arranged marriage
© Love Matters | Rita Lino

अरेंज्ड मैरिज

अरेंज्ड मैरिज (Arranged Marriage) के लिए कोई एक नुस्खा या नियम नहीं है, यह आपके परिवार की पृष्ठभूमि पर निर्भर करता है। कुछ संस्कृतियों में, लड़का या लड़की की विवाह योग्य उम्र होने पर उनके माता -पिता, रिश्तेदार या शादी तय करने वाला व्यक्ति, उसके लिए भावी साथी कि तलाश करते है।

वर और वधु का शादी वाले दिन से पहले तक एक दूसरे से मिलना और देखना हो सकता है और नहीं भी हो सकता है।लेकिन शादी का अंतिम निर्णय वर और वधु के माता-पिता पर निर्भर करता है।

कुछ परिवार इस को कुछ अलग ढंग से करते है। इसके माता -पिता या रिश्तेदार लड़के या लड़की के लिए योग्य जीवनसाथी तलाश करते है। इसके बाद वो एक दूसरे से उनक परिचय कराते हैं। एक दूसरे को पसंद करने और जानने के लिए वो दोनों एक या अधिक बार मिलते हैं। शादी उन दोनों पर निर्भर करती है कि वो एक दूसरे के बारे में क्या सोचते है, और दोनों ही तय करते है कि उन्हें शादी करनी चाहिए या नहीं। इस तरह का विवाह जिसमें परिवारजन लड़के और लड़की को मिलवाते हैं,और शादी का अंतिम निर्णय उन दोनों पर छोड़ देते है वह इंट्रोडॉउस ( introduced arranged marriages) अरेंज्ड मैरिज कहलाती है या सुसंगत विवाह

आजकल लोग जीवनसाथी की तलाश ऑनलाइन वैवाहिक वेबसाइट्स के माध्यम से करते हैं। ये वैवाहिक साइट्स डेटिंग साइट्स से भिन्न होती है, और इसलिए लोग डेटिंग पार्टनर के लिए नहीं बल्कि एक संभावित जीवन साथी के लिए पंजीकरण कराते हैं। एक बार जब आप वैवाहिक साइट्स पर पंजीकृत हो  जाते हैं, तो उसके बाद आप अपनी पसंद की जाति, धर्म, आर्थिक स्थिति और यहाँ तक की पेशे पर आधारित साथी का चयन कर सकते है।

भारत में कुछ लोकप्रिय वैवाहिक वेबसाइट है :  "http://bharatmatrimony.com" ,"http://jeevansaathi.com", "http://shaadi.com", "http://www.simplymarry.com"

 

ऑनलाइन अपने लिए साथी ढूंढने के लिए यह सुझाव ज़रूर देखें

शादी का मतलब शादी से जुड़े रीति-रिवाज़ निभाना या रस्मो में अच्छा वक़्त गुज़ारना नहीं है बल्कि यह तो जीवनभर की एक साझेदारी की शुरुआत है - और अगर आप अर्रंज मैरिज कर रहे हैं तो ऐसे व्यक्ति के साथ जिसे आप ढंग से जानते भी नहीं हैI                                                                                  

 

बहुत सी अर्रंज (arranged) शादियों में लड़का या लड़की अपने परिवार की इच्छाओं को पूरा करने के लिए दबाव का सामना करते हैं। यदि आप किसी से अरेंज्ड(arranged) शादी करने का विचार कर रहे हैं, तो यहाँ कुछ सुझाव दिए गए हैं जो इसमे आपकी मदद करेंगे:

 

● अपने आप से पूछें कि क्या आप शादी के लिए तैयार हैं।

आपके माता-पिता यह सोचते हैं कि आपकी उम्र शादी के लायक हो गई है, लेकिन क्या आप अपने जीवन में एक नए व्यक्ति को अपना पूरा समय देने (सौंपने) के लिए पर्याप्त रूप से तैयार हैं। अपनी जीवनशैली में होने वाले परिवर्तनों के बारे में सोचें। यह आपके सामाजिक और व्यावसायिक जीवन को किस प्रकार प्रभावित कर सकता है। क्या आप इन परिवर्तनों को सँभालने के योग्य हैं?

● अपनी नई जिम्मेदारियों के बारे में सोचें -

न केवल अपने साथी के प्रति बल्कि उनके परिवार और दोस्तों के प्रति भी। आपको सभी के साथ एक अच्छा रिश्ता कायम करना होगाI लोगों को आपसे उम्मीदें होंगी। क्या आप उन पर खरा उतरने के लिए तैयार हैं?

● पैसों या वित्त को लेकर बातचीत करें।

क्या आपका भावी जीवन साथी नौकरीपेशा होंगे? यदि नहीं तो क्या आप उनका भरण पोषण करने में सक्षम हैं?  परिवार के खर्चे क्या आप दोनों मिलकर उठायेंगे?  क्या आप दोनों ने इन सभी बातों को लेकर चर्चा की है?

