Her orgasms
© Love Matters

लड़कियों में चरम आनंद या आर्गैज़्म

जब किसी लड़की को चरम आनंद महसूस होता है, तो योनि और गुदा के आस-पास पेड़ू तल (पेल्विक फ्लोर) की मांसपेशियां एक साथ लयबद्ध तरीके से सिकुड़ती हैं, तनाव में आती हैं और ढीली पड़ती हैं।

कभी-कभार गर्भाशय भी सिकुड़ता है और फैलता है। इस संकुचन से पेडू़ में बहुत अधिक आनंद महसूस होता है।

कुछ लड़कियां तो यह आनंद अपने पूरे शरीर में महसूस करती हैं। यह चरम आनंद आपके पूरे शरीर को रोमांचित कर सकता है।

एक से अधिक बार आर्गैज़्म

लड़कियां एक साथ एक से अधिक बार आर्गैज़्म महसूस कर सकती हैं, जिनके बीच अंतर बहुत कम हो सकता है। ऐसा इसलिए संभव है क्योंकि आर्गैज़्म के 10 से 15 सेकेंड बाद टिठनी अपने सामान्य आकार में आ जाती है। और यह फिर से उत्तेजना के लिए तैयार हो जाती है। लड़कों को वीर्यपात के बाद सामान्य होने में इससे अधिक देर लगती है।

Visit our forum

आर्गैज़्म महसूस करते समय कुछ लड़कियों की योनि से तरल की धार निकलती है। यह पेशाब नहीं होती, बल्कि योनिस्राव योनि का तरल पदार्थ होता है।

लड़कियां किस प्रकार आर्गैज़्म महसूस कर सकती हैं ?

टिठनी को सहलाएं, उदाहरण के तौर पर उसे उंगली से या जीभ से महसूस कर ऐसा किया जा सकता है। अधिकांश लड़कियों को केवल योनि-सेक्स करने से आर्गैज़्म महसूस नहीं होता। क्योंकि योनि तुलनात्मक रूप से कम संवेदनशील होती है, और केवल योनि में लिंग के अंदर-बाहर होने से टिठनी को पर्याप्त उत्तेजना नहीं मिल पाती। उंगली से सहलाना और मुख मैथुन भी देखें।

जी-स्पोट

कुछ लड़कियों में जी-स्पोट भी मौज़ूद होता है। यह, योनि के तीन-पांच सें. मी. अंदर सामने वाली सतह पर सिक्के के आकार का एक क्षेत्र होता है। कुछ लड़कियों के लिए इसका कोई खास महत्व नहीं होता, लेकिन दूसरों के लिए यह विषेश संवेदनशील होता है। इसे उंगली द्वारा या कुछ विशेष आसनों में मैथुन करते समय उत्तेजित किया जा सकता है।

साथ-साथ चलना

क्या आपको लगता है कि आपके पुरुष साथी आपसे पहले आर्गैज़्म महसूस कर लेते हैं? यह पूरी तरह सामान्य बात है। अधिकांश लड़के, लड़कियों की तुलना में जल्दी आर्गैज़्म महसूस कर लेते हैं। एक-दूसरे के साथ-साथ चलने के लिए नीचे कुछ युक्तियां सुझाई गई हैं : ऽ सेक्स में जल्दबाजी न करें, और अपने साथी को स्पष्ट रूप से बता दें कि आपको क्या पसंद है।

ऽ नियंत्रण करना छोड़ दें जैसा चल रहा है चलने दें और उन्हें आपको छूकर आनंद लेने दें। आपको हमेशा उनके ऊपर ध्यान केंद्रित करने की ज़रूरत नहीं है। उनके द्वारा आपको सहलाए जाने पर उत्तेजित होता देखकर उन्हें भी यौन उत्तेजना महसूस होती है।

संवेदनशील स्थान

वास्तव में आपका पूरा शरीर आपको आनंद दे सकता है। लेकिन कुछ स्थानों पर जब छूआ जाता है तो आपको अधिक आनंद आता है। लड़कियों में ये स्थान उनकी वल्वा, योनि और टिठनी होते हैं। किंतु आपकी गर्दन, बाहें, स्तन और नितंब भी संवेदनशील होते हैं। लड़कियों तथा लड़कों के शरीर के संवेदनशील स्थानों के बारे में अधिक जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करें।

स्तन और सेक्स

स्तन और खासकर उनके निप्पल, छूने के प्रति संवेदनशील होते हैं और आपके उत्तेजित होने पर कड़े तथा बड़े हो जाते हैं। निप्पल के चारों ओर का घेरा फूल जाता है और उनका रंग अधिक गहरा हो जाता है, तथा वहां की चमड़ी ऊबड़-खाबड़ हो जाती है। कई लड़कियों को सेक्स के समय अपने स्तन और निप्पल सहलाया जाना पसंद है। आपके साथी ऐसा करने के लिए अपनी उंगलियों, होठों, जीभ या दांतों का भी प्रयोग कर सकते हैं। जब स्तनों को छुआ जाता है तो उसका असर आपको योनि में महसूस होता है, जिसमें चिकनाई या गीलापन आ जाता है। यदि आपके स्तनों और भग को साथ-साथ छुआ-सहलाया जाए, तो विषेश आनंद महसूस हो सकता है।

साथ-साथ आर्गैज़्म महसूस करना

क्या आप दोनों ने एक साथ आर्गैज़्म महसूस किया था? यदि ऐसा हुआ था, तो आप भाग्यशाली हैं! प्रायः एक साथ और्गैज़्म महसूस करना इतना आसान नहीं होता है। जब आपको आर्गैज़्म महसूस होता है तो अक्सर आप अपने बारे में सोच रहे होते हैं अपने साथी के बारे में नहीं। इस बात पर बहुत अधिक ज़ोर न दें।
यदि आप एक साथ आर्गैज़्म महसूस कर लेते हैं तो अच्छी बात है, लेकिन अपने साथी के बाद ऐसा होना और भी रोमांचक होता है। आप अपने साथी के हाव-भाव पर अधिक ध्यान केंद्रित कर सकते हैं, और उनको चरम आनंद महसूस करते हुए देखकर आनंद उठा सकते हैं।

सेक्स के बाद की यौन क्रिया

सेक्स करने के बाद एक-दूसरे के पास-पास लेटना, सहलाना और बातें करना अच्छा लगता है। खासकर कई लड़कियों को सेक्स के बाद की जाने वाली यौन क्रिया बहुत ज़रूरी लगती है।

Comments
Add new comment

Comment

  • Allowed HTML tags: <a href hreflang>