18 + के लिए उचित

लड़कों का चरम आनंद या आर्गैज़्म

Man's hand grabbing sheet in orgasm
जब लड़के वास्तव में उत्तेजित हो जाते हैं तो उन्हें आर्गैज़्म महसूस हो सकता है- अर्थात् उनका वीर्यपात हो जाता है।

जब आप यौन उत्तेजना महसूस करते हैं तो आपका लिंग कड़ा और सीधा हो जाता है। जब आपको चरम आनंद महसूस होता है तो आपकी मांसपेशियां संकुचित होती हैं और वीर्यपात होता है - वीर्य, पीले-सफेद रंग का एक तरल होता है जो लिंग से बाहर निकलता है। लड़के जब हस्तमैथुन करना शुरू करते हैं तो अपने-आप आर्गैज़्म महसूस कर लेते हैं।

सेक्स के दौरान जब किसी लड़के का वीर्यपात हेाता है तो वह आगे-पीछे हिलना बंद कर देते हैं। इस समय अक्सर हिलना बहुत संवेदनशील होता है। चरम आनंद महसूस करने के बाद लिंग-मुंड अधिक संवेदनशील होता है। यदि आप इसे छूएं, तो बहुत असहज महसूस हो सकता है। जबकि लड़कियां अपना चरम आनंद महसूस करने के बाद भी कुछ देर तक आगे-पीछे किया जाना अक्सर पसंद करती हैं।