● कोई भी निर्णय लेने से पहले अपने साथी पर मुलाकात के लिए आग्रह करें।

इसका बस इतना सा अर्थ है कि आप अपनी पूरी जिंदगी जिस इंसान के साथ गुज़ारना चाहते हैं उसे मिलें और यह जानने की कोशिश करें कि क्या आप दोंनो के व्यक्तित्व मेल खाते हैं।● जब आप अपने होने वाले साथी से मिले तो ईमानदार रहे। एक नए रिश्ते की शुरुआत जो जीवन भर का साथ बन सकता है, उसकी शुरुआत झूठ से ना करेंI उन्हें अपने पिछले जीवन के बारे में और भविष्य से जुडी अपनी उम्मीदों के बारे में खुलकर बताएं।

● उनकी बातें सुनें।

उन्हें अपने सामने खुलने का अवसर दें। स्थिति में तनाव को दूर करने की पूरी कोशिश करें।

● आप उनके बारे जो भी ख्याल रखें उन्हें ज़रूर बताएं

अगर आप को लगता है कि वो आपकी नज़र में एक संभावित जीवनसाथी नहीं हैं तो भी उन्हें और अपने परिवार को सूचित करेंI लेकिन इसके लिए आप अपने आप को कुछ समय देंI अक्सर, जब आप किसी से पहली बार मिलते हैं तो आप उसके व्यक्तित्व की कमियों को नहीं देख पाते हैं। एक दूसरे की ताकत और कमजोरियों जानने के लिए अपने आप को समय दें।

 ●अपने माता-पिता को कमियों के बारे में बताएं।

यदि आपके माता-पिता आपकी शादी किसी ऐसे व्यक्ति के साथ आना चाहते हैं जो आपकी नज़र में योग्य नहीं है, तो अपने माता-पिता को इस स्थिति के बारे में समझाए और उन्हें यह विश्वास दिलाए की आपके पास शादी करने यह आखिरी मौका नहीं

 

इस विषय पर और अधिक पढ़ने के लिए, अर्रंज मैरिज पर हमारे "शीर्ष पाँच तथ्य” की जाँच करें।  

 

क्या आप इस जानकारी को उपयोगी पाते हैं?

Comments
Hmm! aisa kyun ho raha hai? Kya aap koi aisi activity kar rahe hain jo ki unhe pasand nahi aa rahi hai? Sabse zaroori hoga ki aap unse pyar aur vishawas ke saath iski vajeh poochein, bina jhagda, bina aalochna. Tab hee aap anumaan laga saktey hain, hain na? Yeh bhi yaad rakhiye, ki sex mein HAAN karna ya NAA, yeh bhi unka haq hai, unka nirnay… so yadi who Na kartee hain, so ek baat to tay hi ki koi bhi zor ya zabardasti bilkul allow nahin ha, samjhe beta jee?! https://lovematters.in/en/news/my-wife-not-interested-sex https://lovematters.in/hi/resource/making-love https://lovematters.in/hi/news/how-can-i-please-my-wife-bed Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain toh hamare discussion board “Just Poocho” mein zaroor shamil hon! https://lovematters.in/en/forum
Ajay bete sabse zaroori hoga ki aap unse pyar aur vishawas ke saath iski vajeh poochein, tab hee aap anumaan laga saktey hain, hain na? zara yeh bhi padhiye : https://lovematters.in/hi/resource/making-love Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain to hamare disccsion board “Just Poocho” mein zaroor shamil ho! https://lovematters.in/en/forum
maim ji mai ik ladki se bohot pyaar karta hu vo mujhe had se jyada pasand hai vo bhi mujhe pasand karti hai agar ghar wale tayar ho jayenge tab vo mujhse shadi kar legi uske ghar wale tayar bhi hai itna pata hai maim ji mai apne ghar walo ko uske liye chhod sakta hu par vo mere liye apne ghar walo ko nahi chhod saktri hai to kya mai shadi kar lu ya na karu mere ghar wale mere khilaf hai shadi ko lekar please maim ji answer jaroor dijiyega please reply maim ji
Rahul bete isme samasya ho sakti hai. Isliye is bare mein apne pariwar walon se baat kijiye, pata lagayen unka kya kahna hai. Please koi bhi kadam uthane se pehle - jis mein caste, dharam, age, parents ka virodh jaisee stithi saamne aa rahee ho- apni family aur apne lawyer / vakeel/ local police thaane, aas-paas koi NGO se apne haq aur adhikaron ke baare mein poori jaankari lein. https://lovematters.in/hi/marriage/thinking-about-marriage/love-marriages Yadi aap is mudde par humse aur gehri charcha mein judna chahte hain to hamare discussion board “Just Poocho” mein zaroor shamil ho! https://lovematters.in/en/forum
नई टिप्पणी जोड़ें

Comment

  • अनुमति रखने वाले HTML टैगस: <a href hreflang>