रेंड तो सेक्स करते करते रुक ही जाता था क्योंकि उसे थकान हो जाती थीI कई बार वो परेशान भी हो जाता था और कहता था कि सब मेरी गलती हैI

मैं इतनी हताश हो गयी थी कि मुझे लगता था कि मुझे सेक्स के दौरान कभी भी ओर्गास्म नहीं होगाI लेकिन फ़िर मैं एक बहुत अच्छे लड़के से मिलीI

उसने खुलने में थोड़ा समय ज़रूर लिया लेकिन धीरे धीरे मैं जान गयी थी कि वो मुझे कितना पसंद करता हैI वो मेरी हर बात समझ जाता था और उसके साथ सेक्स करने में भी बड़ा मज़ा आता थाI उसे जैसे पता होता था कि मैं क्या चाहती हूँ और वो वही करता थाI हम तीन साल साथ रहे थे लेकिन फ़िर हमारा ब्रेकअप हो गयाI

मुझे दोबारा वैसा अनुभव फ़िर नहीं मिलाI एक दो बार लगा कि शायद बात बन जाएगी लेकिन वो सब एक मृगतृष्णा ही निकलाI मुझे नहीं लगता कि कोई भी और उस की तरह मेरी छोटी छोटी ज़रूरतों और इशारों को समझ सकता हैI

अंकिता (27), आर्किटेक्ट

*सभी नाम बदल लिए गए हैंI ज़रूरी नहीं कि इस लेख में प्रकाशित सभी विचारों का लव मैटर्स समर्थन करता हैI

तो आपने अपनी महिला साथी को चरम आनंद देने के लिए क्या सब किया है? अपनी कहानी फेसबुक के ज़रिये या नीचे लिखकर हम तक पहुंचाएंI अगर आपके मन में कोई निजी सवाल हो तो हमारे  चर्चा मंच का हिस्सा बनेंI

Comments
Add new comment

Comment

  • Allowed HTML tags: <a href hreflang>