Nobody wants a stale sex life
Love Matters

एक बेहतर सेक्स जीवन की और कैसे कदम बढ़ाएं

चाहे आप किसी के साथ काफ़ी समय से हैं या एक नया रिश्ता जुड़ा है, सेक्स के बारे में बात करना अच्छा है। कभी-कभी हम कुछ नया करना चाहते हैं और उसके लिए बात करना ज़रूरी है। छोटे-छोटे बदलाव भी बड़ी खुशियाँ दे देते हैंI
  •  पहले इस बात पर गौर करें कि आपको अपने साथी कि कौनसी बात पसंद हैI क्या वो बेहतरीन चुम्बन देने में माहिर हैं? क्या वो मुखमैथुन में पारंगत हैं? पहले उनकी खूबियों के बारे में बात करें और फ़िर बात आगे बढ़ाएं। उदाहरण के तौर पर:

            'मुझे बहुत मज़ा आता है जब तुम मुझे किस करते हो। क्या तुम मेरी गर्दन पर भी अपने होठों का जादू बिखेर सकते हो?'

           'वैसे तो तुम जब नीचे जाते हो तो मैं बदहवास सी/सा हो जाती/जाता हूँ लेकिन मैं सोच रहा/रही था/थी कि मज़ा आएगा अगर....

  • समय लें- अपने सारे सुझाव और शिकायतें एक ही बार में अपने साथी के सामने मत रखेंI धीरे-धीरे अपने विचार प्रस्तुत करें। इस तरीके से आप एक-एक कर के उन्हें आजमा कर देख सकते हैं और आप यह भी जान पाएंगे कि आप दोनों के लिए या सबसे बढ़िया है। इसके अलावा इस बात का अंदाजा तो आपको भी नहीं होगा कि साथ मिलकर आप दोनों और क्या-क्या रोमांच के पिटारे खोल सकतें हैंI
  •  धीरे-धीरे कदम बढ़ाएं- नयी चीज़ें आजमाना अच्छी बात है लेकिन धीरे-धीरे कदम बढ़ाएं आप एक पंख के सहारे अपने साथी को गुदगुदी का एहसास करा सकते हैं और अगर आप दोनों को ही इसमें मज़ा आएं तो अगली बार आँखों पर पट्टी बाँध कर सेक्स के इस खेल का मज़ा लें सकते हैं। इस चीज़ का ख्याल रखें कि जो भी हो रहा उसमें आपके साथी को भी मज़ा आ रहा हैI
  •  जब बात हो बैडरूम में बदलाव करने की तो इस बात पर ज़रूर गौर कर लें कि आप कैसे चाहेंगे कि आपका साथी इस बारे में आपसे कैसे बात करेंI उनसे पूछ लें कि आप किस तरह उनसे बात करें जिससे उन्हें बुरा न लगें और वो परेशान ना होI
Woman with her lover
MaxFX
  • - कुछ ऐसे प्रस्ताव रख सकते हैं जो काम आप दोनों साथ कर सकें। आप कुछ ऐसे बात शुरू कर सकते हैं, 'मैं सोच रहा था/थी कि हम कुछ ऐसा क्यों ना करें...'
  • - यह जानने की कोशिश करें कि जो आप कर रहे हैं उससे आपका साथी खुश है या नहीं और उन्हें भी कुछ नए सुझाव रखने का पूरा मौक़ा दें। जैसे कि:

           'जब हम सेक्स कर रहे होते हैं तो तुम्हे सबसे अच्छा क्या लगता है?'

          "क्या मेरा .....करना तुम्हे पसंद आएगा?'

          - 'तुम्हें क्या लगता है? क्या हम कुछ अलग कर सकते हैं?'

  • उनका मार्गदर्शन करें। क्यूंकि आपका साथी आपका दिमाग नहीं पढ़ सकता तो वो यह नहीं जान पायेगा कि आपके मन में क्या चल रहा है। इसलिए आपको उसकी मदद करनी होगी। उदाहरण के तौर पर आप उनके हाथ और मुँह को उन ख़ास 'जगहों' का रास्ता दिखा सकते हैं और उनके पास भी यह अवसर होना चाहिए कि ज़रूरत पड़ने पर वो भी आपका मार्गदर्शन कर सकेंI

          'मुझे बड़ा मज़ा आता जब तुम मुझे छूते होI और अच्छा होगा अगर तुम्हारा स्पर्श हल्का/तेज़/धीरे होगा'

अगर आपका साथी कुछ ऐसे सुझाव देता है जो आपको पसंद नहीं आते तो क्या करें

अगर आपका साथी आपसे चीज़ें बदलने या कुछ नया आज़माने को कहता है तो उन्हें सुनने की आदत डालें। उनकी बात का मज़ाक उड़ाना या उनकी सुनाई किसी निजी इच्छा या कहानी पर अपनी राय व्यक्त करना आप दोनों के सम्बन्ध के लिए अच्छा नहीं होगा। आप अपनी सोच खुली रखेंI हर व्यक्ति अलग है, उनके अनुभव अलग है और उनकी पसंद-नापसंद भी अलग है...

