break up recovering
© Love Matters | Rita Lino

टूटे दिल का इलाज

टूटे रिश्तों से मिले ज़ख्मो से उबरना बहुत आसान काम नहीं है। लम्बे समय तक अपने साथी के साथ रहते हुए आपकी जीवन शैली में कई बदलाव आ चुके होते हैं। इसमें कोई आश्चर्य नहीं कि किसी को छोड़ देने कि अपेक्षा किसी के द्वारा छोड़ दिया जाना अधिक पीड़ादायक होता है। आपके सम्मान को गहरी ठेस पहुँचती है। वैसे टूटे हुई रिश्ते दोनों सूरत में मुश्किल ही होते हैं।

ब्रेक-अप से उभरने के लिए टिप्स

इस बारे में सोचना सामान्य है। लेकिन इस सोच में डूब जाना आपको इस मुश्किल से बाहर नहीं निकलने देगा। अपनी गलतियों और अपने अतीत से सीखना अच्छी बात है। इस सोच से बाहर निकलना मुश्किल है लेकिन पूरे मन से प्रयास कीजिये और अपने दिमाग को दूसरी और लगाइये। धयन रहे कि आपका असल उद्देश्य इस सब से बाहर निकल कर फिर से सामान्य होना ही है।

●          अपने दोस्तों से मिलकर अपने दिल के भाव उनसे बांटिये। ये सच है कि दुःख बांटनें से ही काम होता है। शराब के जाम के साथ अपने दिल का गुबार निकाल देना सही इलाज है।

●          नकारत्मक भाव से बचिए। ये सामान्य है कि रिश्ता ख़त्म होने के बाद भी आपके मन में अपने पूरब साथी के प्रति गुस्सा होगा। उन् सभी चीज़ों को अपनी ज़िन्दगी से बाहर कर दीजिये जो आपको अपने अतीत कि याद दिलाती हैं। शायद इससे आपको मदद मिले।

●          अपने आप पर ध्यान दीजिये। अच्छी नींद,अच्छा भोजन और थोडा व्यायाम।. वो करिये जो कारण आप को हमेशा से पसंद था। शाम को टहलने जाइये, या फिर व्यस्त रहयने के लिए घर के काम में अपनी माँ का हाथ बांटिये।

●          कोई नया शौक विकसित करिये जैसे कि संगीत या कोई स्पोर्ट्स जैसे कि फुटबॉल इत्यादि। अपने दिमाग और शरीर को व्यस्त रखिये। व्यस्त रहना इस से बाहर निकल पाने का मूलमंत्र है।

 

 

● सकारत्मक सोच रखिये। सुनने में मुश्किल है, लेकिन सकारत्मक सोच आपकी मदद करेगी। प्यार फिर से मिलने कि कोई उम्र या समय नहीं होता।

● डिप्रेशन के संकेतों को ध्यान में रखें। और अगर आपको लगे कि आप में वो संकेत हैं तो बाहरी परामर्श लेने से बिलकुल न हिचकें। निचे लिखी हुई सूची से मदद लें:

● ड्रग्स या नशे कि और रुख बिलकुल न करें। इसने दूर रेह्कर ही आप अपनी मदद कर पाएंगे।

 और अंत में, यदि ज़रूरत महसूस हो तो निम्नलिखित में से किसी पेशेवर मनोवैज्ञानिक कि मदद लेना एक अच्छा उपाय होगा।

मदद के लिए संपर्क करें

Between Us: (044) - 32217731; Website: http://betweenus.bharatmatrimony.com/?page_id=16

NGO called ‘CONNECTING’ based out of Pune - Their helpline is open between 2 pm and 8 pm on 9922001122, and 18002094353 which is toll free. You can also email Connecting at [email protected] They receive most calls on break-ups in their relationships, mental illness distress and even problems in marriage.

24-hour 14-state helpline, 022-25706000 run by St. Stephen’s Hospital and Emmanuel Hospital Association in Delhi – aimed at young people facing problems with their parents, relationships, career etc.

Sumaitri: (011) 23710763

SNEHI: (011) 65978181

Swaasthya: (011) 26274690

Depression Helpline: (011) 55258383

IFSHA – Interventions For Support Healing & Awareness: (011) 26253289

क्या आप इस जानकारी को उपयोगी पाते हैं?

Comments
Beta jee, sabse pehel toh yeh bata doon ki Pyaar se koi nahin mar aaaj tak – bhookh, pyaas, suicide… ya phir pathar se majnu ko maar daala duniya ne… !! So please zinda rehene ke liye ready rahiye. Aapki umr kya hai? Kya aap logo ki padhai waghera complete ho gai? Isliye samjhdaari bhare kadam utahiye, aapki GF ka kya kehna hai iss par. Shaanti se poori baat hamse share kijiye. Saath hee yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain toh hamare disccsion board “Just Poocho” mein zaroor shamil hon! https://lovematters.in/en/forum https://lovematters.in/hi/resource/love-and-relationships
mam main ek ladke se bahut pyar krti hun hum log 3 saal relation me rhe nd dono alg cast ke hai pr usne mujhe dhoka diya ab breakup ho gya main use bhula nhi pa rhi ab bhi uska sath chahti hun pr wo bat hi ni kr rha. kya kru. meri fmly bhi accpt ni kregi.
Me ak ladake ke sath pichle 3 sal se relesionship me hu phle hum dost the bate krte krte mohbbt ho gai ab mujhe uski adat si ho gai hai ab WO mujhse figicaly relesoin chahta h m bhi teyar hun par ab WO chidta h khta hain tum alg m bhi alg hmare raste alg mere alawa bhi kisi or ldki se bat nahi krta me deferesion me hu kya karu pliz sujaw de
auntyji abhi 7-8 din pahle meri gf ne meri ek dost se kaha tha ki wo mere sath relation nahi rakhna chahti bu me usse bhot pyar krta hu... Aj bhi jb maine usse bat krne ki koshish ki to usne mujhe kuch bhi nahi bataya... Ab aap hi batayiye ki me kya kru???
नई टिप्पणी जोड़ें

Comment

  • अनुमति रखने वाले HTML टैगस: <a href hreflang>