Gaylaxy

All stories

मैं गे और 'नार्मल' हूं - बिलकुल आपकी तरह!

यौन विभिन्नता
‘अब जब मैं मंदिर जाता हूँ तो भगवान से अपने आप को ‘नॉर्मल’ बनाने की प्रार्थना नहीं करता, क्योंकि मुझे पता चल चूका है की मैं ‘नॉर्मल’ हूँ, और लोगों की सोच गलत है,’ अंश ने गैलक्सी वेबसाइट से कहा। आइये उसकी कहानी पढ़ते हैं।

मैं उसे चाहता था, उसको वह लड़की पसंद थी

यौन विभिन्नता
बचपन से ही करण को अपना दोस्त इतना अच्छा लगता था कि उसे कभी भी इस बात का अहसास ही नहीं हुआ कि कब उसकी चाहत प्यार में बदल गई। लेकिन उसके दोस्त को एक लड़की से प्यार हो गया। तब कारन ने क्या किया। जानने के लिए कहानी पढ़ें।

'रूममेट्स तो कपल्स होते हैं'

यौन विभिन्नता
जब पार्थ ने इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के लिए अपना घर छोड़ा, तो वह इस बात को लेकर आशंकित था कि उसका रूममेट हॉस्टल में कौन होगा। उनके पिता ने उन्हें आश्वस्त किया कि रूममेट कपल की तरह हैं। जब वह सचमुच किसी स्थिति में फंस जाता है तो क्या होता है?

'अपनी क्लास के सामने सच बताना'

यौन विभिन्नता
अर्नव अपनी पहचान को ले कर हो रहे उत्पीड़न और मजाक से थक चुका था। एक दिन उसने अपनी सच्चाई पूरी क्लॉस के सामने बता दी। आगे क्या हुआ? अर्नव ने अपनी कहानी गेलेक्सी वेबसाइट के साथ साझा की।