अगर आप उनके द्वारा दिए गए सुझाव से पूरी तरह से असहमत है तो उन्हें समझाएं कि आप को उनके सुझाव क्यों पसंद नहीं आएं और कोशिश करें कि उन्हें एक मज़ेदार विकल्प देंI

'मुझे गुदा मैथुन से डर लगता है क्यूंकि मुझे लगता है वो बहुत कष्टदायक होगा पर मुझे बहुत अच्छा लगेगा अगर तम मेरे नितम्बों को प्यार से सेहलाओगे!'

कहने का तात्पर्य यह है कि आप दोनों जितना सेक्स के बारे में एक दूसरे से बात करेंगे आप दोनों को उतना ही ज़्यादा मज़ा आएगाI

एक नए रिश्ते में सेक्स की शुरुआत कैसे करें

सब कुछ बहुत अच्छा है, आप अपने नए रिश्ते में बेहद खुश हैं और आपको लगता है कि आप एक दूसरे के साथ अंतरंग हो सकते हैं। अगर आप चाहते हैं कि आप दोनों के बीच शारीरिक समबन्ध स्थापित हो तो इस बारे में अपने साथी से बात करने के लिए ऐसा समय चुनें जब वहां सिर्फ़ आप दोनों हो- जैसे कि फिल्म देखने के बाद, या रात के खाने के बाद। कोशिश करें कि इस बारे में बात नशे की हालत में ना करेंI

बात करते समय एकदम खुश दिखें और अपने साथी को यह विश्वास दिलाएं कि आप उन्हें प्यार करते हैं और उनकी बहुत इज़्ज़त करते हैं इसलिए अपना जीवन उनके साथ उनके साथ बिताना चाहते हैंI

'तुम इतनी/इतने सुन्दर हो कि अब मेरे लिए तुमसे दूर रहना मुश्किल हो गया हैI' 

'हम दोनों का आपसी तालमेल इतना शानदार है कि मुझे लगता है हमारे बीच में सेक्स भी बहुत ही बढ़िया होगा...'

इस बात पर भी ध्यान दें कि क्या वो भी तैयार हैं या उन्हें अभी कुछ और वक़्त चाहिएI

अपने साथी को यह बताना कि आपको कैसे खुश करें

अपने साथी के हाथों को उन ख़ास जगहों पर लें जाना और उन्हें यह निर्देश देना कि आप को कैसा स्पर्श पसंद है में कोई बुराई नहीं है और अगर आपका साथी भी ऐसा कुछ करते हैं तो यह ना सोचे कि जो आप कर रहे हैं उसमें कुछ गलत है या उन्हें अच्छा नहीं लग रहाI

आप को कैसा स्पर्श और कहाँ-कहाँ पसंद है यह अपने आप को खुद छूकर अपने साथी को दिखाइए- कोशिश करें कि शर्माएं नहीं, यह देखने में बहुत सेक्सी लगता हैI

अगर आपके साथी आपको बताते हैं कि वो आपसे क्या करवाना चाहते हैं तो उनकी बात पर हंसिए नहीं क्यूंकि उन्हें बुरा लग सकता है और वो अपनी इच्छाएं आपसे बांटना बंद कर सकते हैंI आप किस्मत वाले हैं कि उन्हें आप पर भरोसा है कि वो यह सब आपको बता सकते हैंI

वो क्या कर रहे हैं उन्हें देखें और उनके साथ अभ्यास करने की कोशिश करेंI अगली बार जब आप दोनों सेक्स करें तो उस क्रिया को भी जोड़ दें और अपने साथी से पूछें कि उन्हें कैसा लग रहा है और क्या आप कुछ और कर सकते हैं उसे और बेहतर बनाने के लिएI

'क्या यह अच्छा है? या तुम चाहते हो कि थोड़ा धीरे/हलके/ करूँ?'

Indian couple in bed
michaeljung

कई महिलाओं को सिर्फ़ सम्भोग से चरमोत्कर्ष की प्राप्ति नहीं होती। आपका शिश्न बहुत शानदार है लेकिन सेक्स की कई ऐसी मुद्राएं होती हैं जिनमे वो भंगाकुर तक नहीं पहुँच पताI और वो एक महिला के शरीर का सबसे ज़्यादा संवेदनशील हिस्सा है- शिश्न के सर की तरह। कई महिलाओं को चरमोत्कर्ष तब होता है जब उनकी योनि के ऊपर, अंदर और उसके आसपास की त्वचा को रगड़ा जाए। उनसे पूछें कि उन्हें क्या पसंद है, जिससे कि आप वो कर सकें और उन्हें असीम आनंद दें सकेंI

'मैं चाहता हूँ कि तुम्हें ओर्गास्म हो, मुझे बताओ कि मैं क्या करूँ?'

याद रखें कि उन्हें उत्तेजित करने के लिए आपको उनके अंदर प्रवेश करने की ज़रूरत नहीं हैI सेक्स करने से पहले एक दूसरे के शरीरों को जानने के लिए एक दूसरे को छूना, सहलाना और किस करना ही काफ़ी हैI

इसके साथ ही याद रखें-  कोशिश करने से ही आप बेहतर होंगे! तो अगर पहली बार में सब कुछ सही नहीं हो तो घबराइये नहीं। सेक्स का मतलब ही है नयी चीज़ें आजमाना और एक दूसरे को यह बताना कि उन्हें ये नया प्रयोग कैसा लग रहा है।

Comments
Add new comment

Comment

  • Allowed HTML tags: <a href hreflang>